Monday, Oct 21 2019 | Time 23:06 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मरे ने लगायी 116 स्थान की छलांग
  • दुनिया को रोशन करने की क्षमता वाला झारखंड अंधेरे में रह गया : रघुवर
  • एग्जिट पोल के नतीजे, राहुल पर भाजपा का कटाक्ष
  • ऑस्ट्रेलियाई अखबारों ने पहला पन्ना काले रंग में प्रकाशित कर दिखाई एकजुटता
  • हिमाचल उपचुनाव: पच्छाद में 72 85 प्रतिशत और धर्मशाला में 65 38 प्रतिशत हुआ मतदान
  • हिमाचल उपचुनाव: पच्छाद में 72 85 प्रतिशत और धर्मशाला में 65 38 प्रतिशत हुआ मतदान
  • गुजरात, दिल्ली, महाराष्ट्र जूनियर खो खो के क्वार्टर फाइनल में
  • नॉर्थईस्ट ने बेंगलुरू को अंक बांटने पर मजबूर किया
  • नॉर्थईस्ट ने बेंगलुरू को अंक बांटने पर मजबूर किया
  • हरियाणा चुनाव-लीड मतदान समाप्त दो अंतिम चंडीगढ़
  • हरियाणा चुनाव-लीड मतदान समाप्त दो अंतिम चंडीगढ़
  • हरियाणा विस चुनाव में 65 प्रतिशत मतदान, उम्मीदवारों की किस्मत इवीएम में लॉक
  • हरियाणा विस चुनाव में 65 प्रतिशत मतदान, उम्मीदवारों की किस्मत इवीएम में लॉक
  • रेड्डी ने गुवाहाटी में बीएसएफ जवानों के साथ मनाई दिवाली
  • दुनिया का सबसे ऊंचा रणक्षेत्र सियाचिन पर्यटन के लिए खुला
India


जयसिंह, ग्रोवर के घर, कार्यालय पर सीबीआई के छापे

जयसिंह, ग्रोवर के घर, कार्यालय पर सीबीआई के छापे

नयी दिल्ली,11 जुलाई (वार्ता) केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने गुरुवार को उच्चतम न्यायालय की वरिष्ठ अधिवक्ता इंदिरा जयसिंह और उनके अधिवक्ता पति आनंद ग्रोवर के राजधानी स्थित आवास पर छापेमारी की।
सीबीआई के सूत्रों ने हालांकि यह स्पष्ट किया कि छापेमारी श्रीमती जयसिंह के नहीं, उनके पति के यहां हुई है। अधिवक्ता दम्पती एक ही मकान में रहते हैं।
सीबीआई सूत्रों ने बताया कि जांच एजेंसी की छापेमारी श्री ग्रोवर के गैर-सरकारी संगठन (एनजीओ) लॉयर्स कलेक्टिव को जारी विदेशी फंडिंग के सिलसिले में थी। सूत्रों के अनुसार, जांच एजेंसी ने दिल्ली के अलावा मुंबई स्थित आवास और कार्यालयों पर भी छापे मारे हैं। एनजीओ पर विदेशी चंदा विनियमन कानून के उल्लंघन का आरोप है।
सीबीआई सूत्रों ने बताया कि अधिवक्ता दम्पती के निजामुद्दीन स्थित आवास और कार्यालय, एनजीओ के जंगपुरा कार्यालय और मुम्बई स्थित एक कार्यालय में सुबह पांच बजे से छापेमारी शुरू की थी।
सीबीआई ने विदेशी सहायता प्राप्त करने के मामले में श्री ग्रोवर के खिलाफ मामला दर्ज किया है।
सीबीआई ने गृह मंत्रालय की शिकायत के आधार पर श्री ग्रोवर और एनजीओ के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी। मंत्रालय ने आरोप लगाया गया था कि समूह द्वारा प्राप्त विदेशी सहायता के इस्तेमाल में कई कथित विसंगतियां हैं।
सूत्रों ने बताया कि पूर्व अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल श्रीमती जयसिंह का नाम प्राथमिकी में आरोपियों की सूची में नहीं है, लेकिन मंत्रालय की शिकायत में उनकी कथित भूमिका का जिक्र है।
गृह मंत्रालय की शिकायत के अनुसार संगठन ने विदेश से 2006-07 और 2014-15 के बीच 32.39 करोड़ रुपये की मदद हासिल की थी, जिसमें अनियमितताएं बरती गईं और यह विदेशी अंशदान (विनियमन) अधिनियम (एफसीआरए) का उल्लंघन था।
इस बीच श्रीमती जयसिंह ने छापेमारी की पुष्टि करते हुए कहा कि जांच एजेंसी उन्हें और उनके पति को मानवाधिकारों की रक्षा के लिए किये गये कार्यों के कारण निशाना बना रही है। उन्होंने इस कार्रवाई को राजनीति से प्रेरित करार दिया है।
सुरेश.श्रवण
वार्ता

More News
महाराष्ट्र, हरियाणा में भाजपा की लहर

महाराष्ट्र, हरियाणा में भाजपा की लहर

21 Oct 2019 | 9:39 PM

नयी दिल्ली 21 अक्टूबर (वार्ता) महाराष्ट्र और हरियाणा के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) दो तिहाई से भी अधिक बहुमत के साथ दोबारा सत्ता में लौटती नजर आ रही है।

see more..
दुनिया का सबसे ऊंचा रणक्षेत्र सियाचिन पर्यटन के लिए खुला

दुनिया का सबसे ऊंचा रणक्षेत्र सियाचिन पर्यटन के लिए खुला

21 Oct 2019 | 9:18 PM

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (वार्ता) लद्दाख को केन्द्र शासित प्रदेश बनाने के बाद सरकार ने वहां पर्यटन बढाने के उद्देश्य से बड़ा निर्णय लेते हुए दुनिया के सबसे ऊंचे रणक्षेत्र सियाचिन को पर्यटन के लिए खोल दिया है।

see more..
रविदास मंदिर के निर्माण के लिए शीर्ष अदालत की मंजूरी

रविदास मंदिर के निर्माण के लिए शीर्ष अदालत की मंजूरी

21 Oct 2019 | 9:09 PM

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने दक्षिणी दिल्ली में तुगलकाबाद इलाके में रविदास मंदिर का निर्माण पूर्व में ढहाए गये स्थल पर ही कराये जाने की सोमवार को अनुमति दे दी।

see more..
image