Wednesday, Dec 11 2019 | Time 17:45 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • नौजवानों को सैनिकों के बलिदान से प्रेरणा लेने का आह्वान
  • खेती पर बढ़ती लागत के चलते किसानों की दशा बिगड़ रही है: टिकैत
  • जोड़ा फाटक ट्रेन हादसा पीड़ित परिवारों का अनिश्चितकालीन धरना शुरू
  • अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा विधेयक का सभी दलों ने किया समर्थन
  • विधायक अनंत सिंह को समीक्षा बैठक में भाग लेने की अनुमति
  • भ्रष्टाचार मामले में भाजपा पार्षद को पांच वर्ष की सजा
  • देश में जो परिस्थितियां हैं वैसी उन्होंने अपने जीवन में कभी नहीं देखीं: वीरभद्र
  • शेयर बाजार में तेजी
  • ब्रिटिश सेना के प्रतिनिधिमंडल ने दरबार साहब में टेका माथा
  • बस्ती में 16 किलो से अधिक गांजा बरामद,दो तस्कर गिरफ्तार
  • कई देशों में औद्योगिक संबंध मजबूत करेगा पायटैक्स:डीसी
  • वन इंडिया फैमिली मार्ट 250 नये स्टोर करेगी शुरू
  • 50 के हुये ग्रैंड मास्टर विश्वनाथन आनंद
  • 50 के हुये ग्रैंड मास्टर विश्वनाथन आनंद
  • नागरिकता बिल के विरोध में राजद ने दिया धरना
खेल


8 दिन में तैयार होती है एक एसजी गुलाबी गेंद

8 दिन में तैयार होती है एक एसजी गुलाबी गेंद

नयी दिल्ली, 19 नवंबर (वार्ता) भारत और बंगलादेश के बीच होने वाले ऐतिहासिक डे-नाइट टेस्ट के लिये तैयारियां जोरों पर है लेकिन इसके बीच सभी की निगाहें उन एसजी गुलाबी गेंदों पर लगी हैं जिन्हें खास प्रक्रिया और आम गेंदों की तुलना में कई दिनों की मेहनत के बाद तैयार किया जाता है।

भारत और बंगलादेश की टीमें 22 नवंबर से ईडन गार्डन मैदान पर अपने क्रिकेट इतिहास के पहले डे-नाइट टेस्ट को खेलने उतरेंगे जिसे यादगार बनाने के लिये पूरे शहर को ही गुलाबी रंग में रंग दिया गया है। लेकिन डे-नाइट प्रारूप में इस्तेमाल की जाने वाली इन गुलाबी गेंदों के पीछे की कहानी भी काफी दिलचस्प है जिसे तैयार करने में नियमित कूकाबूरा गेंदों की तुलना में करीब आठ दिन का समय लगता है।

मेज़बान भारतीय टीम सीरीज़ के दूसरे और अंतिम डे-नाइट टेस्ट को एसजी गुलाबी गेंदों से खेलेगी जबकि नियमित टेस्ट में सफेद रंग की कूकाबूरा गेंदाें से खेला जाता है। एसजी गेंदें यानि की सैंसपेरिल्स ग्रीनलैंड्स क्रिकेट गेंदों को भारतीय खिलाड़ी खासा पसंद करते हैं और भारत में रणजी ट्रॉफी जैसा घरेलू टूर्नामेंट भी इन्हीं एसजी गेंदों से खेला जाता है।

एसजी ब्रांड उत्तरप्रदेश के मेरठ में वर्ष 1950 से ही इन गेंदों का निर्माण कर रहा है। गुलाबी गेंदों की बात करें तो यह नियमित गेंदों की तुलना में काफी अलग है और इस एक गेंद को तैयार करने में कारीगरों को आठ दिन का समय लगता है जबकि आम गेंदें दो दिन में तैयार हो जाती हैं। इन गेंदों को मुख्य रूप से मशीनों के बजाय हाथों से तैयार किया जाता है और इसमें उपयोग होने वाला चमड़ा भी विदेश से ही आयात किया जाता है।

प्रीति

जारी वार्ता

More News
करूणारत्ने का अर्धशतक, श्रीलंका ने 202 पर गंवाये 5 विकेट

करूणारत्ने का अर्धशतक, श्रीलंका ने 202 पर गंवाये 5 विकेट

11 Dec 2019 | 5:23 PM

रावलपिंडी, 11 दिसंबर (वार्ता) सड़क से लेकर आसमान तक की सुरक्षा के बीच पाकिस्तान की ज़मीन पर एक दशक बाद हो रहे पहले क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन श्रीलंकाई टीम ने बुधवार को स्टम्प्स तक मेज़बान टीम के खिलाफ पहली पारी में पांच विकेट खोकर 202 रन बना लिये।

see more..
चंडीगढ़ पारी और 173 रन से जीता

चंडीगढ़ पारी और 173 रन से जीता

11 Dec 2019 | 5:16 PM

चंडीगढ़, 11 दिसंबर (वार्ता) गुरिंदर सिंह (50 रन पर 6 विकेट) की शानदार गेंदबाजी की बदौलत चंडीगढ़ ने अरूणाचल प्रदेश को रणजी ट्रॉफी प्लेट ग्रुप मुकाबले के तीसरे ही दिन बुधवार को पारी और 173 रन से पराजित कर दिया।

see more..
वरिष्ठ फुटबॉल प्रशासक भाटिया को लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड

वरिष्ठ फुटबॉल प्रशासक भाटिया को लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड

11 Dec 2019 | 5:05 PM

नयी दिल्ली, 11 दिसम्बर (वार्ता) राजधानी के अनुभवी फुटबॉल प्रशासक एनके भाटिया को दिल्ली की फुटबॉल में उनके अभूतपूर्व योगदान के लिए फुटबॉल दिल्ली ने लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से नवाजा है।

see more..
युग स्पोर्ट्स को हरा सपोर्टिंग क्लब सेमीफाइनल में

युग स्पोर्ट्स को हरा सपोर्टिंग क्लब सेमीफाइनल में

11 Dec 2019 | 4:57 PM

नयी दिल्ली, 11 दिसंबर (वार्ता) युवा विस्फोटक बल्लेबाज संचित सब्बरवाल की शानदार बल्लेबाजी और स्पिनर विजन पांचाल की हैट्रिक की बदौलत सपोर्टिंग क्लब ने मेजबान युग स्पोर्ट्स को रोमांचक मुकाबले में एक गेंद शेष रहते दो विकेट से पराजित कर पहले आर एन सिंह टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया।

see more..
टोक्यो ओलंपिक में रूसी एथलीटों का विरोध करेंगे अमेरिकी

टोक्यो ओलंपिक में रूसी एथलीटों का विरोध करेंगे अमेरिकी

11 Dec 2019 | 4:51 PM

मॉस्को, 11 दिसंबर (वार्ता)अमेरिका के एथलीटों ने अगले वर्ष जापान के टोक्यो में होने वाले ओलंपिक खेलों में बैन के बाद तटस्थ उतरने वाले रूसी एथलीटों के विरोध करने की योजना बनाई है।

see more..
image