Monday, May 16 2022 | Time 16:41 Hrs(IST)
image
राज्य


मणिपुर में हड़ताल के कारण सभी तेल डिपो बंद

मणिपुर में हड़ताल के कारण सभी तेल डिपो बंद

इंफाल 24 जनवरी(वर्ता) मणिपुर में चालकों तथा वाहनों पर लगातार हो रहे हमलों के विरोध में सोमवार को सभी तेल डिपो बंद रहे।

मणिपुर रिटेल आउटलेट डीलर्स एसोसिएशन ने बताया कि इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड(आईओसीएल), हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड(एचपीसीएल), भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड(बीपीसीएल) तथा नायरा एनर्जी समेत सभी तेल डिपो बंद हैं।

एसोसिएशन ने मणिपुर के राजमार्गों पर वाहनाें की सुरक्षा तथा हड़ताल समर्थकों द्वारा कांगपोकपी जिले में 21 जनवरी को चालकों तथा वाहनों पर हुए हमलों की जांच की मांग की है।

एसोसिएशन ने बताया की 59 तेल टैंकर इंफाल की ओर आ रहे थे, जिन पर प्रदर्शनकारियों ने मणिपुर पुलिस तथा केंद्रीय रिजर्व पुलिस बस (सीआरपीएफ) के जवानों के सामने हमला कर दिया। इन टैंकरों के चालकों को इस हड़ताल के बारे में कोई जानकारी नहीं थी।

गौरतलब है कि हमले में एक युवक की मौत के बाद इस हड़ताल का आह्वान किया गया था लेकिन मणिपुर पुलिस के साथ बात-चीत के बाद हड़ताल समाप्त कर दिया गया।

राज्य में हड़ताल होने के कारण आम लोगों को पेट्रोल और डीजल की खरीद में परेशानी हो रही है। सभी तेल डिपो मंगलवार को खुलेंगे।

ऑल मणिपुर पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स ड्राइवर्स एसोसिएशन ने सरकार से चालकों तथा वाहनों की क्षति की भरपाई से साथ सुरक्षा और मुआवजा राशि की मांग की है। चालक संघ ने कहा है कि राजमार्गों पर समुचित सुरक्षा के बिना चालक काम करने की स्थिति में नहीं हैं।

सोनू, यामिनी

वार्ता

More News
देश विरोधी ताकतें चाहती है कि कश्मीर में होता रहे रक्तपात: रविंदर रैना

देश विरोधी ताकतें चाहती है कि कश्मीर में होता रहे रक्तपात: रविंदर रैना

16 May 2022 | 4:35 PM

श्रीनगर 16 मई (वार्ता) जम्मू कश्मीर में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष रविंदर रैना ने साेमवार को कहा कि कुछ देश विरोधी ताकतें चाहती हैं कि कश्मीर घाटी में यूं ही रक्तपात होता रहे।

see more..
image