Friday, Mar 5 2021 | Time 13:42 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पुड्डुचेरी में नौ करोड़ रुपये का 18 किलोग्राम सोना जब्त
  • आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों के वाहन पर हथगोला फेंका
  • अफगानिस्तान में हिमस्खलन से 14 लोगों की मौत, पांच घायल
  • विश्व में कोरोना संक्रमितों की संख्या 11 56 करोड़ के पार
  • महाराष्ट्र में कोरोना के सक्रिय मामलों में लगातार वृद्धि, केरल में घटे
  • मोदी ने बीजू पटनायक को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित की
  • बारामूला में तलाश एवं घेराबंदी अभियान शुरू
  • कोरोना के सक्रिय मामले और मृतकों की संख्या में बढ़ोतरी
  • शिवराज को मोदी समेत वरिष्ठ भाजपा नेताओं ने दीं जन्मदिन की शुभकामनाएं
  • नायडू ने की देश दुनिया में शांति समृद्धि की कामना
  • विदेशों में उबाल, देश में छठवें दिन ईंधन की कीमतों में टिकाव
  • अमेरिका में अर्थव्यवस्था के लिए 1 9 ट्रिलियन डॉलर का राहत पैकेज
  • ब्राजील में कोविड-19 से 2 60 लाख से अधिक लोगों की मौत
  • ताइवान को हथियारों की आपूर्ति करना आवश्यक : एडमिरल डैविडसन
राज्य » जम्मू-कश्मीर


सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारियों ने लंबित वेतन को लेकर श्रीनगर में किया प्रदर्शन

सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारियों ने लंबित वेतन को लेकर श्रीनगर में किया प्रदर्शन

श्रीनगर, 19 जनवरी (वार्ता) जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारियों ने पिछले कई महीनों से लंबित वेतन की मांग को लेकर मंगलवार को प्रदर्शन किया।

जम्मू-कश्मीर सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारी और श्रमिक महासंघ के बैनर तले सार्वजनिक क्षेत्र से जुड़े कर्मचारी श्रीनगर के प्रेस एन्क्लेव में एकत्रित हुए। उन्होंने आरोप लगाया कि कर्मचारियों को पिछले कई महीनों वेतन नहीं मिल रहा है। प्रदर्शनकारियों ने मीडियाकर्मियों से कहा,“ पिछले कुछ महीनों से हमें वेतन नहीं मिला है जिसके कारण हम और हमारे परिवार भुखमरी के कगार पर हैं। ”

प्रदर्शनकारियों ने कहा,“ वेतन नहीं मिलने के कारण वे अपने परिवार का भरण-पोषण करने में सक्षम नहीं है और उन्हें परिवार का खर्चा चलने में भी बहुत मुश्किल हो रही है। सरकार ने हमसे कई वादे किए लेकिन उसके बावजूद हमारी तनख्वाह नहीं दी गई। हम अपने घर का किराया और बच्चों का शिक्षण शुल्क देने में असमर्थ हैं।”

उन्होंने कहा,“ सरकार को स्पष्ट करना चाहिए कि वह सार्वजनिक उपक्रमों के कर्मचारियों के साथ क्या करना चाहती है। अगर वे इन सार्वजनिक उपक्रमों को जारी रखना चाहते हैं, तो सरकार को इसके लिए एक उचित नीति तैयार करनी चाहिए।”

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि अगर उनकी मांग पूरी नहीं हुई तो वे अपना आंदोलन और तेज करेंगे।

जतिन.श्रवण

वार्ता

More News
भारत-पाक के बीच संघर्ष विराम सकारात्मक कदम: जनरल राजू

भारत-पाक के बीच संघर्ष विराम सकारात्मक कदम: जनरल राजू

04 Mar 2021 | 8:35 PM

श्रीनगर, 04 मार्च (वार्ता) भारत और पाकिस्तान के बीच जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा तथा अंतरराष्ट्रीय सीमा पर संघर्ष विराम को लेकर हुए समझौते को सकारात्मक कदम बताते हुए श्रीनगर स्थित 15 कोर के जनरल ऑफिसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल बी.एस. राजू ने कहा है कि इससे आतंकवाद की चुनौतियों से निपटने में मदद मिलेगी।

see more..
मीरवाइज की नजरबंदी से रिहाई की जानकारी मिलना अच्छी बात: मुफ्ती

मीरवाइज की नजरबंदी से रिहाई की जानकारी मिलना अच्छी बात: मुफ्ती

03 Mar 2021 | 7:55 PM

श्रीनगर, 03 मार्च (वार्ता) जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि हुर्रियत कांफ्रेंस के अध्यक्ष मीरवाइज मौलवी उमर फारूक की नजरबंदी से रिहाई की खबर सुनकर काफी अच्छा लगा है और उम्मीद है कि जम्मू-कश्मीर तथा बाहर की जेलों में सड़ रहे सैंकड़ों कश्मीरी युवकों को भी जल्दी ही रिहा कर दिया जाएगा।

see more..
image