Monday, Oct 14 2019 | Time 20:47 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • आईएसएल को भारत की शीर्ष फुटबॉल लीग बनाने का प्रस्ताव
  • अफगानिस्तान में हवाई हमले में 15 नागरिकों की मौत
  • पुल से टकराई बस, 12 यात्री घायल
  • सांप्रदायिक ताकतों से कभी समझौता नहीं करेगी राजद : तेजस्वी
  • दिल्ली में बनेगा कौशल एवं उद्यमिता विश्वविद्यालय : केजरीवाल
  • हरदोई से पांच साल पहले अपृहत की गई लड़की को सीतापुर से किया बरामद
  • न्यायसंगत, शांतिपूर्ण, समृद्ध विश्व के लिए सुस्थापित अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था जरूरी :बिरला
  • भारतीय मूल के अभिजीत बनर्जी को अर्थशास्त्र का नोबल पुरस्कार
  • सीआईआई चंडीगढ़ फेयर 18 अक्तूबर से, प्लास्टिक मुक्ति होगा मुख्य थीम
  • अपहृत युवक का शव नदी से बरामद, हत्या की आशंका
  • ममता बनर्जी ने गांगुली को दी बधाई
  • पंजाब के पांच पूर्व पुलिसकर्मियों को रिहा करने को केन्द्र की मंजूरी
  • नीदरलैंड के सहयोग से बारापुला नाले के जल शोधन के दूसरे चरण की शुरुआत
  • नए घोड़े पर फवाद ने जीता स्वर्ण पदक
  • नए घोड़े पर फवाद ने जीता स्वर्ण पदक
States » Other states


चंद्रयान-2 ने बढ़ाया अपना अगला कदम, लूनर ट्रांसफर ट्रांजेक्टरी में किया प्रवेश

चंद्रयान-2 ने बढ़ाया अपना अगला कदम, लूनर ट्रांसफर ट्रांजेक्टरी में किया प्रवेश

चेन्नई, 14 अगस्त (वार्ता) चंद्रयान-2 बुधवार को पृथ्वी की कक्ष से बाहर निकलकर सफलतापूर्वक लूनर ट्रांसफर ट्राजेक्टरी में प्रवेश कर गया और अब यह चंद्रमा की ओर बढ़ रहा है।
चंद्रयान-2 अपने इस सफर को पूरा करने के बाद सात सितंबर को चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर कदम रखेगा। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ( इसरो) ने 22 जुलाई को चंद्रयान-2 को लांच किया था।
इसरो के सूत्रों ने बताया कि चंद्रयान-2 ने बुधवार तड़के दो बजकर 21 मिनट पर धरती की कक्षा से बाहर निकलकर सफलतापूर्वक लूनर ट्रांसफर ट्राजेक्टरी में प्रवेश कर गया।
इससे पहले चंद्रयान-2 ने 23 अगस्त से छह अगस्त के बीच पांच बार पृथ्वी की कक्षा बदली है। बेंगुलरु में इसरो टेलेमेट्री, ट्रैकिंग एंड कमांड नेटवर्क (आईएसटीआरएसी) मिशन ऑपरेशन कॉम्प्लेक्स (एमओएक्स) के माध्यम से अंतरिक्ष यान चंद्रयान-2 के सफर की करीब से निगरानी कर रहा है। निगरानी के लिए इंडियन डीप स्पेस नेटवर्क (आईडीएसएन) एंटेना का भी इस्तेमाल किया जा रहा है।
चंद्रयान-2 गत 22 जुलाई को लांच होने के बाद से बिना किसी खराबी के सामान्य रूप से कार्य कर रहा है। चंद्रयान-2 20 अगस्त को चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश करेगा। इसके बाद चंद्रमा की अंतिम कक्षा में पहुंचने से पहले इसे इसकी चार कक्षाओं से गुजरना होगा।

image