Tuesday, Jul 23 2019 | Time 10:26 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कश्मीर पर ट्रंप के विवादित बयान पर अमेरिका ने सुधारी गलती
  • ट्रम्प, इमरान के बीच अफगानिस्तान मुद्दे पर हुई चर्चा
  • भाजपा नेता समेत परिवार के तीन सदस्य की गोली मारकर हत्या ,एक घायल
  • कश्मीर पर ट्रंप के विवादित बयान पर अमेरिका ने सुधारी गलती
  • मैक्रों को रूहानी का पत्र सौंपेंगे अब्बास अरागची
  • उ कोरिया से परमाणु निरस्त्रीकरण पर फिर होगी बातचीत : अमेरिका
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 24 जुलाई)
  • वेनेजुएला में राजधानी काराकास सहित 17 राज्यों में छाया अंधेरा
  • ईरान के दक्षिणी हिस्से में भूकंप के झटके
  • ‘प्रवसन के लिए नये समन्यव तंत्र स्थापित करने को लेकर 14 यूरोपीय देश सहमत’
  • हांगकांग में गैर कानूनी सभा करने को लेकर छह गिरफ्तार
  • सरकार के साथ विपक्षी नेताओं ने भी ट्रम्प के दावे का किया खंडन
  • मेघालय के महेंद्रगंज में निषेधाज्ञा लागू
  • विश्वास मत प्रस्ताव पर आज भी नहीं हुई वोटिंग, सदन की कार्यवाही मंगलवार तक स्थगित
राज्य


वैद जम्मू कश्मीर के परिवहन आयुक्त पद पर स्थानांतरित

वैद जम्मू कश्मीर के परिवहन आयुक्त पद पर स्थानांतरित

श्रीनगर 07 सितम्बर(वार्ता) जम्मू कश्मीर के पुलिस महानिदेशक(डीजीपी) एस पी वैद को परिवहन आयुक्त के पद पर राज्य की शीतकालीन राजधानी जम्मू मुख्यालय में स्थानांतरित किया गया है।

गृह मंत्रालय की ओर से गुरुवार को देर रात जारी आदेश के मुताबिक 1987 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा(आईएएस) अधिकारी एवं वर्तमान में जेल महानिदेशक दिलबाग सिंह नियमित नियुक्ति होने तक डीजीपी का अतिरिक्त कार्यभार संभालेंगे।

आदेश में कहा गया कि डॉ. वैद का स्थानांतरण कर उनकी सेवायें सामान्य प्रशासनिक विभाग(जीडीए) के अधिकारक्षेत्र में प्रदत्त कर दी गयी है। जीडीए ने बाद में डॉ. वैद को परिवहन आयुक्त के पद पर जम्मू मुख्यालय में पदस्थ कर दिया है।

1986 बैच के भारतीय पुलिस सेवा(आईपीएस) अधिकारी डॉ. वैद पूर्ववर्ती पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी(पीडीपी)-भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) गठबंधन सरकार के कार्यकाल में डीजीपी नियुक्त किये गये थे। बाद में भाजपा की ओर से गठबंधन तोड़ दिये जाने और सुश्री महबूबा मुफ्ती के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिये जाने के बाद गत 20 जून से राज्य में राज्यपाल शासन है।

उल्लेखनीय है कि बुधवार को डॉ. वैद ने राज्य पुलिस अधिकारियों के स्थानांतरण पर समाचार चैनल एनडीटीवी की रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा था कि मीडिया को राज्य में दशकों से छद्म युद्ध लड़ रही पुलिस के उत्साह को कम करने वाले लेखों को प्रकाशित करने से बचना चाहिए।डॉ. वैद ने अपने ट्वीट में कहा , “जम्मू कश्मीर पुलिस दशकों से छद्म युद्ध लड़ रही है। इस कार्य के लिए बहुत साहस और दृढ़ता की आवश्यकता होती है। ऐसे में पुलिस के उत्साह को कम करने वाले कल्पित लेखों से बचना चाहिए। मैं एनडीटीवी की रिपोर्ट के संबंध में कहना चाहता हूं कि स्थानांतरण सरकार का विशेषाधिकार और एक नियमित प्रक्रिया है।” एनडीटीवी की रिपोर्ट में कहा गया था कि गृह मंत्रालय जम्मू कश्मीर पुलिस के कामकाज से संतुष्ट नहीं है और वह डॉ. वैद के विकल्प की तलाश कर रहा है। गृह मंत्रालय ने हालांकि सभी आशंकाओं को खारिज करते हुए कहा है कि वह जम्मू कश्मीर पुलिस सराहनीय कार्य कर रही है।

टंडन

वार्ता

image