Wednesday, Jan 29 2020 | Time 09:45 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ब्राजील में बाढ़ से 52 लोगों की मौत
  • चीन में कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या हुई 132
  • जापान में भूकंप के तेज झटके
  • माली में हिंसा से दो लाख लोग विस्थापित : संरा प्रवक्ता
  • दुनियाभर में कोरोना वायरस के 4593 मामलों की पुष्टि
  • यरूशलेम में इजरायली बलों के साथ झड़पों में 12 फिलिस्तीनी घायल
  • इराक में सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी
  • क्यूबा में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए
  • हमास ने अमेरिका के शांति समझौते को खारिज किया
  • जमैका में महसूस किए गए भूकंप के तेज झटके
  • कोरोना वायरस का तेल बाजार पर असर को लेकर सऊदी ने की चर्चा
  • सीएआर में सशस्त्र समूह के दो ग्रुप के बीच भिड़ंत में दर्जनों की मौत
  • चिली में महसूस किए गए भूकंप के झटके
  • उत्तरी सेना कमांडर रनबीर ने मुर्मु से की मुलाकात
मनोरंजन » टेलीविजन


राम के किरदार के लिये रिजेक्ट कर दिये गये थे अरुण गोविल

राम के किरदार के लिये रिजेक्ट कर दिये गये थे अरुण गोविल

पटना 27 नवंबर (वार्ता) दूरदर्शन के लोकप्रिय सीरियल रामायण में अपने निभाये किरदार ‘राम’ के जरिये दर्शकों के दिलों पर अमिट छाप छोड़ने वाले अरुण गोविल का कहना है कि पहले उन्हें राम के किरदार के लिये रिजेक्ट कर दिया गया था।

यूं तो रामायण पर आधारित कई टीवी सीरियल और फिल्मों का निर्माण हुआ है लेकिन जब कभी राम का किरदार जेहन में आता है तो सबसे पहले अरुण गोविल का नाम सबकी जुबान पर आता है।
हालांकि रामायण के किरदार के लिये पहले अरुण गोविल को ऑडिशन में रिजेक्ट भी होना पड़ा था।
राजधानी पटना में एक कार्यक्रम में शिरकत करने आये अरुण ने बताया कि उन्हें पहले राम के किरदार के लिये रिजेक्ट कर दिया गया था।

अरुण ने बताया कि रामानंद सागर का बहुचर्चित शो 'रामायण' में राम के किरदार के लिये उन्होंने ऑडिशन दिया था लेकिन उन्हें पहले रिजेक्ट कर दिया गया था लेकिन किस्मत को शायद यही मंजूर था कि राम का किरदार वह भी निभाये और बाद में उन्हें रामायण में इस किरदार को निभाने का अवसर मिला और यह उनकी पहचान बन गयी।

रामायण के दौर में अरुण गोविल की लोकप्रियता का आलम यह था कि लोग उन्हें ही भगवान राम समझ लेते थे।
उन्हें देख हाथ जोड़ते और उनके पांव छूते।
अरुण गोविल ने कहा मैं राम नहीं हूं।
केवल रामायण सीरियल का एक पात्र हूं।
इस जिम्मेदारी को मैने गंभीरता से निभाया।
भगवान राम के अभिनय की अनुभूति अद्भुत है।
इसे शब्दों में नहीं बांधा जा सकता।
रामायण सीरयिल इतिहास के पन्नों में दर्ज है और इसने लोगों के चरित्र निर्माण में अहम भूमिका निभायी।

अरुण गोविल ने बताया कि रामानंद सागर ने मुझे सबसे पहले सीरियल 'विक्रम और बेताल में राजा विक्रमादित्य का रोल दिया था।
इसकी सफलता के बाद 'रामायण में भगवान राम का रोल मिला।
बताया जाता है कि 'रामायण' में राम का किरदार निभाना कोई आसान बात नहीं थी।
अरुण गोविल को इसके लिए कई चीजों का त्याग करना पड़ा था।
रामानंद सागर का ऐसा मानना था कि भगवान राम जिन्हें मर्यादा पुरुषोत्तम के रूप में जाना जाता है ऐसे किरदार को परदे पर निभाने वाले इंसान में कोई भी बुरी आदत नहीं होनी चाहिए।
लेकिन अरुण गोविल को सिगरेट पीने की लत थी।
लिहाजा इस रोल को पाने के लिए अरुण ने सिगरेट की लत को हमेशा के लिये छोड़ दिया।

वर्ष 1997 में प्रदर्शित फिल्म लव-कुश में जीतेन्द्र ने राम जबकि अरुण गोविल ने लक्ष्मण का किरदार निभाया था।
अरुण गोविल ने बताया कि फिल्म के निर्माता ने जब उनसे लक्ष्मण का किरदार निभाने की कोशिश की तो मैंने उन्हें यह कहकर मना कर दिया था कि मेरी छवि राम की है और शायद दर्शक इसे ही पसंद करते हैं लेकिन निर्माता के जोर देने पर मैंने लव-कुश में लक्ष्मण का किरदार निभाया लेकिन दर्शकों को फिल्म पसंद नही आयी।

 बॉलीवुड और छोटे पर्दे के कई कलाकारों ने राजनीति के क्षेत्र में कदम रखा है।
अरुण गोविल ने राजनीति में जाने संबंधी सवाल पर कहा कि उन्हें राजनीति में रुचि है लेकिन उनमें राजनीति में आने जाने का गुण नही है।
उन्होंने कहा कि कई राजनीतिक दलों ने उन्हें समय-समय पर राजनीति में शामिल होने के प्रस्ताव दिये हैं लेकिन वह राजनीति में नही आना चाहते हैं।

अरुण गोविल ने अब फिल्मों और टीवी से किनारा कर लिया है।
अरुण गोविल ने बताया कि यह जरूरी नही है कि 400 से अधिक फिल्मों में काम कर या अधिक सीरियल में काम कर पहचान बनायी जाये।
मुझे लोग रामायण में निभाये किरदार राम के नाम से जानते हैं और यह मेरे लिये गर्व की बात है।
अरुण गोविल से पूछा गया कि मौजूदा दौर में यदि रामायाण पर आधारित फिल्म बनायी जाये तो वह किसे राम के किरदार में देखना पसंद करेंगे।
अरुण गोविल ने कहा कि इस बारे में उन्होंने नहीं सोंचा है यह तो फिल्म बनने के बाद पता चल सकेगा कि राम का किरदार नये अभिनेता ने कैसा निभाया है।

अरुण गोविल से अयोध्या में राम मंदिर बनाये जाने संबंधी सवाल के जवाब में कहा कि अब तो न्यायालय ने भी राम मंदिर बनाने की अनुमति दे दी है तब वहां अवश्य राम मंदिर बनाया जाना चाहिये।
उन्होंने बताया कि वह बिहार कई बार आये हैं।
बिहार कला एंव संस्कृति के रूप में जाना जाता रहा है।
बिहार में कला एंव संस्कृति को बढ़ावा देने की जरूरत है।

प्रेम सूरज
वार्ता

द

द इंटर्न के रीमेक में ऋषि कपूर के साथ काम करेंगी दीपिका पादुकोण

मुंबई 28 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड की डिंपल गर्ल हॉलीवुड फिल्म द इंटर्न के रीमेक में ऋषि कपूर के साथ काम करने को लेकर रोमांचित है।

सलमान

सलमान के साथ फिर काम करने को लेकर उत्साहित है दिशा

मुंबई 28 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री दिशा पटानी दबंग स्टार सलमान खान के साथ फिर से काम करने को लेकर अति उत्साहित है।

राधे

राधे में फाइट सीन के लिये साढ़े सात करोड़ होंगे खर्च

मुंबई 28 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड के दबंग स्टार सलमान खान की आने वाली फिल्म राधे में फाइट सीन के लिये साढ़े सात करोड़ रूपये खर्च होंगे।

कृष

कृष 4 में ऋतिक के साथ काम करेगी दीपिका!

मुंबई 27 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड की डिंपल गर्ल दीपिका पादुकोण माचो मैन ऋतिक रौशन के साथ काम करती नजर आ सकती है।

तान्हाजी

तान्हाजी में मेरा निभाया किरदार बेहतरीन किरदारों में से एक: सैफ

मुंबई 27 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेता सैफ अली खान का कहना है कि फिल्म 'तान्हाजी' में उनका निभाया किरदार उनके करियर के बेहतरीन किरदार में से एक है।

अनिल

अनिल कपूर के साथ काम कर रोमांचित है दिशा पटानी

मुंबई 27 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड अभिनेत्री दिशा पटानी मिस्टर इंडिया अनिल कपूर के साथ काम कर रोमांचित महसूस कर रही है।

अमिताभ

अमिताभ बच्चन ने दिव्यांग बच्चों के साथ गाया राष्ट्रगान

मुंबई 27 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने दिव्यांग बच्चों के साथ राष्ट्रगान गाया है।

पचास-साठ

पचास-साठ के दशक के सुपरस्टार थे भारत भूषण

..पुण्यतिथि 27 जनवरी  ..
मुंबई 26 जनवरी (वार्ता)बॉलीवुड में भारत भूषण को एक ऐसे अभिनेता के तौर पर याद किया जाता है जिन्होंने पचास-साठ के दशक में अपनी अभिनीत फिल्मों से दर्शको के बीच खास पहचान बनायी।

संघर्ष

संघर्ष के बाद अजित ने बनायी बॉलीवुड में पहचान

..जन्मदिवस 27 जनवरी  ..
मुंबई 26 जनवरी(वार्ता) दर्शकों में अपनी विशिष्ट अदाकारी और संवाद अदायगी के लिए मशहूर अभिनेता अजित को बालीवुड में एक अलग मुकाम हासिल करने के लिए प्रारंभिक दौर में कड़ा संघर्ष करना पड़ा था।

फौजी

फौजी का किरदार फिर निभाना चाहते हैं शाहरुख खान

मुंबई 26 जनवरी (वार्ता) बॉलीवुड के किंग खान शाहरूख खान एक बार फिर फौजी का किरदार निभाना चाहते हैं।

भारतीय सिनेमा के युगपुरूष थे चित्रगुप्त

भारतीय सिनेमा के युगपुरूष थे चित्रगुप्त

(पुण्यतिथि 14 जनवरी के अवसर पर)
मुंबई 13 जनवरी (वार्ता)भारतीय सिनेमा के ‘युगपुरूष’ चित्रगुप्त का नाम एक ऐसे संगीतकार के रूप में याद किया जाता है जिन्होंने लगभग चार दशक तक अपने सदाबहार एवं रूमानी गीतों से श्रोताओं के दिलों पर अमिट छाप छोड़ी।

image