Thursday, Jan 27 2022 | Time 02:15 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


गरीबी मिटाने का स्थाई समाधान है शिक्षा : चन्नी

अमृतसर दिसम्बर 06 (वार्ता ) पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने सोमवार को कहा कि आर्थिक रूप से कमजोरों के लिए सामग्री सहायता कोई समाधान नहीं है इसलिए गरीबी मिटाने का स्थाई समाधान केवल शिक्षा ही हो सकती है।
श्री चन्नी ने आज यहां गुरु नानक देव विश्वविद्यालय में पांच पीठों डॉ बीआर अंबेडकर चेयर, संत कबीर चेयर, भाई जीवन सिंह / भाई जैता जी चेयर, माखन शाह लुबाना चेयर और भगवान वाल्मीकि चेयर का उद्घाटन किया।
श्री चन्नी ने कहा कि पंजाब सरकार द्वारा जल्द ही एक नया शिक्षा मॉडल पेश किया जाएगा। जो सभी के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा पर ध्यान केंद्रित करेगा। इससे युवाओं को रोजगार के बेहतर अवसर मिलेंगे। उन्होंने कहा कि इसका मुख्य उद्देश्य युवाओं को उनकी मातृभूमि में बनाए रखना होगा। उन्होंने कहा कि अधिक रोजगारोन्मुखी और आवश्यकता आधारित पाठ्यक्रमों को बढ़ावा दिया जाएगा। उन्होंने गुरु नानक देव विश्वविद्यालय को पढ़ाई के अनुकूल माहौल के लिए बधाई देते हुए कहा कि वह ज्ञान, सच्चाई, मानवता और साहस की विरासत को आगे बढ़ाने के उद्देश्य से महान हस्तियों के नाम पर पांच प्रतिष्ठित पीठों की स्थापना से खुश हैं। उन्होंने कहा कि हमारी युवा पीढ़ी को हमारे पूर्वजों द्वारा दिए गए महान बलिदान और संघर्ष को जानना चाहिए।
मुख्यमंत्री ने कहा कि पृष्ठभूमि और गरीबी के कारण कोई भी अच्छे स्वास्थ्य और शिक्षा से वंचित नहीं रह सकता। उन्होंने कहा कि समाज को ये सभी सेवाएं प्रदान करना उनकी जिम्मेदारी है और इसे सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक बड़े कदम उठाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि अनुदान से संबंधित सभी जरूरतें मांग के अनुरूप विश्वविद्यालय को मुहैया कराई जाएंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि शीघ्र ही प्रख्यात लोक गायक गुरमीत बावा के नाम पर एक संगीत अकादमी की स्थापना की जाएगी।
इससे पहले प्रो. डॉ. जसपाल सिंह संधू, कुलपति ने पंजाब के मुख्यमंत्री और अन्य मेहमानों का स्वागत किया और विश्वविद्यालय की उपलब्धियों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने मुख्यमंत्री से शिक्षकों से संबंधित समस्याओं का समाधान करने और सुचारू संचालन के लिए पर्याप्त धनराशि उपलब्ध कराने का भी अनुरोध किया।
पंजाब प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि गुरु नानक देव जी की शिक्षाओं के अनुसार, सरबत दा भला और एकता सफलता का मुख्य मंत्र है जिसे हम सभी मानते हैं। उन्होंने कहा कि संत कबीर, बाबा साहब डॉ. भीम राव अंबेडकर, भाई जीवन सिंह, माखन शाह लुबाना और महर्षि बाल्मीकि केवल धार्मिक व्यक्ति नहीं हैं, बल्कि स्वयं संस्थान हैं। उन्होंने कहा कि अगर हम महान गुरुओं और संतों के दर्शन को लागू करते हैं, तो हम विदेश जाने वाले युवाओं को बनाए रखने में सक्षम होंगे।
पार्टी के उपाध्यक्ष अजैब सिंह भट्टी, सांसद गुरजीत सिंह औजला, मंत्री डॉ राजकुमार वेरका ने इन पीठों की स्थापना के लिए पंजाब सरकार की सराहना की। उन्होंने कहा कि पंजाब के सीएम बाबा साहब अंबेडकर की सोच पर अमल कर रहे हैं।
ठाकुर.संजय
वार्ता
More News
बिक्रम सिंह मजीठिया करेंगे नवजोत सिंह सिद्धू से चुनावी भिड़ंत, प्रकाश बादल लड़ेंगे लंबी से

बिक्रम सिंह मजीठिया करेंगे नवजोत सिंह सिद्धू से चुनावी भिड़ंत, प्रकाश बादल लड़ेंगे लंबी से

26 Jan 2022 | 7:40 PM

अमृतसर, 26 जनवरी (वार्ता) शिरोमणि अकाली दल (शिअद) नेता बिक्रम सिंह मजीठिया अमृतसर पूर्व से पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू से चुनावी भिड़ंत करेंगे।

see more..

--

26 Jan 2022 | 7:21 PM

see more..
छापेमारी : मजीठिया ने सरकार पर लगाया उच्च न्यायालय निर्देशों के उल्लंघन का आरोप

छापेमारी : मजीठिया ने सरकार पर लगाया उच्च न्यायालय निर्देशों के उल्लंघन का आरोप

26 Jan 2022 | 6:37 PM

चंडीगढ़, 26 जनवरी (वार्ता) अपने आवासों पर पुलिस की छापेमारी को लेकर शिरोमणि अकाली दल नेता बिक्रम सिंह मजीठिया ने आज भारतीय निर्वाचन आयोग से पंजाब की कांग्रेस सरकार के खिलाफ उच्च न्यायालय के निर्देशों के उल्लंघन करने के आरोप में कार्रवाई की मांग की।

see more..
image