Thursday, May 28 2020 | Time 16:36 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित 13 शहरों की स्थिति की समीक्षा
  • कोविड-19 की वजह से आये वित्तीय दबाव के कारण सकाल टाइम्स का प्रकाशन होगा बंद
  • प्रवासी मजदूूरों से नहीं वसूला जायेगा किराया, राज्यों को ‘सुप्रीम’ दिशानिर्देश
  • योगी ने सिविल अस्पताल का औचक निरीक्षण कर व्यवस्थाओं पर संतोष व्यक्त किया
  • चार सप्ताह के उच्चतम स्तर पर शेयर बाजार
  • कोविड-19 : रसोई गैस सिलेंडर डिलीवरी ब्वाय्ज को बचाव किट देने की मांग
  • मासिक धर्म पर चुप्पी तोड़ने के अभियान का लाखों लोगों ने किया समर्थन
  • विश्वकप 2021 की मेजबानी नहीं जाएगी: बीसीसीआई
  • विश्वकप 2021 की मेजबानी नहीं जाएगी: बीसीसीआई
  • असम में कोरोना वायरस संक्रमण के 48 नये मामले
  • उत्तराखंड में कोरोना संक्रमितों की संख्या 493 पहुंची
  • वीटा दुग्ध उत्पाद अधिकाधिक लोगों तक पहुंचाने हेतु ज्यादा बूथ खोले जायें: लाल
  • कर्नाटक में कोरोना के 75 नए मामले, 2493 संक्रमित
  • सोनभद्र पहुंचा टिड्डी दल,दवा छिड़काव से हजारों की संख्या में मरी टिड्डियां
  • प्रवासी एवं उद्यमशील उत्तराखण्डवासियों के लिए स्व-रोजगार योजना शुरू
राज्य » राजस्थान


पोषाहार दूध पीने से 40 बच्चे बीमार

पोषाहार दूध पीने से 40 बच्चे बीमार

अलवर, 16 अक्टूबर (वार्ता) राजस्थान में अलवर जिले के कठूमर उपखंड में बुधवार को पोषाहार का दूध पीने से करीब 40 बच्चे बीमार हो गए।

सूचना मिलने पर चिकित्सा विभाग की टीम मौके पर पहुंची और इलाज शुरू कर दिया। इन 40 बच्चों में से मेडिकल टीम पहुंचने से पहले ही आठ बच्चों को अलवर, नौ बच्चों को नगर ले जाया गया। बताया जा रहा है कि यह दूध सिंथेटिक था।

मिली जानकारी के अनुसार बमनपुरा के राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय में करीब 120 बच्चे अध्ययनरत है। पोषाहार में दोपहर में बच्चों के लिए दूध वितरित किया गया। दूध पीने के कुछ समय बाद ही बच्चों को उल्टी और पेट दर्द की शिकायत हो गई। देखते ही देखते कई बच्चों को पेट दर्द और उल्टी की शिकायत होने लगी। करीब 40 बच्चे बीमार हो गए।

इसकी जानकारी मिलते ही ग्रामीण मौके पर पहुंच गये और कई बच्चों को इलाज के लिये अस्पताल ले गये। सूचना मिलने पर स्वास्थ्य केंद्र रामनगर से डॉ रोहित औड़ के नेतृत्व में मेडिकल टीम ग्राम बमनपुरा पहुंची और बीमार बच्चों का इलाज शुरू कर दिया। स्थिति अब नियंत्रण में बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि दूध में कुछ विषाक्त था। जिसके सेवन के चलते बच्चे बीमार हो गए।

बाद में रात्रि साढ़े आठ बजे 17 बच्चों को उपचार के बाद घर भेज दिया गया। फिलहाल पांच बच्चों का ही राहत शिविर में इलाज चल रहा है। इधर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर ओपी मीणा ने बताया कि सूचना के बाद चिकित्सा टीम अलवर से भी भेजी गई है और वर्तमान में हालात काबू पर हैं कुछ बच्चे अलवर आए हैं जिनका इलाज किया जा रहा है और दूध का सैंपल लिए जाने के प्रयास किए जा रहे हैं।

सर्राफ सुनील

वार्ता

More News
मजदूरों के बैंक खातों में केंद्र सरकार 10-10 हजार जमा करवाए-अरोड़ा

मजदूरों के बैंक खातों में केंद्र सरकार 10-10 हजार जमा करवाए-अरोड़ा

28 May 2020 | 3:52 PM

श्रीगंगानगर 28 मई (वार्ता) राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष राजीव अरोड़ा ने केंद्र सरकार से कोरोना वायरस लोक डाउन से सबसे अधिक परेशान हुए देश के मजदूर वर्ग के खातों में दस-दस हजार रूपए तत्काल जमा करवाए जाएं ताकि वे घर परिवार की गुजर बसर कर सकें।

see more..
मिश्र की गर्मी में सावधानी बरतने की अपील

मिश्र की गर्मी में सावधानी बरतने की अपील

28 May 2020 | 3:35 PM

जयपुर, 28 मई (वार्ता) राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि वे गर्मी के मौसम में आवश्यक सावधानियों का ध्यान रखें।

see more..
image