Sunday, Feb 17 2019 | Time 16:59 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तुर्की ने चार विदेशी संदिग्धों को हिरासत में लिया
  • मुरादाबाद- कश्मीरी छात्रों के बारे में छानबीन जारी
  • सरकारी चिकित्सा महाविद्यालयों में शिक्षकों के 153 पद भरने के लिए मंत्रिमंडल की स्वीकृति
  • शाह सोमवार को जयपुर आयेंगे
  • संजय तोमर और श्री सीमा बने ‘मैक्स लाइफ इंश्योरेंस - द रन’ के चैंपियन
  • पुल की रेलिंग तोड़ गहरे नाले में गिरी बस, तीन की मौत पचास घायल
  • पुलवामा हमले के दोषियों को बख्शा नहीं जायेगा: नकवी
  • सुरक्षा हमारे लिए कोई मसला नहीं : मीरवाइज
  • पंजाब कांग्रेस भवन में पुलवामा के शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि
  • विश्वेन्द्र ने शहीद के परिजनों को बंधाया ढांढस
  • नारायणस्वामी का धरना पांचवे दिन भी जारी रहा
  • देवरिया में शहीद विजय के घर कल जायेंगे योगी
  • फोटो कैप्शन-पहला सेट
  • मोदी ने ईमानदारी से चलायी है पांच साल सरकार: नकवी
  • चीन में मकान ढहने से तीन लोगों की मौत, 14 घायल
राज्य Share

एससी-एसटी कानून में छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं : तेजस्वी

एससी-एसटी कानून में छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं : तेजस्वी

पटना 11 सितम्बर (वार्ता) बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने आज कहा कि अनुसूचित जाति(एससी)-जनजाति (एसटी) अत्याचार निवारण कानून में किसी भी तरह के छेड़छाड़ को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा।

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के वरिष्ठ नेता श्री यादव ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की गैर मौजूदगी में राजद की उच्चस्तरीय बैठक के बाद सरकारी आवास पर आयोजित संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया कि केंद्रकी नरेंद्र मोदी सरकार शुरू से ही एससी-एसटी कानून के खिलाफ शुरू से ही रही है। केंद्रकी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार सही मायने में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ(आरएसएस) मुख्यालय नागपुर का कानून थोपना चाहती है। इस कानून को लेकर केंद्र की मौजूदा सरकार का रुख सकारात्मक नहीं रहा है।

प्रतिपक्ष के नेता ने कहा कि एससी-एसटी कानून को लेकर जब मामला उच्चतम न्यायालय में गया था तब अदालत में मजबूती के साथ सरकार की ओर से पक्ष नहीं रखा गया। इस सच्चाई को देश के लोग समझ रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस वर्ष दो अप्रैल को उच्चतम न्यायालय के इस फैसले के खिलाफ एएसी-एसटी के साथ ही विभिन्न संगठनों के आह्वान पर लोग सड़क पर उतरे और भारत बंद किया गया। इससे आरएसएस और भाजपा पर दबाव बना जिसका अनुमान केंद्र की सरकार को नहीं था।

श्री यादव ने कहा कि इस मद्दे को लेकर विपक्षी दलों के बढ़ते दबाव को देखकर आनन-फानन में मोदी सरकार को विवश होकर पुराने कानून के स्थान पर दूसरा कानून बनाने के लिये संसद में विधेयक लाना पड़ा और विधेयक पारित भी हुआ। उन्होंने कहा कि लोकसभा में कानून तो लाया गया लेकिन बड़ी ही चतुराई के साथ उसे निष्प्रभावी होने दिया गया और सरकार चुपचाप देखती रही । दरअसल केंद्र की भाजपा सरकार आरक्षण को समाप्त करना चाहती है । उन्होंने कहा कि यदि इस मुद्दे को लेकर भाजपा तनिक भी संवेदनशील है तो उसे लोकसभा का विशेष सत्र बुलाकर एससी-एसटी कानून को नौवीं अनुसूचि में शामिल करे ताकि इसमें छेड़छाड़ की तनिक भी गुजांइश नह रहे।

उपाध्याय सूरज रमेश

जारी (वार्ता)

More News
जम्मू में कर्फ्यू तीसरे दिन भी जारी, स्थिति सामान्य

जम्मू में कर्फ्यू तीसरे दिन भी जारी, स्थिति सामान्य

17 Feb 2019 | 4:53 PM

जम्मू, 17 फरवरी (वार्ता) पुलवामा आतंकी हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 40 जवानों के शहीद हाेने की घटना के विरोध में शुक्रवार को आयोजित बंद के दौरान भड़की हिंसा के बाद लागू कर्फ्यू तीसरे दिन रविवार को भी जारी रहा।

 Sharesee more..

शाह सोमवार को जयपुर आयेंगे

17 Feb 2019 | 4:51 PM

 Sharesee more..
image