Saturday, Jan 18 2020 | Time 20:55 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • प्रीमियर बैडमिंटन लीग के पांचवें सीजन का चेन्नई में आगाज
  • प्रीमियर बैडमिंटन लीग के पांचवें सीजन का चेन्नई में आगाज
  • ममता सरकार को आयुष्मान योजना पर करना चाहिए विचार: धनखड़
  • मोदी,सोनिया,नड्डा ने चोपड़ा के निधन पर जताया शोक
  • ज़ी ने लांच किया भोजपुरी मूवी चैनल ज़ी बाइस्कोप
  • ज़ी ने लांच किया भोजपुरी मूवी चैनल ज़ी बाइस्कोप
  • चंद्रबाबू ने तेदेपा संस्थापक रामा राव को दी श्रद्धांजलि
  • तटरक्षक दल ने डूबती नौका तथा पांच मछुआरों को बचाया
  • प्रज्ञा को जहरीला पत्र भेजने वाला डॉक्टर हिरासत में
  • गुजरात में शीतलहर जारी, नलिया 3 8 डिग्री के साथ सबसे ठंडा
  • सिद्दारमैया ने बाढ़, मंगलुरु फायरिंग पर शाह को घेरा
  • दिल्ली विस के पूर्व अध्यक्ष कांग्रेस नेता योगानंद शास्त्री का पार्टी से इस्तीफा
  • गरीबों के लिए समर्पित है झारखंड सरकार : हेमंत
  • शबाना सड़क दुर्घटना में घायल, अस्पताल में भर्ती
राज्य » राजस्थान


प्रदर्शन कर रहीं नर्सिंगकर्मी महिलाओं से मारपीट करना निंदनीय-पूनिया

प्रदर्शन कर रहीं नर्सिंगकर्मी महिलाओं से मारपीट करना निंदनीय-पूनिया

बाड़मेर, 25 नवम्बर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) प्रदेशाध्यक्ष डॉ सतीश पूनियां कहा है कि आज काँग्रेस प्रदेश कार्यालय के बाहर जनसुनवाई के दौरान रोजगार के लिए प्रदर्शन कर रही नर्सिंगकर्मी महिलाओं से मारपीट करना, उनके बाल खींचकर प्रताड़ित करना, उनसे गाली गलौच करना घोर निंदनीय है।

डा़ पूनिया ने पत्रकारों से कहा कि ऐसी घटनाओं की भाजपा निंदा और भर्त्सना करती है। जबकि कांग्रेस सरकार महिलाओं की सुरक्षा, सम्मान करने की बात करती है, जो कि झूठ है। उन्होंने कहा कि मुख्यमन्त्री अशोक गहलोत राजस्थान की जनता से किये गए चुनावी वादे पूरे करने के बजाए सुबह से शाम तक भाजपा, आर.एस.एस., प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह पर लगातार टीका टिप्पणी करके अपनी आका सोनिया जी की खुशामद में लगे हुए हैं। ताकि कैसे भी करके मुख्यमंत्री की कुर्सी बची रहे। उनको लगता है कि ये मेरा अंतिम कार्यकाल है, इस कार्यकाल को कैसे पूरा करूं। निकाय चुनाव में मिली बढ़त को बढ़ा-चढ़ा कर बता रहे हैं। ऐसा लगता है कि वह अपने पुत्र की लोकसभा चुनाव में हार के बाद विचलित हो रहे हैं, इस कारण वो झूठे और भ्रम फैलाने वाले बयान देते रहते हैं।

उन्होंने महाराष्ट्र में हो रहे घटनाक्रम पर कहा कि कांग्रेस राज में 81 बार राष्ट्रपति शासन विभिन्न राज्यों में लगाया गया। 90 के दशक में हरियाणा के चुनाव में बहुमत को दरकिनार करके भजनलाल को सत्ता दिलाने का काम कांग्रेस ने किया। ऐसे कई उदाहरण हैं। इसलिए कांग्रेस और कांग्रेस के नेता हमें यह नहीं सिखाए क्या सही है, बल्कि अपनी गिरहबान में झांके। राजस्थान के मुख्यमंत्री को महाराष्ट्र की चिंता न करके राजस्थान की जनता की चिंता करनी चाहिए। राजस्थान में सरकारी तंत्र और अपने सरकार के मंत्रियों के दम पर निकाय चुनाव में लोकतंत्र की हत्या करने वाले अशोक गहलोत महाराष्ट्र में लोकतंत्र की हत्या की दुहाई दे रहे हैं।

इससे पहले डा़ पूनिया बाड़मेर के बांछड़ाउ के शहीद पीराराम जी थोरी की पार्थिव देह के साथ उनके पैतृक ग्राम पहुंचे और उनके परिजनों से मिलकर उन्हें सांत्वना दी। इस दौरान प्रदेशाध्यक्ष पूनिया के साथ सेवानिवृत्त आईपीएस महेंद्र चौधरी, प्रियंका चौधरी, बाला राम मूंड, राजेंद्र सिंह, आयदान सिंह भाटी, लादूराम मेघवाल सहित भाजपा के कई कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

भाटी सुनील

वार्ता

image