Sunday, Jan 17 2021 | Time 15:45 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कोटा बनेगा यातायात सिग्नल मुक्त शहर
  • किसानों को एनआईए नोटिस भेेजना केंद्र सरकार की एक और भद्दी चाल : रंधावा
  • तीसरे दिन का स्कोर बोर्ड
  • कांग्रेस ने कोरोना वैक्सीन की कीमत और इसके निर्यात पर उठाए सवाल
  • रूस में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 23,586 मामले दर्ज किए गए
  • अजमेर में नगर निगम चुनाव में रंगत नजर आने लगी
  • अफगानिस्तान में दो महिला न्यायाधीशों की हत्या
  • चंडीगढ़ बिजली निजीकरण प्रक्रिया रद्द करें : एआईपीईएफ
  • बंगलादेश को शीघ्र मिलेगी कोविड-19 वैक्सीनः दुरईस्वामी
  • वैक्सीनेशन केंद्र सरकार के गाइडलाइन के अनुरूप हो : योगी
  • जी-7 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा ब्रिटेन
  • केवडिया भारतीय रेल के विज़न, सरदार पटेल के मिशन का प्रतीक : मोदी
  • कोविड-19 के कारण 17 साल पीछे चला गया विमानन क्षेत्र
भारत


अर्जी दिये जाने के दिन से ही गुजारा भत्ता निर्धारित किया जायेगा : सुप्रीम कोर्ट

अर्जी दिये जाने के दिन से ही गुजारा भत्ता निर्धारित किया जायेगा : सुप्रीम कोर्ट

नयी दिल्ली, 04 नवम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने बुधवार को एक दूरगामी परिणाम वाले फैसले में कहा कि वैवाहिक विवाद के सभी मामलों में गुजारा भत्ता अर्जी दिये जाने के दिन से ही निर्धारित किया जायेगा।

न्यायमूर्ति इंदु मल्होत्रा और न्यायमूर्ति आर सुभाष रेड्डी की खंडपीठ ने वैवाहिक विवादों में पीड़िता के गुजारा भत्ता के भुगतान को लेकर विस्तृत दिशानिर्देश जारी किये।

न्यायालय ने कहा है कि आपराधिक प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 125 सहित सभी मामलों में अर्जी दिये जाने की तारीख से ही गुजारा भत्ता मंजूर करना ही उचित होगा।

खंडपीठ ने कहा कि अब वैवाहिक विवाद के न्यायालय में जाने के बाद ही दोनों पक्षों को अपनी आमदनी के स्रोत और आय की पूरी जानकारी देनी होगी। इसके बाद ही गुजारा भत्ता की रकम निर्धारित की जाएगी। न्यायालय ने कहा कि जब तक आय और संपत्ति का खुलासा नहीं होता है, तब तक गुजारा भत्ता न दे पाने तक गिरफ्तारी या जेल भेजने की प्रक्रिया पर रोक रहेगी।

शीर्ष अदालत ने अपने फैसले में यह भी ताकीद की है कि सभी उच्च न्यायालय इस पर अमल करेंगे। न्यायालय ने ये दिशानिर्देश ‘रजनेश बनाम नेहा’ मामले में दिये हैं।

खंडपीठ दिल्ली उच्च न्यायालय के एक फैसले के खिलाफ अपील का निपटारा कर रही थी। पिछले साल अक्टूबर में, अदालत ने इस संबंध में सहायता के लिए वरिष्ठ अधिवक्ता गोपाल शंकरनारायणन और अनीता शेनॉय को न्याय मित्र के रूप में नियुक्त किया था। उन्होंने एक रिपोर्ट भी सौंपी थी।

सुरेश जितेन्द्र

वार्ता

More News
केवडिया की ट्रेन कनेक्टिविटी जनजातीय समुदाय के जीवन में बदलाव के लिए सहायक : मोदी

केवडिया की ट्रेन कनेक्टिविटी जनजातीय समुदाय के जीवन में बदलाव के लिए सहायक : मोदी

17 Jan 2021 | 1:48 PM

नयी दिल्ली 17 जनवरी (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि गुजरात के केवडिया में देश के विभिन्न हिस्सों से ट्रेनों की कनेक्टिविटी से स्टेच्यू ऑफ यूनिटी आने वाले पर्यटक लाभान्वित होंगे , वहीं केवडिया के जनजातीय समुदाय के जीवन में भी बदलाव के लिए यह सहायक होगा।

see more..
मोदी ने राजस्थान बस हादसे पर दुख जताया

मोदी ने राजस्थान बस हादसे पर दुख जताया

17 Jan 2021 | 1:01 PM

नयी दिल्ली 17 जनवरी (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजस्थान के जालौर जिले में बस हादसे में छह लोगों की मौत पर दुख व्यक्त किया है।

see more..
मोदी ने एमजीआर की जयंती पर किया नमन

मोदी ने एमजीआर की जयंती पर किया नमन

17 Jan 2021 | 12:24 PM

नयी दिल्ली 17 जनवरी (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अन्नाद्रमुक के संस्थापक एवं तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम जी रामचंद्रन की जयंती पर नमन किया।

see more..
राजनाथ, गडकरी कल करेंगे राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह की शुरुआत

राजनाथ, गडकरी कल करेंगे राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह की शुरुआत

17 Jan 2021 | 12:16 PM

नयी दिल्ली 17 जनवरी (वार्ता ) रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह तथा सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी सोमवार को यहां एक माह तक चलने वाले राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा अभियान की शुरुआत करेंगे।

see more..
image