Thursday, Feb 21 2019 | Time 19:05 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • भारत, दक्षिण कोरिया के साथ मिलकर इलेक्ट्राॅनिक हब बनेगा: मोदी
  • शाह करेंगे शक्ति केंद्र कार्यकर्ताओं के साथ बैठक
  • नाबालिग भतीजी से बलात्कार : अंतिम सांस तक कैद की सजा
  • कर्मचारी भविष्य निधि जमा पर 8़ 65 प्रतिशत ब्याज देने की सिफारिश
  • हिमाचल प्रदेश, कश्मीर में हिमपात के आसार
  • आईआईटी रूड़की में स्टेनलेस स्टील और एडवांस्ड कार्बन स्पेशल स्टील पर पाठ्यक्रम
  • जावड़ेकर ने किया देहरा में केंद्रीय विश्वविद्यालय का शिलान्यास
  • 34 हजार कर्मचारी हड़ताल पर,30 लाख यात्री परेशान
  • किसान सम्मेलन में प्रतिनिधियों को मिलेगा उनके क्षेत्र का भोजन
  • सिद्धू को फिल्मसिटी में प्रवेश नहीं देने के लिए पत्र लिखा गया
  • झांसी: स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव के लिए अंतरर्राज्यीय समन्वय बैठक में हुआ मंथन
  • गंगा को स्वच्छ करने का काम 30 फीसदी पूरा: गडकरी
  • इजरायली सेना ने फलस्तीनी में एक स्कूल पर छोड़े आंसू गैस
  • गडकरी ने किया नमामि गंगे, राजमार्ग परियोजनाओं का लोकार्पण
  • आतंकवाद का लोकसभा चुनाव से कोई लेना-देना नहीं: खन्ना
राज्य Share

परमवीर चक्र विजेता अब्दुल हमीद का 53 वाँ शहादत दिवस मनाया गया

परमवीर चक्र विजेता अब्दुल हमीद का 53 वाँ शहादत दिवस मनाया गया

जौनपुर, 10 सितम्बर (वार्ता) वर्ष 1965 में भारत-पाक युद्ध के महानायक परमवीर चक्र विजेता अमर शहीद वीर अब्दुल हमीद का 53 वां शहादत दिवस सोमवार को यहाँ पूरी शिद्दत से मनाया गया। इस अवसर पर शहीद स्मारक में मोमबत्ती और अगरबत्ती जलाकर उन्हें श्रद्धाजंलि दी गयी।

शहीद स्मारक पर उपस्थित लोगो को संबोधित करते हुए लक्ष्मीबाई ब्रिगेड की अध्यक्ष मंजीत कौर ने कहा कि शहीद अब्दुल हमीद का जन्म उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले के धामूपुर गाँव में 12 सितम्बर को हुआ था। उन्होंने कहा कि वीर अब्दुल हमीद भारतीय सेना में तैनात थे।

सुश्री कौर ने कहा कि वीर अब्दुल हमीद ने 1965 की जंग के दौरान पाकिस्तान द्वारा इस्तेमाल किये गए तीन पैटन टैंकों को उड़ा दिया था। फोर ग्रेनेडियर के कंपनी कमांडेंट अब्दुल हमीद चौथे पैटन टैंक को नष्ट करते हुए शहीद हो गए थे। सरकार ने उन्हें परमवीर चक्र से सम्मानित किया था। पूरा देश आज उनकी शहादत को सलाम कर रहा है।

सं प्रदीप

चाैरसिया

वार्ता

More News
ज्ञान विवि के रूप जाना जाए आर्यभट्ट विश्वविद्यालय : नीतीश

ज्ञान विवि के रूप जाना जाए आर्यभट्ट विश्वविद्यालय : नीतीश

21 Feb 2019 | 7:00 PM

पटना 21 फरवरी (वार्ता) बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के गौरवशाली अतीत को फिर से प्राप्त करने की प्रतिबद्धतता व्यक्त करते हुये आज कहा कि आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय (विवि) ज्ञान के केंद्र के रूप में जाना जाये ताकि वह प्रदेश के इतिहास के प्रति सम्मान का प्रतीक बन सके।

 Sharesee more..
image