Sunday, Feb 25 2024 | Time 01:19 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


हिमाचल में 18 राजीव गांधी डे-बोर्डिंग स्कूल निर्मित होंगेः सुक्खू

हिमाचल में 18 राजीव गांधी डे-बोर्डिंग स्कूल निर्मित होंगेः सुक्खू

शिमला 06 मार्च (वार्ता) हिमाचल के मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने प्रदेश में आगामी वित्त वर्ष में 18 राजीव गांधी डे-बोर्डिंग स्कूल निर्मित करने की घोषणा की है।

श्री सुक्खू ने कहा कि इन स्कूलों के लिए भूमि चिन्हित कर ली गई है। राज्य सरकार ने चरणबद्ध तरीके से प्रदेश भर में प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में इन स्कूलों को निर्मित करने की योजना बनाई है। ये स्कूल 100 कनाल से अधिक परिसर में निर्मित किए जाएंगे और इन स्कूलों में विद्यार्थियो को अत्याधुनिक सुविधाएं और गुणात्मक शिक्षा प्रदान की जाएगी।हमीरपुर जिले के सुजानपुर टीहरा में रविवार सायं को राष्ट्र स्तरीय होली उत्सव की पहली सांस्कृतिक संध्या का शुभारम्भ करते हुए मुख्यमंत्री ने लोगों के आशीर्वाद और सहयोग से आने वाले 10 वर्षों के दौरान हिमाचल, देश का सबसे समृद्ध राज्य बनकर उभरेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस प्रकार के उत्सव और त्यौहार हमारे बन्धुत्वभाव, अनूठी सांस्कृतिक विरासत और परम्पराओं के प्रतीक होते हैं। इनके माध्यम से युवाओं को प्रदेश की समृद्ध संस्कृति को जानने और समझने के अवसर प्राप्त होते हैं। उन्होंने आशा व्यक्त की कि रंगों का त्यौहार होली प्रदेशवासियों के जीवन में उन्नति और खुशहाली लेकर आएगा।

मुख्यमंत्री ने स्थानीय विधायक राजेन्द्र राणा के आग्रह पर सुजानपुर में आगामी वित्त वर्ष में नए बस अड्डे के निर्माण तथा नागरिक अस्पताल सुजानपुर में विस्तर क्षमता 50 से बढ़ाकर 100 करने के साथ-साथ यहां सभी आवश्यक अत्याधुनिक सुविधाएं उपलब्ध करवाने की घोषणा की। उन्होंने आगामी वित्त वर्ष में सुजानपुर विधानसभा क्षेत्र के टौणी देवी में बेहतर अधोसंरचना और संस्थान में पर्याप्त कर्मचारियों की तैनाती के साथ एक डिग्री कॉलेज खोलने और सुजानपुर कॉलेज में अर्थशास्त्र और अंग्रेजी विषय की कक्षाएं शुरू करने की घोषणा की। उन्होंने सुजानपुर में उचित बजट प्रावधान के साथ जल शक्ति विभाग और बिजली बोर्ड के मण्डल खोलने की भी घोषणा की।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ करने के लिए कड़े निर्णय लेने की आवश्यकता है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि पूर्व भाजपा सरकार ने अपने कार्यकाल के दौरान प्रदेश को आर्थिक बदहाली की स्थिति में पहुंचाया है, जिस कारण उनके पांच वर्ष के कार्यकाल में प्रदेश के विकास कार्य बाधित हुए हैं। पूर्व भाजपा सरकार ने अपने कार्यकाल के अन्तिम छः महीनों में 900 से अधिक संस्थानों को बिना बजट प्रावधान के खोला व स्तरोन्नत किया। इनके संचालन पर राज्य सरकार पर पांच हजार करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ पड़ रहा था।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने अनाथ बच्चों को सहारा प्रदान करनेे के लिए मुख्यमंत्री सुख-आश्रय योजना शुरू की है। इस योजना के अन्तर्गत सरकार अनाथ बच्चों को चिर्ल्डन ऑफ द स्टेट के रूप में गोद लेगी और उनकी उच्च शिक्षा, जेब खर्च, हवाई यात्रा और वर्ष में एक बार तीन सितारा होटल में उनके ठहरने के लिए धनराशि प्रदान करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा आगामी तीन वर्षों के दौरान हमीरपुर जिला के जोल सपड़ में विश्व स्तरीय सुविधायुक्त कैंसर अस्पताल का निर्माण किया जाएगा। मरीजों को सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से शीघ्र ही चिकित्सा महाविद्यालय हमीरपुर में रोबोटिक सर्जरी की सुविधा शुरू की जाएगी। उन्होंने कहा कि पुरानी पेंशन लागू कर राज्य सरकार ने अपना पहला वायदा पूरा किया है और अन्य सभी गारंटियों को भी चरणबद्ध तरीके से पूरा किया जाएगा।

सं.संजय

वार्ता

image