Saturday, Apr 20 2024 | Time 13:53 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


संकल्प पत्र के 40 बिंदुओं पर हो गया है क्रियान्वयन - यादव

संकल्प पत्र के 40 बिंदुओं पर हो गया है क्रियान्वयन - यादव

भोपाल, 12 फरवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण पर पेश किए गए कृतज्ञता ज्ञापन प्रस्ताव पर चर्चा के उपरांत आज मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने अपने जवाब में कहा कि “संकल्प पत्र” के 40 बिंदुओं पर क्रियान्वयन हो गया है।

डॉ यादव ने एक घंटे से अधिक समय के अपने जवाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी नीतियों का बार बार जिक्र किया। उन्होंने कहा कि अभी उनकी सरकार को लगभग दो माह ही हुए हैं। भाजपा का जो भी संकल्प पत्र है, वह पांच वर्ष के लिए है। इसके बावजूद संकल्प पत्र के लगभग 40 बिंदुओं को पूरा किया जा चुका है। इसके अलावा टंट्या भील के नाम पर जनजातीय विश्वविद्यालय की स्थापना की घोषणा समेत ऐसे अनेक कार्य भी हुए हैं, जिनका संकल्प पत्र में जिक्र नहीं है। लेकिन सरकार वे सब कार्य भी करेगी, जो आज की आवश्यकता के अनुसार जरूरी हैं।

डॉ यादव ने उनकी सरकार के सुशासन के चार संकल्प बताते हुए कहा कि सुशासन, संस्कृति, सतत विकास और सेवा के आधार पर जन कल्याण के कार्य किए जाएंगे। उनकी सरकार प्रदेश के विकास की नयी इबारत लिखेगी। इस वर्ष गुड़ी पड़वा का पर्व पूरे प्रदेश में धूमधाम से मनाया जाएगा। उन्होंने हाल में घटित हरदा कांड का जिक्र करते हुए कहा कि सरकार अब आम नागरिकों को दुर्घटना की स्थिति में तत्काल इलाज मुहैया कराने के उद्देश्य से एयर एंबूलेंस की सुविधा मुहैया कराएगी। इसके अलावा राज्य के प्रमुख धार्मिक स्थलों पर आने जाने के लिए आसपास के प्रमुख शहरों से “एयर सर्विस” शुरू करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उज्जैन में अब सिंहस्थ 2028 में आयोजित होगा, जिसमें दुनिया भर के तीर्थयात्री आएंगे। इस आयोजन को अधिक से अधिक सफल बनाने के लिए अभी से कदम उठाए जा रहे हैं। श्रीराम वनगमन पथ को विकसित किया जाएगा। उन्होंने पूर्व के वर्षों में भाजपा के शासनकाल में हुए विकास कार्यों का जिक्र करते हुए कहा कि अब प्रदेश की विकास दर 16 प्रतिशत से अधिक है। पूरे देश में लगातार सातवीं बार स्वच्छता में इंदौर पहले स्थान पर रहा है। ये हमारे काम करने के तरीके को बता रहा है। खनिज आवंटन में नीलामी में पहला पुरस्कार मध्यप्रदेश को मिला। प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वनिधि योजना, आयुष्मान भारत योजना, किसान सम्मान निधि योजना और मातृ वंदन योजना में भी मध्यप्रदेश लगातार अग्रणी बना हुआ है।

डॉ यादव ने कहा कि इन्हीं सब कार्याें के कारण लोगों ने हमें “163” (विधानसभा चुनाव में भाजपा की 163 सीटों पर विजय) लाकर वापस सत्ता दी है। यह जनता का भाजपा के प्रति विश्वास है। उन्होंने कहा कि हम अपने संकल्प पत्र के सभी बिंदुओं को आने वाले पांच सालों में पूरा करेंगे।

प्रशांत

वार्ता

image