Friday, Dec 6 2019 | Time 18:00 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • खाद्य तेल, दालें स्थिर, गेहूँ, चीनी नरम
  • सोना 130 रुपये टूटा, चांदी 100 रुपये उतरी
  • ओड़िशा और बेंगलुरु को पहली जीत की दरकार
  • मानवाधिकार आयोग का हैदराबाद पुलिस मुठभेड़ की जांच का आदेश
  • पायस की बदौलत दिल्ली ने जीता जूनियर राष्ट्रीय टेबल टेनिस खिताब
  • पायस की बदौलत दिल्ली ने जीता जूनियर राष्ट्रीय टेबल टेनिस खिताब
  • समुद्री लुटेरों के चंगुल में फंसे तिवारी दंपत्ति को छुड़ाने का होगा सभी संभव प्रयास- भूपेश
  • कैबिनेट मंत्री के सदन में नहीं होने पर कार्यवाही 10 मिनट के लिए स्थगित
  • बिहार में रेडीमेड कपड़ा इकाई लगाये गुजरात के निवेशक:-रजक
  • दिशा दुष्कर्म मामले के आरोपी पुलिस की जवाबी कार्रवाई में मारे गए: पुलिस आयुक्त
  • खेल मंत्री ने खो-खो टीम को किया सम्मानित
  • खेल मंत्री ने खो-खो टीम को किया सम्मानित
  • अपराध की योजना बनाते पांच अपराधी गिरफ्तार
  • छत्तीसगढ़ में निकाय चुनाव के लिए नामांकन दाखिले की प्रक्रिया सम्पन्न
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


हिमाचल प्रदेश राज्य सीनियर शतरंज प्रतियोगिता 23 नवम्बर से

हिमाचल प्रदेश राज्य सीनियर शतरंज प्रतियोगिता 23 नवम्बर से

शिमला, 19 नवम्बर(वार्ता) छत्तीसवीं हिमाचल प्रदेश राज्य सीनियर शतरंज प्रतियोगिता 23 से 25 नवम्बर तक शिमला जिले के ठियोग में आयोजित की जाएगी तथा इसके लिये सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

ठियोग शतरंज क्लब के प्रवक्ता संजीव ठाकुर ने आज यह जानकारी देते हुये बताया कि इस प्रतियागिता में प्रदेश निवासी बच्चे, महिलाएं, पुरुष, दिव्यांग, वरिष्ठ नागरिक आदि कोई भी शतरंज प्रेमी भाग ले सकता है। प्रतियोगिता में भाग लेने बाहर से आने वाले खिलाड़ियों के लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा। उन्होंने बताया कि प्रदेश में आयोजित की जाने वाली अब तक की सबसे बड़ी राज्य स्तरीय प्रतियोगिता होगी जिसमें प्रदेश के करीब डेढ़ सौ शतरंज खिलाड़ियों के भाग लेने की सम्भावना है।



प्रतियोगिता में प्रदेश के करीब 40 अंतरराष्ट्रीय रेटिंग प्राप्त शतरंज खिलाड़ी भाग लेंगे जिनमें प्रदेश के शीर्ष वरीयता प्राप्त कुल्लू के समीरु ठाकुर, जगदीश चंदेल, देव कृष्ण और संजीव वेक्टा भी शामिल है। राज्य के शिक्षा विभाग द्वारा शतरंज को अपने खेल कलेंडर में शामिल किए जाने के चलते इस प्रतियोगिता में कई उभरते प्रतिभावान खिलाड़ियों के भाग लेने की भी उम्मीद है। प्राथमिक शिक्षा विभाग के संयुक्त निदेशक हितेश आजाद भी इस प्रतियोगिता में भाग लेंगे।

श्री ठाकुर ने बताया कि ठियोग में यह प्रतियोगिता लम्बे अंतराल के बाद हो रही है जिसके कारण स्थानीय शतरंज प्रेमियों में भी काफी उत्साह है। उल्लेखनीय है कि हिमाचल प्रदेश का ठियोग कस्बा शतरंज का गढ़ रहा है। यहाँ से कंवर शिवसिंह सबसे पुराने शतरंज खिलाड़ी थे जो 95 वर्ष से अधिक की आयु में भी इस खेल में सक्रिय थे। उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता में प्रथम चार स्थानों पर रहने वाले खिलाड़ियों को नौ से 19 दिसम्बर तक सिक्किम में होने वाली राष्ट्रीय सीनियर शतरंज प्रतियोगिता में हिमाचल प्रदेश का प्रतिनिधित्व करने का अवसर मिलेगा।

सं.रमेश1840वार्ता

image