Thursday, Feb 25 2021 | Time 21:44 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कथित गोडसे समर्थक चौरसिया के कांग्रेस में आने पर राजनीति शुरू
  • क्षितिज की नाबाद पारी की बदौलत दिल्ली की हिमाचल पर शानदार जीत
  • क्षितिज की नाबाद पारी की बदौलत दिल्ली की हिमाचल पर शानदार जीत
  • किसानों को सर्वाेच्च प्राथमिकता दे रही सरकार : मोदी
  • दीपक खत्री की विस्फोटक सेंचुरी से एस एस स्पोर्ट्स सेमीफाइनल में
  • दीपक खत्री की विस्फोटक सेंचुरी से एस एस स्पोर्ट्स सेमीफाइनल में
  • नॉर्थईस्ट प्लेआफ में पहुंचने से केवल 1 अंक दूर
  • नॉर्थईस्ट प्लेआफ में पहुंचने से केवल 1 अंक दूर
  • डोर टू डोर जाकर तैयार करें मतदाता सूची: अजय कुमार
  • पुड्डुचेरी में सातवीं बार राष्ट्रपति शासन लागू
  • बिहार के विकास पर केंद्रित है बजट : तारकिशोर
  • प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना “ पर ड्रॉप, मोर क्रॉप ” का लाभ उठायें किसान
लोकरुचि


रिहर्सल के लिए लायन सफारी में छोड़े गए भरत, सोना

रिहर्सल के लिए लायन सफारी में छोड़े गए भरत, सोना

इटावा 20 फरवरी (वार्ता) उत्तर प्रदेश के इटावा सफारी पार्क में अब पर्यटकों का शेरों से मुलाकात का इंतजार खत्म होने वाला है और जल्द ही शेरों के दीदार होंगे।

लायन सफारी में शेरों को छोड़ने के लिए रिहर्सल की शुरुआत शनिवार से हो गई है। पहले दिन दो शेरों भरत व सोना को लायन सफारी में छोड़ा गया और इनकी गतिविधियों पर नजर रखी गई। यह रिहर्सल अभी जारी रहेगा। इसके बाद लायन सफारी को पर्यटकों के लिए खोल दिया जाएगा।

लायन सफारी को पर्यटकों के लिए खोले जाने की तैयारी पिछले काफी दिनों से चल रही थी। इससे पहले रिहर्सल कराया जाना था। शनिवार सुबह अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक पश्चिमी क्षेत्र सुनील चौधरी ने सफारी का निरीक्षण किया और सफारी को खोले जाने की पूरी प्रक्रिया की जानकारी ली।

दोपहर करीब 12 बजे सुनील चौधरी तथा सफारी के डायरेक्टर सुनील मिश्रा की मौजूदगी में दो शेरों भरत और सोना को छोड़ा गया । इसके लिए लायन सफारी का 27 हेक्टेयर क्षेत्र चिन्हित किया गया है। यह शेर खुले में रहेंगे और पर्यटक बंद बसों में इनका दीदार करेंगे।

सफारी के डिप्टी डायरेक्टर सुरेश चन्द राजपूत ने बताया कि शनिवार को भरत और सोना को छोड़ा गया और इनकी गतिविधियों पर नजर रखी गई। पहले दिन यह दोनों ज्यादा दूर तक नहीं गए। दोपहर बाद दो बजे इन्हे एनीमल हाउस में वापस लाया गया। उन्होने बताया कि यह प्रक्रिया अभी जारी रहेगी। शेरों के व्यवहार और गतिविधियों का अध्ययन किया जाएगा। शेरों के अभ्यस्त हो जाने और सामान्य स्थिति हो जाने पर लॉयन सफारी को पर्यटकों के लिए खोल दिया जाएगा।

लायन सफारी में शेरों की निगरानी की भी कड़ी व्यवस्था की गई है। ड्रोन कैमरों से शेरों पर नजर रखी जाएगी। यह निगरानी लगातार चलती रहेगी। डिप्टी डायरेक्टर सुरेश चन्द राजपूत ने बताया कि सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त रखीं जाएंगी जिससे सुरक्षा भी पूरी रहे और पर्यटक शेरों का दीदार भी कर सकें। शेरों को अभ्यस्त करने के लिए ही रिहर्सल किया जा रहा है। शुरुआती दौर में पांच शेरों के दीदार पर्यटकों को कराए जाने की योजना है।

लायन सफारी को 50 हेक्टेयर क्षेत्र में बनाया गया है। अभी पिछले दिनों एक मजबूत दीवार बनाकर इसके 27 हेक्टेयर क्षेत्र को अलग कर दिया गया है। इसी 27 हेक्टेयर क्षेत्र में पर्यटक भ्रमण करेंगे और इसी क्षेत्र में उन्हे पांच शेरों के दीदार होंगे। खास बात यह है कि जिन पांच शेरों के दीदार कराए जाएंगे उन सभी की जन्मस्थली लायन सफारी ही है।

सं प्रदीप

वार्ता

There is no row at position 0.
image