Saturday, Sep 22 2018 | Time 03:32 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राफेल सौदा प्रकरण, फ्रांस की कंपनियां भारतीय सहयोगी चुनने को लेकर स्वतंत्र: फ्रांस सरकार
  • राफेल सौदा प्रकरण, फ्रांस की कंपनियां भारतीय सहयोगी चुनने को लेकर स्वतंत्र: फ्रांस सरकार
  • मलिक के कमाल से पाकिस्तान ने अफगानिस्तान को हराया
  • राष्ट्रपति ने नौका हादसे की जांच का दिया आदेश
  • नन से दुष्कर्म का आरोपी बिशप मुलक्कल गिरफ्तार
भारत Share

नाले के अंदर जाकर सफाई पर प्रतिबंध लगे:पासवान

नाले के अंदर जाकर सफाई पर प्रतिबंध लगे:पासवान

नयी दिल्ली 10 सितम्बर (वार्ता) लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के प्रमुख और केन्द्रीय मंत्री राम विलास पासवान ने राष्ट्रीय राजधानी में सीवर की सफाई के दौरान कल चार मजदूरों की मौत होने पर दुख व्यक्त करते हुए नाले के अंदर जाकर सफाई करने पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने पर जोर दिया है।

श्री पासवान ने सोमवार को यहां जारी बयान में कहा कि यह हृदय विदारक, शर्मनाक और अमानवीय घटना है। यह बहुत दुखद है कि इस प्रकार की घटनायें हर महीने हो रही हैं। लोजपा वर्षों से यह मांग कर रही है कि नाले के अंदर जाकर सफाई करने पर तुरंत प्रतिबंध लगना चाहिए। इसके लिए तत्काल कानून बनाकर कठोर कार्रवाई का प्रावधान किये जाने चाहिए जिसके तहत कम से कम 10 साल के जेल की सजा और 50 लाख जुर्माने का प्रावधान हो।

उन्होंने कहा कि यह कानून उन ठेकेदारों पर भी लागू होना चाहिए जो मजदूरों से नाले के भीतर जाकर सफाई का काम कराते हैं।

उल्लेखनीय है कि दिल्ली के करमपुरा में डीएलएफ की एक कालोनी में नाले की सफाई के दौरान इन मजदूरों की मौत हो गयी थी।

अरुण.श्रवण

वार्ता

More News
डॉक्टरों की पहली पदोन्नति के लिए जरूरी हो ग्रामीण सेवा : नायडू

डॉक्टरों की पहली पदोन्नति के लिए जरूरी हो ग्रामीण सेवा : नायडू

21 Sep 2018 | 11:28 PM

नयी दिल्ली 21 सितम्बर (वार्ता) उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने चिकित्सा के पेशे को मिशन बताते हुये युवा डॉक्टरों से वंचितों की सेवा का संकल्प लेने की अपील की और कहा कि उनकी राय में पहली पदोन्नति के लिए ग्रामीण इलाकों में कम से कम तीन साल की सेवा अनिवार्य होनी चाहिये।

 Sharesee more..
‘सीबीआई निदेशक के खिलाफ शिकायत दुर्भावना से ग्रस्त’

‘सीबीआई निदेशक के खिलाफ शिकायत दुर्भावना से ग्रस्त’

21 Sep 2018 | 11:16 PM

नयी दिल्ली, 21 सितम्बर (वार्ता) केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने दूसरे नंबर के अधिकारी राकेश अस्थाना की जांच एजेंसी के निदेशक आलोक वर्मा के खिलाफ मुख्य सतर्कता आयोग (सीवीसी) के समक्ष दी गई शिकायत ‘दुर्भावनापूर्ण’ और सत्य से परे है।

 Sharesee more..
image