Tuesday, Nov 19 2019 | Time 23:29 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • एनपीएफ ने निलंबित विधायकों को सभा में शामिल होने के लिए किया आमंत्रित
  • ओमान से हारकर भारत विश्व कप की होड़ से बाहर
  • ईवीएम ले जाने वाले वाहनों की होगी जीपीएस ट्रैकिंग : शैलेष
  • व्यवस्था को बेहतर बनाने में तकनीक का हो भरपूर इस्तेमाल : मुख्य सचिव
  • हर कोई है नागरिक , बंगाल में नहीं लाया जायेगा एनआरसी: ममता
  • तीसरे चरण चुनाव के लिए हुए 13 नामांकन
  • दूसरे चरण चुनाव के नामांकन पत्रों की जांच में 279 पर्चे सही
  • गोड्डा में 25 लाख का गांजा बरामद
  • उत्तर भारत में भूकंप के झटके
  • ट्रक और बाइक की टक्कर में दाे युवा खिलाड़ी की मौत
  • योगी ने नोएडा में होमगार्ड अभिलेख जलाये जाने की घटना की जांच के दिए निर्देश
  • दो बच्चियों के हत्यारे ने किया आत्महत्या का प्रयास
  • अमिताभ बच्चन होंगे अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोह के विशिष्ट अतिथि
  • मुंगेर में दो मिनी गन फैक्ट्री का उद्भेदन, दो गिरफ्तार
  • रिया और करमन ने जीते अपने मुकाबले
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


सिलावट ओझा के परिजनों से मिले व शोक संवेदना व्यक्त की

शिवपुरी, 21 अक्टूबर (वार्ता) मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने आज यहां बालचंद्र ओझा के घर पहुंचकर शोक संवेदना व्यक्त की तथा उनके आश्रितों को दो लाख रुपए की सहायता राशि देने की घोषणा की है।
श्री सिलावट ने बताया कि जिला चिकित्सालय उपचार के दौरान बालचंद्र ओझा की मृत्यु हो जाने पर उनका शव वार्ड में बिस्तर पर पड़ा रहने एवं चीटिंयां लगने के मामला सामने आने पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस मामले में कार्यवाही किए जाने के निर्देश दिए थे।
श्री सिलावट ने जिला चिकित्सालय का निरीक्षण किया गया तथा अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए गए। उन्होंने बताया कि प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं को सर्वोपरि रखा गया है। सरकारी अस्पतालों में हर गरीब को पर्याप्त उपचार मिलना चाहिए। साथ ही उनके साथ सहानुभूति पूर्वक व्यवहार किया जाना चाहिए।
उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग में मेडिकल स्टाफ एवं पैरामेडिकल स्टाफ की भर्ती शीघ्र ही की जा रही है जिससे स्वास्थ्य सेवाएं और ज्यादा बेहतर होंगी। चिकित्सकों के साथ ही नर्सों की भर्ती भी बड़ी संख्या में की जा रही है। उन्होंने जिला चिकित्सालय में कुपोषण से पीड़ित आदिवासी बच्ची मुस्कान को भी देखा तथा उसके उपचार के लिए निर्देश दिए।
सं नाग
वार्ता
image