Tuesday, Jun 18 2019 | Time 21:17 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अस्पताल को तबेला बनाने वाले बच्चों की मौत पर कर रहे राजनीति : सुशील
  • शाह और स्मृति के इस्तीफे से रिक्त गुजरात की दो राज्यसभा सीटों पर चुनाव के लिए अधिसूचना जारी
  • गुप्ता बंधुओं को तीन करोड़ की सुरक्षा राशि जमा कराने का आदेश
  • अंसल ग्रुप के चेयरमैन मामले में नही राहत,मांगा जवाब
  • अंसल ग्रुप के चेयरमैन मामले में नही राहत,मांगा जवाब
  • नासिक में सड़क हादसा में सिपाही की मौत, दो घायल
  • दक्षिण पाकिस्तान और राजस्थान की ओर बढ़ा निम्न दबाव का क्षेत्र, कल से नहीं होगी भारी वर्षा
  • सोनिया के नेतृत्व में संप्रग की बैठक
  • मिड-डे मील कर्मचारी करेंगी शिक्षा मंत्री के आवास का घेराव
  • गंगा जल आचमन लायक बनाने का संकल्प होगा पूरा: शेखावत
  • मुंबई और बंगाल के तीर्थयात्रियों की मौत
  • सहारनपुर में अवैध शराब के धंधे में लिप्त सात महिला गिरफ्तार
  • गरीब से गरीब आदमी की रेलयात्रा सुखद बनाने के निर्देश
  • केंद्रीय टीम ने दरभंगा में किया सात निश्चय योजना का अध्ययन
  • पुलिसकर्मी ने की छेड़छाड़, पुलिस उपाधीक्षक डाल रहे समझौते का दबाव
भारत


राफेल सौदे पर केंद्र ने दाखिल किया नया हलफनामा

राफेल सौदे पर केंद्र ने दाखिल किया नया हलफनामा

नयी दिल्ली 04 मई (वार्ता) राफेल सौदे पर पुनर्विचार याचिकाओं के संदर्भ में केंद्र सरकार ने शनिवार को उच्चतम न्यायालय में नया हलफनामा दाखिल कर दावा किया कि चुराये गये दस्तावेजों के आधार पर 14 दिसंबर 2018 के अदालत के आदेश पर पुनर्विचार नहीं किया जा सकता है।

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय पीठ सोमवार छह मई को इस मामले पर सुनवाई कर सकती है। सरकार ने राफेल सौदे में कांग्रेस समेत विभिन्न पक्षों की ओर से दाखिल पुनर्विचार याचिकाओं के संदर्भ में नया हलफनामा दाखिल किया है।

गौरतलब है कि शीर्ष अदालत ने 14 दिसंबर 2018 के अपने आदेश में राफेल सौदे में केंद्र सरकार को क्लीन चिट दे दी थी।

हलफनामे में कहा गया है कि सौदे के सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए सरकार की रक्षा मामलों की सर्वाेच्च समिति, मंत्रिमंडल की सुरक्षा मामलों की समिति तथा रक्षा मंत्रालय के सर्वाेच्च निकाय ,रक्षा क्रियान्वयन परिषद के निर्णयों काे लागू किया गया।

केंद्र की ओर से दायर हलफनामे में कहा गया कि सरकारी प्रक्रिया के तहत प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से इस मामले की प्रगति की निगरानी की गयी और इसे कदापि हस्तक्षेप या समानांतर समझौता नहीं समझा जा सकता है।



संजय जितेन्द्र

वार्ता

More News
मोदी ने बुलायी राजनीतिक दलों के नेताओं की बैठक

मोदी ने बुलायी राजनीतिक दलों के नेताओं की बैठक

18 Jun 2019 | 8:42 PM

नयी दिल्ली 18 जून (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विभिन्न महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा के लिए संसद के सभी राजनीतिक दलों के नेताओं की बुधवार को बैठक बुलायी है।

see more..
चालकों के लिए शैक्षिक योग्यता की अनिवार्यता खत्म : गडकरी

चालकों के लिए शैक्षिक योग्यता की अनिवार्यता खत्म : गडकरी

18 Jun 2019 | 8:23 PM

नयी दिल्ली, 18 जून (वार्ता) सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि देश में कम पढे लिखे लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए आठवीं तक की पढ़ाई की न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता की अनिवार्यता को खत्म किया गया है।

see more..
ओम बिड़ला का लोकसभा अध्यक्ष बनना तय

ओम बिड़ला का लोकसभा अध्यक्ष बनना तय

18 Jun 2019 | 8:09 PM

नयी दिल्ली 18 जून (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के श्री ओम बिड़ला का 17वीं लोकसभा का अध्यक्ष बनना तय हो गया है।

see more..
image