Wednesday, Feb 20 2019 | Time 15:47 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सरकार ने दिये पाक के साथ क्रिकेट पर प्रतिबंध के संकेत
  • चीनी उत्पादन बढ़कर 219 लाख टन हुआ
  • उत्तरी अफगानिस्तान में तालिबान कमांडर ढ़ेर
  • दुबई में नयी फिल्म की शूटिंग करेंगे जैकी चैन
  • फ्रांस ने राफेल चुनने के लिए भारत का आभार जताया
  • दुबई में नयी फिल्म की शूटिंग करेंगे जैकी चैन
  • लाँच हुआ 32 एमपी पॉप अप सेल्फी कैमरा स्मार्टफोन विवो 15 प्रो
  • अखबार में छपी खबर पर सदन में नहीं होती कोई चर्चा : अध्यक्ष
  • नवीनगर परियोजना की तीसरी इकाई से उत्पादन शुरू
  • पाकिस्तान को सबक सिखाना चाहिए: चहल
  • चेन्नई तिलहन के भाव
  • अयोध्या विवाद: 26 फरवरी को होगी सुनवाई
  • रक्षा उपकरण निर्माताओं के लिए भारत में अपार अवसर: सीतारमण
  • ऊँचे किराये से विमानन क्षेत्र में सुस्ती, 52 महीने बाद वृद्धि दर 10 फीसदी से कम
राज्य Share

छत्तीसगढ़ में बजट की 20 हजार करोड़ की राशि नही हुई खर्च – सीएजी

छत्तीसगढ़ में बजट की 20 हजार करोड़ की राशि नही हुई खर्च – सीएजी

रायपुर 12सितम्बर(वार्ता)छत्तीसगढ़ सरकार वर्ष 2016-17 के स्वीकृत बजट की 20 हजार करोड़ रूपए की राशि खर्च नही कर सकी।यह कुछ बजट का लगभग 25 प्रतिशत है।

छत्तीसगढ़ के प्रधान महालेखाकार विजय कुमार मोहन्ती ने नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (सीएजी)की रिपोर्ट को आज विधानसभा के पटल पर रखे जाने के बाद यहां प्रेस कान्फ्रेंस में कहा कि राज्य विधानसभा ने वर्ष 2016-17 में 80 हजार करोड़ रूपए के बजट को मंजूरी दी थी लेकिन सरकार इसमें से लगभग 20 हजार करोड़ रूपए खर्च नही कर सकी। यह कुछ बजट का लगभग 25 प्रतिशत है। उन्होने कहा कि बजट बनाते समय इस पर ध्यान देने की जरूरत थी कि कितनी राशि का उपयोग किया जा सकता है।

स्वीकृत बजट की राशि का एक तरफ उपयोग नही हो पाने एवं दूसरी ओर एक ही वित्त वर्ष में कई अनुपूरक बजट पेश किए जाने सम्बन्धी प्रश्न के उत्तर में श्री मोहन्ती ने इसे गलत परम्परा करार दिया और कहा कि यह अच्छे वित्तीय प्रबन्ध की दृष्टि से उचित नही है। उन्होने कहा कि अनुपूरक में भी आवश्यकता से कीं अधिक राशि की मंजूरी ली जाती है और इस राशि का उपयोग नही होता। उन्होने कहा कि बार बार अनुपूरक बजट से बचने का प्रयास होना चाहिए।

उन्होने राज्य की कुल मिलाकर वित्तीय स्थिति को बेहतर बताते हुए कई वित्तीय कुप्रबन्ध पर सवाल उठाया। उन्होने कहा कि राज्य सरकार ने वर्ष 2016-17 में 11हजार करोड़ रूपए का ऋण लिया जिसमें से 8800 करोड रूपए का ऋण के भुगतान में उपयोग किया जबकि जिस कार्य के लिए ऋण लिया उसके लिए लगभग तीन हजार करोड़ रूपये का उपयोग किया।

More News
अखबार में छपी खबर पर सदन में नहीं होती कोई चर्चा : अध्यक्ष

अखबार में छपी खबर पर सदन में नहीं होती कोई चर्चा : अध्यक्ष

20 Feb 2019 | 3:40 PM

भोपाल, 20 फरवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश विधानसभा अध्यक्ष एन पी प्रजापति ने आज कहा कि सदन में अखबार में प्रकाशित खबरों के आधार पर कोई चर्चा नहीं होती।

 Sharesee more..
त्रिपुरा में मोटर चालित पैडल रिक्शा पर लगा प्रतिबंध

त्रिपुरा में मोटर चालित पैडल रिक्शा पर लगा प्रतिबंध

20 Feb 2019 | 3:38 PM

अगरतला, 20 फरवरी (वार्ता) त्रिपुरा उच्च न्यायालय ने मोटर चालित पैडल रिक्शा को परिवहन का सबसे खतरनाक साधन बताते हुए राज्य सरकार को अगरतला में अगले एक महीने के अंदर इसके संचालन पर प्रतिबंध सुनिश्चित करने का आदेश दिया है।

 Sharesee more..
image