Monday, Jan 20 2020 | Time 17:19 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • नड्डा के नेतृत्व में नया आयाम स्थापित करेगी भाजपा
  • चीन में भूकंप, एक व्यक्ति की मौत
  • फोनपे से कर बचत योजनाओं में निवेश
  • हकृवि के बाजरा बीज की दो किस्मों की मार्किटिंग करेगी आंध्र की कम्पनी
  • केजरीवाल ने दलितों के लिए कुछ नहीं किया: पासवान
  • हाॅकी इंडिया का बुशफायर के लिये दान, आस्ट्रेलिया ने किया शुक्रिया
  • हाॅकी इंडिया का बुशफायर के लिये दान, आस्ट्रेलिया ने किया शुक्रिया
  • मिर्जापुर में हवा भरने की टंकी में विस्फोट,दुकानदार की पत्नी की मृत्यु
  • बरवाला के सरकारी स्कूलों में लगेंगे वॉटर कूलर, सीसीटीवी कैमरे
  • जैविक कृषि अपनाकर किसान हो सकते हैं समृद्ध
  • ठाणे में इलेक्ट्रिक हार्डवेयर की दुकान में आग लगी
  • विराट, रोहित दो शीर्ष स्थानों पर बरकरार, बुमराह नंबर 1 गेंदबाज़
  • विराट, रोहित दो शीर्ष स्थानों पर बरकरार, बुमराह नंबर 1 गेंदबाज़
  • प्रयागराज में चार साल पहले अपहरण कर लड़की की हत्या का खुलासा,दो गिरफ्तार
  • शमशेर सुरजेवाला का निधन कांग्रेस की बड़ी क्षति : सोनिया
India


केन्द्रीय कर्मचारियों को मिला दिवाली का तोहफा

केन्द्रीय कर्मचारियों को मिला दिवाली का तोहफा

नयी दिल्ली 09 अक्टूबर (वार्ता) सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए महंगाई भत्ते में एक साथ पांच प्रतिशत की वृद्धि कर दिवाली का तोहफा दिया है।
आमतौर पर महंगाई भत्ते में एक से दो फीसदी की बढोतरी होती रही है लेकिन इसबार एक साथ पांच फीसदी की बढोतरी की गयी है। यह वृद्धि एक जुलाई 2019 से ही प्रभावी मानी जायेगी।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को यहां हुई मंत्रिमंडल की बैठक में इसको मंजूरी दी गयी। बैठक के बाद सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी देते हुये बताया कि केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए महंगाई भत्ता 12 प्रतिशत से बढ़ाकर 17 प्रतिशत कर दिया गया है। इससे सरकारी कोष पर 15909.35 करोड़ रुपए का अतिरिक्त भार पड़ेगा। इसमें से चालू वित्त वर्ष में जुलाई से फरवरी 2020 तक आठ महीने में 10606.20 करोड़ रुपये का अतिरिक्त भार पड़ेगा।
उन्होंने कहा कि केन्द्रीय कर्मचारियों के मंहगाई भत्ते में बढोतरी से सरकारी कोष पर सालाना 8590.20 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा। चालू वित्त वर्ष में जुलाई से फरवरी तक आठ महीने में 5726.80 करोड़ रुपये का अतिरिक्त भार आयेगा। पेशनभाेगियों के महंगाई भत्ते में बढोतरी से सरकारी कोष पर वार्षिक 7319.15 करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा। चालू वित्त वर्ष में जुलाई से फरवरी तक आठ महीने में 4870 करोड़ रुपये का बोझ आयेगा।
उन्होंने बताया कि सरकार के इस फैसले से केंद्र सरकार के 49.93 लाख कर्मचारियों और 65.26 लाख पेंशनभोगियों को लाभ मिलेगा। सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के अनुरूप महंगाई भत्ते में बढोतरी किये जाने का उल्लेख करते हुये उन्होंने कहा कि महंगाई बढ़ने के मद्देनजर यह वृद्धि की गयी है।
शेखर सत्या
वार्ता

image