Wednesday, Dec 12 2018 | Time 17:13 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सांसद को गाली देने के मामले में पांच लोग गिरफ्तार
  • रिजर्व बैंक की स्वायत्तता और गरिमा बनाये रखेंगे : दास
  • डीप सबमर्जेंस बचाव वाहन भारतीय नौसेना में शामिल
  • सस्ते विमान ईंधन से बढ़ेगा एयरलाइंस का मुनाफा : आयटा
  • उ कश्मीर का लापता छात्र मुंबई में मिला, परिवार के साथ सुरक्षित
  • मिस्र में 27 आतंकवादी ढेर
  • राज्यसभा ने दी मैरीकाम, सोनिया चहल, सिमरन को बधाई
  • जौनपुर में ट्रक एवं टेम्पो की टक्कर में पांच की मृत्यु ,सात घायल
  • राज्यसभा ने दी इसरो को बधाई
  • टाेटेनहैम ने बार्सिलोना को ड्राॅ पर रोका, अंतिम-16 में
  • मार्सेलिन्हो और मार्को के गोलों से पुणे ने गोवा को हराया
  • मार्सेलिन्हो और मार्को के गोलों से पुणे ने गोवा को हराया
  • राज्यसभा ने दी मैरीकाम, सोनिया चहल और सिमरन को बधाई
  • कलेक्टरी छोड़ राजनीति में आए चौधरी को मिली करारी शिकस्त
  • बिहार के जेलों में छापा, कई आपत्तिजनक सामान बरामद
India Share

बच्चे ढूँढ़ेंगे स्थानीय समस्याओं के हल, ‘आइडियेट’ चुनौती शुरू

बच्चे ढूँढ़ेंगे स्थानीय समस्याओं के हल, ‘आइडियेट’ चुनौती शुरू

नयी दिल्ली 06 दिसंबर (वार्ता) सरकार ने स्कूली बच्चों में नवाचार को बढ़ावा देने तथा उन्हें स्थानीय समस्याओं के हल ढूँढ़ने के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से ‘आइडियेट फॉर इंडिया’ चुनौती की शुरू की है।
इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने आज यहाँ इस कार्यक्रम की शुरुआत करते हुये कहा कि डिजिटल इंडिया की सफलता के लिए आम आदमी की भागीदारी जरूरी है। युवाओं के भारत को अवसर चाहिये। अवसर मिलता है तो लगन और प्रतिभा सामने आती है। यह परिवर्तनकारी पहल है।
‘आइडियेट फॉर इंडिया - क्रियेटिव सॉल्यूशंस यूजिंग टेक्नोलॉजी’ कार्यक्रम में छठी से 12वीं कक्षा तक के बच्चे हिस्सा ले सकते हैं। वे राष्ट्रीय ई-प्रशासन विभाग की वेबसाइट एनईजीडीडॉटजीओवीडॉटइन या जिटलइंडियाडॉटजीओवीडॉटइन पर पंजीकरण करा सकते हैं। पंजीकरण के बाद छात्रों को अपने आस पास समस्याओं की पहचान कर उनका समाधान ढूँढ़ना होगा। समाधान के बारे में 90 सेकेंड का वीडियो बनाकर इन वेबसाइटों पर अपलोड करना होगा।
वीडियो के आधार पर हर राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेश से 10-10 छात्रों का चयन किया जायेगा। इन छात्रों को दक्षिण, पूर्व, उत्तर, पश्चिम और पूर्वोत्तर क्षेत्रों में आयोजित होने वाले पाँच बूट शिविरों में मेंटरों द्वारा समाधान को प्रोटोटाइप में बदलने का प्रशिक्षण दिया जायेगा।
प्रोटोटाइप तैयार होने के बाद छात्र वापस अपने इलाकों में जाकर उन समाधानों के क्रियान्वयन का प्रयास करेंगे। आखिरी चरण के लिए देश भर से 50 छात्रों का चयन किया जायेगा। उन्हें राष्ट्रीय स्तर पर नयी दिल्ली में अपने समाधान के प्रदर्शन का मौका मिलेगा।
श्री प्रसाद ने कहा कि जब समाधान में प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल होता है तो वह रचनात्मक समाधान बन जाता है। उन्होंने कहा कि रचनात्मक समाधान का समावेशी और आम लोगों को सशक्त करने वाला होना जरूरी है। साथ ही यह ऐसा होना चाहिये जो नये आयाम खोले।
अजीत संजीव
वार्ता

More News
पंजाब, हरियाणा के डीजीपी 31 जनवरी तक पद पर बने रहेंगे

पंजाब, हरियाणा के डीजीपी 31 जनवरी तक पद पर बने रहेंगे

12 Dec 2018 | 2:29 PM

नयी दिल्ली, 12 दिसम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने पंजाब और हरियाणा के पुलिस महानिदेशकों (डीजीपी) को अगले वर्ष 31 जनवरी तक अपने पद पर बने रहने की अनुमति प्रदान कर दी है।

 Sharesee more..

एक क्लिक पर देख सकेंगे संसद के दस्तावेज

12 Dec 2018 | 12:46 PM

 Sharesee more..
मध्य प्रदेश में कांग्रेस को जनादेश नहीं: राकेश सिंह

मध्य प्रदेश में कांग्रेस को जनादेश नहीं: राकेश सिंह

12 Dec 2018 | 12:05 PM

नयी दिल्ली/भोपाल 12 दिसंबर (वार्ता)भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)की मध्य प्रदेश प्रदेश इकाई के अध्यक्ष राकेश सिंह ने बुधवार को कहा कि राज्य में पार्टी के लिए अभी सब खत्म नहीं हुआ है क्योंकि कांग्रेस को स्पष्ट जनादेश नहीं मिला है।

 Sharesee more..

आलिया-रणबीर के लवलाइफ पर बोले महेश भट्ट

12 Dec 2018 | 11:42 AM

 Sharesee more..
image