Monday, Jan 30 2023 | Time 17:53 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


ठगी के मामले में दो शातिर पुलिस गिरफ्त में

भोपाल, 05 दिसम्बर (वार्ता) मध्यप्रदेश के क्राइम ब्रांच पुलिस ने ठगी के मामले में दो शातिर बदमाश को गिरफ्तार किया है।
आधिकारिक जानकारी के अनुसार सीहोर के दो अतिमहत्वाकांक्षी उच्च शिक्षित व्यक्ति मुख्यमंत्री निवास और मुख्य सचिव कार्यालय के टेलीफोन नम्बरों का अत्याधुनिक तकनीकी से फर्जी इस्तेमाल कर प्रतिष्ठित लोगों को ठगी का शिकार बना रहे थे। साइबर क्राइम में संलिप्त सीहोर निवासी 38 वर्षीय एलम सिंह परमार और 31 वर्षीय देवनारायण रघुवंशी को धर-दबोचा है। कुख्यात ठग सुकेश चन्द्रशेखर के नक्शे कदम पर चलते हुए ये दोनों एलबीएस अस्पताल के संचालक से एक करोड़ 10 लाख रूपये की ठगी की कार्य-योजना बनाते धरे गये हैं।
पुलिस आयुक्त भोपाल मकरंद देऊस्कर के अनुसार दोनों शातिर अपराधी प्रतिष्ठित नम्बरों का उपयोग अपने शिकार पर धौंस जमाने में कर रहे थे। दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।
बताया गया कि करोड़पति बनने की चाह में अंग्रेजी साहित्य में स्नातकोत्तर और केम्ब्रिज कॉन्वेंट स्कूल के संचालक एलम सिंह और बॉयो टेक्नालॉजी से बीएससी करने वाले हार्डवेयर व्यवसाई देवनारायण ने शार्टकट अपनाते हुए ठगी का रास्ता चुना। उन्होंने फर्जी कॉल करने के लिये चीन, ब्रिटेन और अमेरिका जैसे कई देशों के सर्वरों का इस्तेमाल किया। इतना ही नहीं, दोनों ने फर्जी तरीके से कॉलिंग करने के लिये चाणक्यपुरी कंचन मार्केट भोपाल नाके पर कमरा किराये पर लेकर फर्जी कॉल करने का प्रशिक्षण भी लिया।
श्री देऊस्कर ने बताया कि सायबर और क्राइम के तकनीकी विश्लेषण के बाद आरोपियों के आईटी एक्ट में अपराध पंजीबद्ध किया गया है। आरोपियों से पूछताछ एवं जप्ती की कार्यवाही की जा रही है। शीघ्र ही आरोपियों को न्यायालय के समक्ष पेश कर रिमाण्ड पर लिया जायेगा।
नाग
वार्ता
image