Wednesday, Aug 12 2020 | Time 13:21 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • खगड़िया में भारी मात्रा में विदेशी शराब बरामद, एक गिरफ्तार
  • सिक्किम के राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री ने दी जन्माष्टमी की बधाई
  • दरभंगा में भारी मात्रा में विदेशी शराब जब्त
  • राहुल ने दी श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की बधाई
  • यमुना एक्सप्रेस वे पर हुई दुर्घटना पर योगी ने शोक व्यक्त किया
  • परिजनों की अपील ठुकरा कर आतंकवादी बना युवक बांदीपोरा में गिरफ्तार
  • मुठभेड़ में चार वर्दीधारी नक्सली मार गिराए गए
  • ‘किक’ के सीक्वल में सलमान के साथ काम करेंगी जैकलीन
  • पलामू में महिला तीन बच्चों के साथ ट्रेन के सामने कूदी, दो की मौत
  • बेंगलुरु के दो इलाकों में हिंसा के बाद कर्फ्यू
  • जमुई में ट्रैक्टर पलटने से चालक की मौत
  • जमुई में सड़क दुर्घटना में पिकअप चालक की मौत, दो घायल
  • बुलंदशहर की सुदीक्षा भाटी की मौत की रिपोर्ट तीन दिन में
  • कर्नाटक में बस में आग लगने से पांच लोगों की मौत की आशंका
  • कर्नाटक में फेसबुक पोस्ट पर भड़की हिंसा: पुलिस गोलीबारी में दो मरे, कई घायल
लोकरुचि


छठमय हुयी राजधानी पटना

छठमय हुयी राजधानी पटना

पटना 02 नवंबर (वार्ता) लोक आस्था के महापर्व छठ को लेकर राजधानी पटना भक्तिमय हो गयी है।

छठ को लेकर राजधानी पटना समेत पूरे बिहार के घर-घर में छठ के गीत गूंजने लगे हैं। “ केलवा जे फरेला घवद से, ओह पर सुगा मेड़राय, आदित लिहो मोर अरगिया., दरस देखाव ए दीनानाथ., उगी है सुरुजदेव., हे छठी मइया तोहर महिमा अपार., कांच ही बास के बहंगिया बहंगी लचकत जाय ..... , गीत सुनने को मिल रहे हैं।

राजधानी पटना के लोग आज अस्ताचल सूर्य को अर्ध्य देंगे जिसके लिये जहां साफ-सफाई से लेकर सुरक्षा और अन्य तैयारियां पूरी कर ली गयी है वहीं छठ व्रतियों में उत्साह और रौनक देखते ही बन रही है । छठ की छटा आजपूरी राजधानी में छाई हुयी है। घर से लेकर घाट तक, गलियों से लेकर सड़कों तक... हर तरफ आकर्षक सजावट दिख रही है। पुलिस प्रशासन भी अलर्ट है।

पटना में गंगा घाटों पर छठ पूजा करने के लिए जिला प्रशासन की तरफ से कई सुविधाएं मुहैया करायी गयीं हैं। सूर्योपासना के इस महापर्व को लेकर हर तरफ स्वच्छता और शुचिता का ध्यान रखा जा रहा है। छठ महापर्व पर आज दोपहर 12 बजे से शहर की यातायात व्यवस्था बदली रहेगी। तीन नवंबर की सुबह आठ बजे तक शहर में छोटे—बड़े मालवाहक वाहनों के परिचालन पर रोक लगा दी गयी है। वहीं, गांधी सेतु पर वाहनों का परिचालन पहले की तरह जारी रहेगा। न्यू बाईपास, करमलीचक मोड़ से पटना सिटी की ओर जाने वाले सभी प्रकार के वाहनों के प्रवेश पर रोक रहेगी। कारगिल चौक से दीदारगंज के बीच कोई वाहन नहीं चलेंगे। घाटों के नजदीक बनी पार्किंग से व्रती पैदल जाएंगे।

प्रेम सूरज

जारी वार्ता

More News
श्रीकृष्ण की ससुराल कुंडिनपुर को नहीं मिला पौराणिक महत्व

श्रीकृष्ण की ससुराल कुंडिनपुर को नहीं मिला पौराणिक महत्व

10 Aug 2020 | 12:34 PM

औरैया, 10 अगस्त (वार्ता) उत्तर प्रदेश का औरैया जिला जहां क्रांतिकारियों की भूमि के नाम से इतिहास में दर्ज है वही पौराणिक धरोहरों के साथ जिले के गांव कुदरकोट (पूर्व में कुंडिनपुर) का नाम भी इतिहास के पन्नो में दर्ज है। मान्यता है कि यहां भगवान श्रीकृष्ण की ससुराल है । यहां भगवान श्रीकृष्ण द्वारा रुकमिणी के हरण करने के प्रमाण भी मिलते हैं।

see more..
फिजां से गुम हो चुकी है बुंदेली लोकसंगीत की सुरमयी मिठास

फिजां से गुम हो चुकी है बुंदेली लोकसंगीत की सुरमयी मिठास

09 Aug 2020 | 8:19 PM

झांसी 09 अगस्त (वार्ता) पाश्चात्य संगीत के बढ़ते प्रभाव के चलते बुंदेलखंड की संस्कृति का पर्याय माने जाने वाली लाेकगायन की मिठास फिजां से लुप्त होती जा रही है।

see more..
कोरोना के चलते ‘कजली महोत्सव’ की सदियों पुरानी परंपरा इसबार टूट गई

कोरोना के चलते ‘कजली महोत्सव’ की सदियों पुरानी परंपरा इसबार टूट गई

04 Aug 2020 | 7:52 PM

महोबा, 04 अगस्त (वार्ता) वैश्विक महामारी कोरोना के दुष्प्रभाव के चलते उत्तर प्रदेश की वीरभूमि महोबा में ‘कजली महोत्सव’ की सदियों पुरानी परम्परा इसबार टूट गई।

see more..
अयोध्या में मंदिर के लिये बुधवार को भूमि पूजन तो मथुरा में होगा कृष्ण दर्शन

अयोध्या में मंदिर के लिये बुधवार को भूमि पूजन तो मथुरा में होगा कृष्ण दर्शन

03 Aug 2020 | 9:29 PM

मथुरा 03 अगस्त (वार्ता)-पांच अगस्त को जब मर्यादा पुरूषोत्तम श्री राम की जन्मभूमि अयोध्या में भूमि पूजन के समारोह से गुंजायमान हो रही होगी उसी समय मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मस्थान स्थित केशवदेव मंदिर में भगवान केशवदेव राम रूप में भक्तों को दर्शन दे रहे होंगे।

see more..
रक्षाबंधन पर्व अछूता नही रह सका आधुनिकता के प्रभाव से: डा कुमुद दुबे

रक्षाबंधन पर्व अछूता नही रह सका आधुनिकता के प्रभाव से: डा कुमुद दुबे

03 Aug 2020 | 1:07 PM

प्रयागराज, 03 अगस्त (वार्ता) भारतीय संस्कृति की गौरवमयी परंपरा और भाई-बहन के प्रेम का प्रतीक रक्षाबंधन भी आधुनिकता के प्रभाव से अछूता नही रहा और परंपरागत राखियों के स्थान ने रेशम के चमकीले एवं चांदी और सोने के जरी युक्त राखियों ने ले लिया है।

see more..
image