Friday, Nov 16 2018 | Time 15:46 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • श्रीलंका में नयी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पास
  • वर्मा के खिलाफ प्रतिकूल बातें, सुप्रीम कोर्ट ने जवाब मांगा
  • आदिवासी जिलों में सबसे कम प्रत्याशी, सर्वाधिक रीवा में
  • यूपीए के शासन में वापस आए काले धन से दोगुना धन मोदी के शासन में गया विदेश- मोइली
  • यूपीए के शासन में वापस आए काले धन से दोगुना धन मोदी के शासन में गया विदेश- मोइली
  • भगवान अय्यप्पा मंदिर तीर्थयात्रियों के लिए आज से खुलेगा
  • अब राजा भैया ने की नये दल के गठन का एेलान
  • कुपवाड़ा में सुरक्षा बलों ने दो युवकों को हिरासत में लिया
  • पहली बार जॉर्डन से भिड़ने को तैयार भारत
  • पहली बार जॉर्डन से भिड़ने को तैयार भारत
  • ट्राई के काल ड्रॉप परीक्षण मानकों पर रिलायंस जियो सफल
  • कांग्रेस का नहीं जोगी का गढ़ है मरवाही
  • कांग्रेस का नहीं जोगी का गढ़ है मरवाही
  • हत्या के आरोपी ने की पुलिस उप निरीक्षक की गोली मार कर हत्या
  • सुरेन्द्रनगर में किसान ने की खुदकुशी
राज्य Share

शाह ने कबीरपंथ के धर्मगुरू प्रकाश मुनि साहेब से लिया आर्शीवाद

शाह ने कबीरपंथ के धर्मगुरू प्रकाश मुनि साहेब से लिया आर्शीवाद

रायपुर 05सितम्बर(वार्ता)छत्तीसगढ़ के एक दिवसीय दौरे पर पहुंचे भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने आज यहां कबीरपंथ के बड़े धर्मगुरू प्रकाश मुनि साहेब से मुलाकात उनसे आर्शीवाद लिया।

मुख्यमंत्री डा.रमन सिंह की आज राजनांदगांव के प्रसिद्ध मां बम्लेश्वरी के स्थल डोगरगढ़ से शुरू हो रही अटल विकास यात्रा को हरी झंडी दिखाने पहुंचे श्री शाह रायपुर पहुंचने के बाद विमानतल से सीधे राजधानी के कटोरा तालाब इलाके में स्थित आश्रम में पहुंचे,और प्रकाश मुनि साहेब से मुलाकात की।श्री शाह के साथ मुख्यमंत्री डा.सिंह भी थे। दोनो नेताओं ने कबीरपंथी धर्मगुरू से आर्शीवाद लिया।

श्री शाह का पहले विमानतल से सीधे डोगरगढ़ पहुंचने का कार्यक्रम था,लेकिन अचानक ही उनका प्रकाश मुनि साहेब से मुलाकात का कार्यक्रम तय हुआ। दोनो नेता इस मुलाकात के बाद हेलीकाप्टर से लगभग 100 किमी दूर डोगरगढ़ के लिए रवाना हो गए।

श्री शाह के अचानक कार्यक्रम तय होने को राज्य में नवम्बर के अन्त में होने वाले विधानसभा चुनावों से भी जोड़कर देखा जा रहा है। राज्य में कबीरपंथ के अनुयायियों की बहुत बड़ी तादाद है। इस कारण सभी राजनीतिक दलों के नेता कबीरपंथी अनुयायियों को रिझाने का प्रयास करते है।

image