Wednesday, Jan 23 2019 | Time 06:22 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अफगानिस्तान में गोलीबारी में अमेरिकी सैनिक की मौत
  • अफगानिस्तान में गोलीबारी में अमेरिकी सैनिक की मौत
  • नागालैंड सरकार ने किया मुख्य सचिव का तबादला
  • रूसी विमान के अपहरण की कोशिश, एक यात्री गिरफ्तार
राज्य Share

भामाशाह डिजिटल परिवार योजना का शुभारंभ

भामाशाह डिजिटल परिवार योजना का शुभारंभ

जयपुर, 04 सितम्बर (वार्ता) राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने आज यहां भामाशाह डिजिटल परिवार योजना का शुभारंभ किया।

श्रीमती राजे ने अमरूदों का बाग में आयोजित मुख्यमंत्री-लाभार्थी जनसवांद कार्यक्रम में इस योजना का शुभारंभ किया। योजना के तहत इंटरनेट सेवा युक्त स्मार्टफोन खरीदने के लिए राज्य सरकार की ओर से राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा के पात्र प्रत्येक भामाशाह परिवार को दो चरणों में कुल एक हजार रुपये की सहायता दी जायेगी। इसमें पांच सौ रूपये की पहली किस्त स्मार्ट फोन के लिए तथा पांच सौ रूपये की दूसरी किस्त इंटरनेट के लिए दी जाएगी।

उन्होंने अनुसूचित जाति, जनजाति, दिव्यांगजन, सफाई कर्मचारी तथा अन्य पिछड़ा वर्ग के ऋणमाफी योजना के लाभार्थी एवं नवनियुक्त सफाईकर्मियों के साथ जनसंवाद में कहा कि हमने हर वर्ग के गरीब परिवार को उसका हक दिलाने के लिए भामाशाह योजना शुरू की। जिसके माध्यम से न केवल कालाबाजारी रूकी बल्कि लाभार्थियों को योजनाओं के लाभ सीधे उनके खाते में मिलने लगा।

उन्होंने कहा कि अब भामाशाह डिजिटल योजना के माध्यम से जरूरतमंद परिवारों को घर बैठे ही मोबाइल पर सरकारी योजनाओं की जानकारी मिल सकेगी और वे इनका लाभ ले सकेंगे। उन्होंने कहा कि कारपेंटर, केश कलाकार, कुम्हार, मोची और प्लम्बर के कौशल विकास के लिए दिए जा रहे दो लाख रूपये के ऋण के ब्याज की राशि राज्य सरकार ही वहन करेगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने अनुसूचित जाति, जनजाति वित्त एवं विकास निगम से कर्ज लेने वाले एससी, एसटी, सफाई कर्मचारियों, दिव्यांगों और ओबीसी के दो लाख रूपये तक के ऋण भी ब्याज सहित माफ किए हैं। 114 करोड़ रूपये की इस ऋण माफी से उन लोगों को लाभ मिल रहा है जो यह ऋण चुकाने में सक्षम नहीं थे।

उन्होंने कहा कि पिछले साढ़े चार साल के दौरान राज्य सरकार ने कुशल वित्तीय प्रबंधन करते हुए जरूरतमंदों को राहत देने के लिए हर प्रयास किया। उन्होंने कहा कि सरकार ने सड़क, बिजली, पेयजल तथा चिकित्सा सुविधाओं को बेहतर बनाया है जिस कारण आज प्रदेश विभिन्न क्षेत्रों में नम्बर वन है। उन्होंने कहा कि भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के माध्यम से आज गरीब से गरीब परिवार भी बड़े निजी अस्पतालों में अपना इलाज करवा रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने स्वच्छ राजस्थान के निर्माण के लिए लम्बे समय से अधूरा काम पूरा किया और 184 नगरीय निकायों में 21 हजार से अधिक सफाई कर्मचारियों की नियुक्ति का काम हाथ में लिया। उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित लाभार्थियों को स्वच्छता की शपथ भी दिलाई।

इस अवसर पर श्रीमती राजे ने एससी-एसटी वित्त निगम की योजनाओं में स्वरोजगार के लिए 31 मार्च 2016 तक दो लाख रूपये तक के ऋणी 11 लाभार्थियों को टोकन स्वरूप ऋण माफी योजना के अदेयता प्रमाण पत्र तथा 11 लाभार्थियों को ऋण राशि के चेक प्रदान किए। उन्होंने ग्यारह दिव्यांगों को मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल तथा इतने ही लाभार्थियों को स्मार्ट फोन भी वितरित किए।

इस मौके गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया तथा अन्य कई मंत्री और जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

More News
असली मुख्यमंत्री कौन, कमलनाथ या दिग्विजय : शिवराज

असली मुख्यमंत्री कौन, कमलनाथ या दिग्विजय : शिवराज

22 Jan 2019 | 11:46 PM

बड़वानी, 22 जनवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कहा कि प्रदेश में यह समझ में नहीं आ रहा है कि असली मुख्यमंत्री कौन है।

 Sharesee more..
अजय सिंह ने की वीवीपैट पर्चियों की गणना की मांग

अजय सिंह ने की वीवीपैट पर्चियों की गणना की मांग

22 Jan 2019 | 11:39 PM

भोपाल, 22 जनवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश विधानसभा में पूर्व नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अजय सिंह ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को पत्र लिखकर उनसे विंध्य क्षेत्र की 26 विधानसभा क्षेत्रों की वीवीपैट पर्चियों की गणना कर ईवीएम से प्राप्त मतों से उनका मिलान करने का अनुरोध किया है।

 Sharesee more..
खट्टर का जल स्रोतों को स्वच्छ रखने का आहवान

खट्टर का जल स्रोतों को स्वच्छ रखने का आहवान

22 Jan 2019 | 11:31 PM

चंडीगढ़/प्रयागराज, 22 जनवरी(वार्ता) हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि स्वच्छ जल सभी की जरूरत है इसलिए सभी को नदियों, तालाबों और अन्य जलधाराओं को स्वच्छ रखने का संकल्प लेकर आगे बढ़ना होगा ताकि भावी पीढ़ी को एक अच्छी सौगात सौंपी जा सके।

 Sharesee more..

यौन शोषण मामले में दोषी को कठोर सजा

22 Jan 2019 | 11:40 PM

 Sharesee more..
image