Tuesday, Feb 19 2019 | Time 16:55 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पूर्वोत्तर में चार रेशम परियोजनाओं का स्मृति ने किया उद्घाटन
  • पूर्वोत्तर में चार रेशम परियोजनाओं का स्मृति ने किया उद्घाटन
  • बजरंग दल की धमकी के बाद 20 कश्मीरी छात्रों ने सहारनपुर छोड़ा
  • स्थिति के अनुसार खेलना जानता हूं: पंत
  • स्थिति के अनुसार खेलना जानता हूं: पंत
  • शिवसेना ने किया नवजोत सिद्धू के खिलाफ प्रदर्शन
  • पाकिस्तान ने भारत से तनाव खत्म कराने के लिए सं रा से लगायी गुहार
  • लगातार नौंवे दिन शेयर बाजार में जारी रही बिकवाली
  • पाकिस्तान जैश पर संयुक्त राष्ट्र की कार्रवाई का विरोध नहीं करे: अमेरिका
  • स्पाइसजेट शुरू करेगी 12 नयी उड़ानें
  • उ न्या ने पूर्व मुख्यमंत्रियों को आजीवन बंगले की सुविधा की समाप्त
  • यूईएम इंडिया बनी तोशिबा वाटर सॉल्यूशंस
  • धोनी-विराट की भिड़ंत से होगी आईपीएल की शुरुआत
भारत Share

एससी एसटी अधिनियम के खिलाफ भाजपा का षडयंत्र है ‘भारत बंद’

एससी एसटी अधिनियम के खिलाफ भाजपा का षडयंत्र है ‘भारत बंद’

नयी दिल्ली 07 सितंबर (वार्ता) बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने अनुसूचित जाति एवं जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम (एससी एसटी अधिनियम) में संशोधन के खिलाफ ‘भारत बंद’ को भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) का षड़यंत्र करार देेते हुए आज कहा कि यह गलत आर्थिक नीतियों से आम जनता का ध्यान भटकाने का प्रयास है।

सुश्री मायावती ने यहां कहा कि भाजपा शासित कुछ राज्यों में भारत बंद का आयोजन वास्तव में भाजपा और आरएसएस का जातिवादी एवं चुनावी षड़यंत्र है। भाजपा की सरकारें आम जनता का ध्यान गलत आर्थिक नीतियों से भटकाना चाहते हैं इसलिये ऐसे प्रयास किये जा रहे हैं। नोटबंदी और गलत तरीके से वस्तु एवं सेवा कर प्रणाली लागू करने से कारोबार को जबरदस्त झटका लगा है। इसके कारण बेरोजगारी बढ़ी है और लोगों का पलायन बढ़ा है। पेट्रोल एवं डीजल की बढ़ती कीमतों का जिक्र करते हुए बसपा प्रमुख ने कहा कि इससे जन जीवन बुरी तरह से प्रभावित हो रहा है।

उन्होंने कहा कि एस सी एसटी अधिनियम आदिवासी समाज तथा दलित समाज के सम्मान से जुड़ा है। इसको मूल लाने के प्रयासों से समाज के कुछ वर्गों ने नाराजगी जाहिर की है लेकिन वास्तव में कुछ लोगों में इस कानून का दुरुपयोग करने के बारे गलत धारणा बन गयी है। उन्हाेंने कहा कि कानून का इस्तेमाल राज्य सरकारों की सोच पर निर्भर करता है।

बसपा प्रमुख ने कहा कि एस सी एसटी कानून की आड़ में भाजपा और आरएसएस ‘घिनौनी’ राजनीति कर रहे हैं। भारत बंद के पीछे ‘कोरी राजनीति, स्वार्थ और चुनावी षडयंत्र’ है। उन्हाेंने कहा कि मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में आगामी विधानसभा चुनावों को देखते हुए ‘जातिवादी उन्माद एवं हिंसा’ का माहौल बनाया जा रहा है।

सत्या सचिन

वार्ता

More News
स्टार्टअप को मिलेगी आयकर में छूट

स्टार्टअप को मिलेगी आयकर में छूट

19 Feb 2019 | 4:50 PM

नयी दिल्ली, 19 फरवरी (वार्ता) केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने युवाओं में उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए स्टार्टअप को आयकर में छूट देने की प्रक्रिया को सरल बनाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है।

 Sharesee more..
आदिवासी परंपराओं, रीति-रिवाजों का सम्मान संवैधानिक दायित्व: वेंकैया

आदिवासी परंपराओं, रीति-रिवाजों का सम्मान संवैधानिक दायित्व: वेंकैया

19 Feb 2019 | 4:35 PM

नयी दिल्ली, 19 फरवरी (वार्ता) उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडु ने आदिवासी समाज की परंपराओं और रीति-रिवाजों के सम्मान को संवैधानिक दायित्व बताते हुए मंगलवार को कहा कि दुनिया भर के जनजातीय समूह विविधता में एकता के उत्कृष्ट उदाहरण हैं।

 Sharesee more..
एससी/एसटी अत्याचार निवारण कानून मामले में 26 मार्च को सुनवाई

एससी/एसटी अत्याचार निवारण कानून मामले में 26 मार्च को सुनवाई

19 Feb 2019 | 3:45 PM

नयी दिल्ली, 19 फरवरी (वार्ता) उच्चतम न्यायालय अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति :एससी-एसटी: (अत्याचार निवारण) कानून से संबंधित फैसले के विरुद्ध केंद्र की पुनर्विचार याचिका एवं संशोधन कानून को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर 26 मार्च को सुनवाई करेगा।

 Sharesee more..
दिग्विजय की सिद्धू को सलाह, अपने दोस्त इमरान को समझायें

दिग्विजय की सिद्धू को सलाह, अपने दोस्त इमरान को समझायें

19 Feb 2019 | 3:39 PM

नयी दिल्ली, 19 फरवरी (वार्ता) पुलवामा हमले पर विवादित बयान के बाद आलोचना झेल रहे पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को उनकी पार्टी कांग्रेस के ही वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने नसीहत देते हुये कहा है कि उनके दोस्त पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की वजह से उन्हें गालियां पड़ रही हैं और वह अपने मित्र को समझायें।

 Sharesee more..
image