Monday, Jan 27 2020 | Time 19:19 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • फौजदारी के जाने-माने वकील पी पी सिंह नहीं रहे
  • घर में पहली जीत दर्ज करना चाहेगी अवध वॉरियर्स
  • बच्ची से दुष्कर्म के दोषी को फांसी की सजा
  • अफगानिस्तान में दुर्घटनाग्रस्त विमान विदेशी कंपनी का: गवर्नर
  • तीसरा मैच रद्द, पाकिस्तान ने जीती सीरीज, नंबर-1 रैंकिंग कायम
  • भारत में दुनिया की फूड फैक्ट्री बनने की पूरी क्षमता - नीदरलैंड
  • किसानों के साथ धोखाधड़ी करने वाले पैक्स कर्मियों के खिलाफ होगी कार्रवाई:धानक
  • शाह का केजरीवाल पर हमला: इतनी ओछी और नीची राजनीति करने वाला मुख्यमंत्री नहीं देखा
  • उप्र के प्रमुख नगरों का तापमान इस प्रकार रहा
  • कर्नाटक के पूर्व मंत्री और जद (एस) नेता अमरनाथ शेट्टी का निधन
  • त्योहारों का जश्न बनाये रखने के लिये रिलायंस ने शुरू किया बेला कलेक्शन
  • नासिक में महिला की हत्या
  • लगातार पाँचवें दिन सस्ता हुआ पेट्रोल-डीजल
  • भारतीय महिला हॉकी टीम न्यूजीलैंड से हारी
  • भारतीय महिला हॉकी टीम न्यूजीलैंड से हारी
राज्य » गुजरात / महाराष्ट्र


संवाद अदायगी के बेताज बादशाह है शत्रुध्न सिन्हा

..जन्मदिवस 09 दिसंबर के अवसर पर ..
मुंबई 08 दिसंबर (वार्ता) बतौर खलनायक अपने करियर का आगाज कर अपने आक्रमक अंदाज, विद्रोही तेवर और संवाद अदायगी के दम पर शत्रुध्न सिंहा ने दर्शको को इस कदर दीवाना बनाया कि नायक की तुलना में उन्हें अधिक वाहवाही मिली। यह फिल्म इंडस्ट्री के इतिहास में पहला मौका था जब किसी खलनायक के पर्दे पर आने पर दर्शकों की ताली और सीटियां बजने लगती थी ।
सत्तर के दशक में जब शत्रुध्न सिंहा ने फिल्म इंडट्री में कदम रखा तो बतौर अभिनेता काम पाने के लिये वह स्टूडियों दर स्टूडियों भटकते रहे। वह जहां भी जाते उन्हें खरी खोटी सुननी पड़ती। कुछ फिल्मकारों ने उनसे कहा आपका चेहरा मोहरा फिल्म इंडस्ट्री के लिये उपयुक्त नही है यदि आप चाहे तो बतौर खलनायक आपको फिल्मों में काम मिल सकता है।
शत्रुध्न सिंहा ने तो एक बार यहां तक सोंच लिया कि मुंबई में रहने से अच्छा है कि अपने घर पटना लौट जाया जाये। बाद में शत्रुध्न सिंहा ने बतौर खलनायक ही फिल्म इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाने के लिये संघर्ष करना शुरू कर दिया। जल्द ही उनकी मेहनत रंग लाई और अपने रोबदार व्यक्तिव और संवाद अदायगी के जरिये शत्रुध्न सिंहा ने दर्शकों को अपनी ओर आकर्षित कर लिया।
शत्रुध्न सिंहा की लोकप्रियता का अंदाज इस बात से लगाया जा सकता है कि फिल्म में शत्रुध्न सिंहा के हिस्से में महज दो या तीन सीन ही रहते लेकिन इन सीनों मे जब कभी शत्रुध्न सिंहा दिखाई देते तो अपनी संवाद अदायगी और तेवर से वह नायक की तुलना में कहीं भारी पड़ते।
प्रेम,जतिन
जारी वार्ता
image