Monday, Apr 15 2024 | Time 14:36 Hrs(IST)
image
भारत


अभाविप ने अध्येतावृत्ति की बकाया राशि को लेकर यूजीसी अध्यक्ष को सौंपा ज्ञापन

अभाविप ने अध्येतावृत्ति की बकाया राशि को लेकर यूजीसी अध्यक्ष को सौंपा ज्ञापन

नयी दिल्ली 03 फरवरी (वार्ता) अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (अभाविप) ने पोस्ट-डॉक्टोरल और डॉक्टोरल के छात्रों के लंबित अध्येतावृत्ति बकाया (एरियर) का उचित और कुशल वितरण सुनिश्चित शनिवार को विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के अध्यक्ष एम जगदीश कुमार को ज्ञापन सौंपा और उन्हें विश्वविद्यालयों में छात्रों की समस्याओं से अवगत कराया।

परिषद ने यूजीसी के माध्यम से अध्येतावृत्ति दावा और वितरण की पूरी प्रक्रिया को सुगम तथा त्वरित बनाने की भी मांग की है।

उल्लेखनीय है की पिछले वर्ष यूजीसी ने कनिष्ठ अनुसंधान फैलोशिप (जेआरएफ) तथा वरिष्ठ अनुसंधान फैलोशिप (एसआरएफ) और पोस्ट डॉक्टोरल फेलोशिप की राशि में बढ़ोतरी की थी, जो पिछले वर्ष जनवरी 2023 से प्रभावी है। इस बढ़ोतरी का बकाया (एरियर) के भुगतान संबंध में दिशा-निर्देश यूजीसी द्वारा इस वर्ष 18 जनवरी में जारी किया गया था, जिसको पूर्ण करने की अंतिम तिथि आठ फरवरी तक ही है। मौजूदा समय में प्रतिमाह फेलोशिप दावा करने हेतु छात्रों को प्रतिमाह एक से आठ तारीख का ही समय मिलता है, जबकि इससे पहले एक से 15 तारीख तक का समय मिलता था। विश्वविद्यालयों में दावा हेतु प्रक्रिया कई चरणों में होने के कारण छात्रों को पूरी प्रक्रिया पूर्ण करने के लिए अधिक समय लगता है। बकाया राशि का दावा करने के लिए 08 फरवरी की निर्धारित समय सीमा को पूरा करने में छात्रों के सामने आने वाली चुनौतियों और सीमाओं की ओर ध्यान देने की आवश्यकता है। इसको ध्यान में रखते हुए ही अभाविप ने संबंधित बकाया हेतु छात्रों को अधिक समय देने हेतु मांग की है।

अभाविप के राष्ट्रीय महामंत्री याज्ञवल्क्य शुक्ल ने कहा कि छात्रवृत्ति फेलोशिप प्रबंधन पोर्टल को विश्वविद्यालय स्तर पर खुले रखने की समय-सीमा बढ़ाई जाए, जिससे छात्रों को आवेदन के लिए अधिक समय मिल सके। विश्वविद्यालयों को भी छात्रों की शोधवृत्ति के आवेदन प्रक्रिया को सुगम बनाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि अभाविप छात्र समुदाय के सर्वोत्तम हित में लंबित फेलोशिप के सुगम एवं कुशल वितरण की माँग करती है।

संतोष, उप्रेती

वार्ता

More News
मुख्य न्यायाधीश चंद्रचूड़ को 21 पूर्व न्यायाधीशों ने लिखी चिट्ठी

मुख्य न्यायाधीश चंद्रचूड़ को 21 पूर्व न्यायाधीशों ने लिखी चिट्ठी

15 Apr 2024 | 2:18 PM

नई दिल्ली,15 अप्रैल (वार्ता) उच्चतम न्यायालय और उच्च न्यायालयों के लगभग 21 पूर्व न्यायाधीशों ने 'न्यायपालिका पर दबाव बनाने और उसे कमजोर करने' के लिए किए जा रहे कथित प्रयासों से भारत के मुख्य न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़ को एक पत्र के जरिए अपनी चिंताओं से अवगत कराया है।

see more..
खजुराहो लोकसभा सीट पर ऑल इंडिया फारवर्ड ब्लाक का समर्थन करेगा इंडिया समूह

खजुराहो लोकसभा सीट पर ऑल इंडिया फारवर्ड ब्लाक का समर्थन करेगा इंडिया समूह

15 Apr 2024 | 1:40 PM

नयी दिल्ली 15 अप्रैल (वार्ता) कांग्रेस ने कहा है कि मध्यप्रदेश में खजुराहो लोकसभा सीट पर ऑल इंडिया फारवर्ड ब्लाक के प्रत्याशी आर बी प्रजापति इंडिया समूह के उम्मीदवार होंगे।

see more..
बीआरएस नेता कविता 23 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत में

बीआरएस नेता कविता 23 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत में

15 Apr 2024 | 11:38 AM

नयी दिल्ली, 15 अप्रैल (वार्ता) दिल्ली की एक विशेष अदालत ने आबकारी नीति 2021-2022 कथित घोटाले के मामले में गिरफ्तार भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) विधान परिषद सदस्य के. कविता की केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की तीन दिनों की हिरासत अवधि पूरी होने के बाद उन्हें सोमवार को 23 अप्रैल तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

see more..
image