Sunday, Jul 21 2019 | Time 08:48 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • न्यूजीलैंड में भूकंप के तेज झटके
  • शाहजहांपुर सड़क दुर्घटना में 17 कांवडिये घायल
  • सम्भल में दो कांस्टेबलों की हत्या करने वाला इनामी बदमाश कमल मुठभेड़ में ढेर
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 22 जुलाई)
  • ईरान की संपत्ति जब्त कर सकता है ब्रिटेन
  • हवाई हमले में तीन आईएस आतंकवादियों की मौत
  • ब्रिटिश एयरवेज ने काहिरा के लिए सात दिनों तक सेवा निलंबित की
  • पापुआ न्यू ग्यूनिया में 5 6 तीव्रता के भूंकप के झटके
  • हिमा का विजय अभियान जारी, जीता पांचवां स्वर्ण
  • हिमा का विजय अभियान जारी, जीता पांचवां स्वर्ण
  • शिकागो में गोलीबारी, दो की मौत, 19 घायल
  • नेतन्याहू ने बनाया इजरायल के सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री रहने का रिकॉर्ड
  • बहरीन ने ब्रिटेन का टैंकर कब्जे में लेने पर ईरान की आलोचना की
दुनिया


विकासशील देशों को डिजिटल तकनीकी का लाभ उठाना चाहिए:मोदी

विकासशील देशों को डिजिटल तकनीकी का लाभ उठाना चाहिए:मोदी

जोहानसबर्ग 27 जुलाई (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि डिजिटल तकनीकी में क्रांति से चौतरफा विकास के नये अवसर खुले हैं और विकासशील देशों को इस तकनीकी का समुचित उपयोग करके इसका भरपूर फायदा उठाना चाहिए।

श्री मोदी ने शुक्रवार को यहां बिक्स-अफ्रीकी आउटरीच और ब्रिक्स-पल्स आउटरीच सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा,“ डिजिटल क्षेत्र में तकनीकी क्रांति ने नये अवसर प्रदान किये हैं। हम औद्योगिक क्रांति के पहले चरण के अवसर से चुक गये हैं लेकिन हम अब अवसर के ऐतिहासिक मोड़ पर खड़े हैं।”

श्री मोदी ने कहा,“ अफ्रीका के साथ भारत के संबध ऐतिहासिक और गहरे हैं। अफ्रीका में स्वतंत्रता, विकास और शांति के लिए भारत के ऐतिहासिक प्रयासों के विस्तार को मेरी सरकार ने सर्वाधिक महत्व दिया है। पिछले चार सालों में हमारे आर्थिक संबंध और विकास सहयोग नयी ऊंचाइयों पर पहुंचे हैं। आज 40 से अधिक अफ़्रीकी देशों में 11अरब डाॅलर से अधिक की 180 लाइन्स ऑफ क्रेडिट जारी हैं। बुधवार को युगांडा की संसद को संबोधित करते हुए मैंने भारत और अफ्रीका की साझेदारी के 10 सिद्धांतों की विस्तार से चर्चा की। ये सिद्धांत अफ्रीका की आवश्यकतानुसार विकास के लिए सहयोग, शांति और दोनों देशों के बीच सैंकड़ों साल पुराने रिश्तों को और मजबूत करने के लिए दिशा-निर्देश हैं।”

इस वर्ष सम्मेलन का विषय ‘चौथी औद्योगिक क्रांति में विकासशील देशों का समावेशी विकास और साझा समृद्धि’ है। श्री मोदी के अलावा इस सम्मेलन में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा भी मौजूद हैं। ब्रिक्स की स्थापना 2009 में हुई थी और ब्राजील, रूस, भारत, चीन तथा दक्षिण अफ्रीका इसके पांच सदस्य देश हैं।

आशा.श्रवण

जारी वार्ता

More News
ईरान की संपत्ति जब्त कर सकता है ब्रिटेन

ईरान की संपत्ति जब्त कर सकता है ब्रिटेन

21 Jul 2019 | 8:15 AM

मॉस्को, 21 जुलाई (स्पूतनिक) ब्रिटेन के विदेश सचिव जेरेमी हंट ब्रिटिश तेल टैंकर ‘स्टेना इम्पेरो’ को कब्जे में लेने को लेकर रविवार को ईरान के खिलाफ सख्त रुख अखतियार कर सकते हैं जिसमें ईरान की सपंत्ति भी जब्त करने पर फैसला लिया जा सकता है। स्थानीय मीडिया ने इसकी जानकारी दी।

see more..
ब्रिटिश एयरवेज ने काहिरा के लिए सात दिनों तक सेवा निलंबित की

ब्रिटिश एयरवेज ने काहिरा के लिए सात दिनों तक सेवा निलंबित की

21 Jul 2019 | 7:39 AM

लंदन, 21 जुलाई (शिन्हुआ) ब्रिटिश एयरवेज ने शनिवार को काहिरा के लिए सात दिनों तक अपनी उड़ानें निलंबित रखने की घोषणा की है।

see more..
हवाई हमले में तीन आईएस आतंकवादियों की मौत

हवाई हमले में तीन आईएस आतंकवादियों की मौत

21 Jul 2019 | 7:28 AM

बगदाद, 21 जुलाई (शिन्हुआ) उत्तरी इराक के किरकुक प्रांत में अमेरिका समर्थित गठबंधन के हवाई हमले में इस्लामिक स्टेट (आईएस) के तीन आतंकवादियों की मौत हो गई और उनके अड्डे धवस्त हो गए। इराक सेना ने इसकी जानकारी दी।

see more..
पापुआ न्यू ग्यूनिया में 5.6 तीव्रता के भूंकप के झटके

पापुआ न्यू ग्यूनिया में 5.6 तीव्रता के भूंकप के झटके

21 Jul 2019 | 7:22 AM

न्यूयॉर्क, 21 जुलाई (शिन्हुआ) अमेरिका के पापुआ न्यू ग्यूनिया के कांद्रियान में शनिवार को 5.6 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए।

see more..
image