Tuesday, Jul 7 2020 | Time 20:17 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पश्चिम चंपारण में मोटरसाइकिल और ट्रक की टक्कर में दो की मौत
  • महाराष्ट्र में कोरोना के 5134 रिकॉर्ड नये मामले, 224 और की मौत
  • महाराष्ट्र में कोरोना मामले 2 17 लाख के पार, मृतकों की संख्या हुई 9250
  • शिअद से अलग होकर सांसद सुखदेव सिंह ढींडसा ने नई पार्टी का गठन किया
  • बुलंदशहर में 36 और कोरोना पॉजिटिव,संख्या पहुंची 801
  • खगड़िया में ट्रक से 149 कार्टन विदेशी शराब बरामद, चालक गिरफ्तार
  • राजनाथ ने सीमावर्ती क्षेत्रों में ढांचागत निमार्ण कार्यो की समीक्षा की
  • स्कूल प्रबंधक से रंगदारी मांगने के मामले में दो गिरफ्तार
  • हमीरपुर में सात और कोरोना संक्रमित,संख्या पहुंची 105
  • महाराष्ट्र सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी: राउत
  • बिहार में चार सड़क को फोरलेन करने की निविदा जारी : नंदकिशोर
  • रामगढ़ के सात थानों में महिला डेस्क की स्थापना होगी
  • गोरखा समाज के कण-कण में देशभक्ति : दीपक
  • तरुण की मौत की न्यायिक जांच की मांग को लेकर पत्रकारों का प्रदर्शन
  • राजद के प्रदेश उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा देने वाले विजेंद्र यादव जदयू में शामिल
राज्य » बिहार / झारखण्ड


सोरेन परिवार आदिवासियों की जमीन लूटकर बना जमींदार : रघुवर

सोरेन परिवार आदिवासियों की जमीन लूटकर बना जमींदार : रघुवर

चक्रधरपुर 16 नवंबर (वार्ता) झारखंड के मुख्यमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता रघुवर दास ने झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के अध्यक्ष शिबू सोरेन एवं उनके परिवार के सदस्यों पर आदिवासियों की जमीन लूटकर जमींदार बनने का आरोप लगाते हुए आज कहा कि इस परिवार ने गरीबों के कल्याण एवं राज्य के विकास के लिए आज तक कुछ भी नहीं किया।

श्री दास ने यहां भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ के नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य के लोगों को एक बार पुनर्विचार अवश्य करना चाहिए कि उन्होंने प्रदेश की बागडोर झामुमो को सौंपी तो इसके बदले में उन्हें क्या-क्या मिला। उन्होंने कहा कि खुद को गरीबों और आदिवासियों का चैंपियन बताने वाले झामुमो ने उनके लिए कभी कुछ नहीं किया। साथ ही झामुमो ने राज्य के लोगों की पहचान और संस्कृति की भी रक्षा नहीं कर पाया।

भाजपा नेता ने आरोप लगाते हुऐ कहा कि सोरेन परिवार ने आदिवासियों की जमीनें लूटीं, राज्य का बालू बेच दिया और छोटानागपुर काश्तकारी एवं संथालपरगना काश्तकारी अधिनियम के प्रावधानों का उल्लंघन कर जमींदार बना है। उन्होंने कहा कि यह कोल्हान प्रमंडल की जनता को निर्णय करना है कि उनका शुभचिंतक कौन है। जनता को निर्णय लेना ही चाहिए कि वह कोल्हान को झामुमो मुक्त बनाकर ऐसी पार्टी (भाजपा) को वोट दें जो उनके विकास के लिए प्रतिबद्ध है।

सूरज

जारी (वार्ता)

image