Monday, Dec 16 2019 | Time 13:04 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राजकोट में तेजाब पीकर किशोरी ने की खुदकुशी
  • समुद्र में डूबी तीन नौकाएं, तीन मछुआरों के शव मिले, एक लापता
  • नवंबर में 0 58 प्रतिशत रही थोक मुद्रास्फीति की दर
  • पायल रोहतगी को जेल भेजा
  • मोदी ने बंगलादेश की आजादी की लड़ाई में शहीद हुए जवानों को किया नमन
  • स्टालिन ने की जामिया छात्रों पर पुलिस हमले की निंदा
  • नवंबर 2019 में थोक मुद्रास्फीति की दर 0 58 प्रतिशत पर
  • सीएए के खिलाफ याचिकाओं की सुनवाई बुधवार को
  • पाकिस्तान में अमाल की मौत को लेकर विरोधाभास
  • झारखंड में 15 सीटों के लिए जारी मतदान में पड़े 28 56 प्रतिशत वोट
  • झारखंड में 15 सीटों के लिए जारी मतदान में पड़े 28 56 प्रतिशत वोट
  • माचो मैन के तौर पर पहचान बनायी जॉन अब्राहम ने
  • माचो मैन के तौर पर पहचान बनायी जॉन अब्राहम ने
  • माचो मैन के तौर पर पहचान बनायी जॉन अब्राहम ने
  • कॉमेडी फिल्म में काम करेंगे राजकुमार राव
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


‘महात्मा गांधी : भाषा, साहित्य और लोक संस्कृति के परिप्रेक्ष्य में‘ राष्ट्रीय संगोष्ठी कल से

उज्जैन, 18 जुलाई (वार्ता) राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के मौके पर मध्यप्रदेश के उज्जैन में विक्रम विश्वविद्यालय द्वारा कल से आयोजित तीन दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी में देश के दस राज्यो के विद्वान हिस्सा लेगें।
विश्वविद्यालय के मुख्य समन्वयक एवं हिंदी विभागाध्यक्ष प्रो़ शैलेंद्रकुमार शर्मा ने बताया कि गांधी जी की 150 वीं जयंती वर्ष के अवसर पर 19 से 21 जुलाई तक राष्ट्रीय संगोष्ठी गांधी अध्ययन केन्द्र और हिन्दी अध्ययनशाला के संयुक्त तत्त्वावधान में त्रि-दिवसीय राष्ट्रीय शोध संगोष्ठी का आयोजन किया जा रहा है।
उन्होने बताया कि ‘महात्मा गाँधी : भाषा, साहित्य और लोक संस्कृति के परिप्रेक्ष्य में‘ आयोजित संगोष्ठी में देश के विभिन्न भागों के मनीषी, समाजसेवियों, शिक्षकों, विद्यार्थियों और संस्कृतिकर्मियों की सहभागिता के साथ व्याख्यान, डाक टिकट एवं मुद्रा प्रदर्शनी, काव्य पाठ, शोध प्रस्तुति आदि के माध्यम से राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के योगदान को लेकर मंथन किया जाएगा। इस अवसर पर संगोष्ठी में सहभागिता के लिए दस राज्यों के विशेषज्ञ विद्वान,शोधकर्ता शामिल होंगे।
उद्घाटन समारोह में वरिष्ठ साहित्यकार डॉ देवेंद्र जोशी की पुस्तक ‘सदी के सितारे’ का लोकार्पण होगा। जिसमें महात्मा गांधी सहित अनेक समाजसेवियों, लेखकों और संस्कृतिकर्मियों पर केंद्रित महत्त्वपूर्ण लेखों का संग्रह किया गया है।
सं.व्यास
वार्ता
image