Saturday, Jan 29 2022 | Time 19:05 Hrs(IST)
image
खेल


संयोग से बने ओपनर ने न्यूज़ीलैंड को पहली बार फ़ाइनलिस्ट बना दिया

संयोग से बने ओपनर ने न्यूज़ीलैंड को पहली बार फ़ाइनलिस्ट बना दिया

दुबई, 11 नवम्बर (वार्ता) डैरिल मिचेल कौन हैं? उनके पिता न्यूज़ीलैंड के प्रसिद्ध रग्बी टीम 'ऑल ब्लैक्स' के खिलाड़ी और कोच रह चुके हैं। डैरिल ख़ुद शीत काल में रग्बी खेलते थे लेकिन उनका सपना था ब्लैक कैप्स के लिए क्रिकेट खेलना।

वैसे सुपर स्मैश में वह सबसे बड़े फ़िनिशर हैं। न्यूज़ीलैंड के घरेलू टी20 प्रतियोगिता में पिछले पांच वर्षों में उनसे ज़्यादा छक्के किसी ने नहीं मारे। कॉलिन डी ग्रैंडहोम के चोटिल होने के बाद उन्हें 2021 के विश्व कप में मौक़ा मिलता है। उनका मूल चयन जिमी नीशम के साथ बतौर फ़िनिशर होता है।

टूर्नामेंट से पहले अभ्यास मैचों में संयोग से फ़िनिशर बन जाते हैं ओपनर। क्रीज़ से निकलकर वह वरुण चक्रवर्ती और मुजीब उर रहमान जैसे मिस्ट्री स्पिनर्स पर प्रहार करते हैं। लेकिन असली रहस्य तो डैरिल ख़ुद हैं। न्यूज़ीलैंड के स्काई स्पोर्ट्स की संवाददाता और मार्टिन गुप्तिल की पत्नी लौरा मक्गोल्डरिक को मिचेल बताते हैं कि सलामी बल्लेबाज़ी पर उतरने से पहले वह गुप्तिल के साथ डिज़्नी की फ़िल्म 'फ़्रोज़न' के गाने गुनगुनाते हैं। इसके अलावा ओपनर डैरिल मिचेल के बारे में किसे क्या पता है? शायद ज़्यादा किसे भी नहीं!

इंग्लैंड टीम योजनाबद्ध टी20 क्रिकेट के उस्ताद हैं। डेवोन कॉन्वे पारम्परिक लेग स्पिन के ख़िलाफ़ अधिक शक्तिशाली नहीं रहते और इसीलिए लियाम लिविंगस्टोन उनके विरुद्ध ऐसी ही गेंदबाज़ी करते हैं। लेकिन आप इस विश्व कप से पहले टी20 में जिन्होंने ओपन ही नहीं किया था, उनके ख़िलाफ़ क्या योजना बना सकते हैं?

इंग्लैंड 166 की स्कोर का बचाव शानदार तरीक़े से कर रहा है। अपने टेस्ट मैच लेंथ के चलते क्रिस वोक्स, मार्टिन गुप्तिल और केन विलियमसन को आउट कर चुके हैं। अपने बेहतरीन आउटस्विंगर से वह मिचेल को भी परेशान कर रहे थे। दर्शकों के बीच बैठे मिचेल के माता-पिता भी यह देखकर तनाव में थे।

मिचेल के तनाव का कारण है कि उन्हें बल्लेबाज़ी क्रम के शीर्ष पर पावरप्ले का फ़ायदा उठाने भेजा जाता है। लेकिन गेंद फ़्लडलाइट्स में भी अधिक तेज़ी से नहीं आ रही। ओस ने भी अपेक्षाकृत अंतर नहीं डाला है। मिचेल ज़ोर से बल्ला घुमा रहे थे लेकिन बड़े शॉट नहीं लगा पा रहेथे । मार्क वुड ने अपनी गति और उछाल से उन्हें बैकफ़ुट पर धकेल रखा था । आदिल राशिद को वह रिवर्स स्वीप करने की कोशिश करते हैं लेकिन राशिद चतुराई से अपनी गेंद की लंबाई छोटी कर देते हैं। लिविंगस्टोन की मिश्रित गेंदबाज़ी के चलते मिचेल ने 28 गेंदों पर सिर्फ़ 28 रन ही जोड़े हैं।

राज

जारी वार्ता

More News
प्रजनेश, अर्जुन को टाटा ओपन में वाइल्डकार्ड एंट्री

प्रजनेश, अर्जुन को टाटा ओपन में वाइल्डकार्ड एंट्री

29 Jan 2022 | 6:54 PM

पुणे, 29 जनवरी (वार्ता) भारतीय टेनिस खिलाड़ियों प्रजनेश गुणेश्वरन और अर्जुन काधे को शनिवार को टाटा ओपन महाराष्ट्र टेनिस टूर्नामेंट के एकल मुख्य ड्रॉ में वाइल्डकार्ड एंट्री मिली।

see more..
यह एक सपना सच होने जैसा है : बार्टी

यह एक सपना सच होने जैसा है : बार्टी

29 Jan 2022 | 5:46 PM

मेलबोर्न, 29 जनवरी (वार्ता) विश्व की नंबर एक टेनिस खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया की एश्ले बार्टी ने शनिवार को यहां देश के लिए 44 साल बाद और अपना पहला ऑस्ट्रेलियन ओपन खिताब जीतने के बाद कहा कि यह सिर्फ एक सपना सच होने जैसा है। मुझे ऑस्ट्रेलियाई होने पर बहुत गर्व है।

see more..
ऑस्ट्रेलिया का 44 साल का इंतजार खत्म कर बार्टी ने जीता ऑस्ट्रेलिया ओपन खिताब

ऑस्ट्रेलिया का 44 साल का इंतजार खत्म कर बार्टी ने जीता ऑस्ट्रेलिया ओपन खिताब

29 Jan 2022 | 5:39 PM

मेलबोर्न, 29 जनवरी (वार्ता) विश्व की नंबर एक महिला टेनिस खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया की एश्ले बार्टी ने शनिवार को यहां ऑस्ट्रेलिया का 44 साल लंबा इंतजार खत्म करते हुए देश के लिए ग्रैंड स्लेम टेनिस टूर्नामेंट ऑस्ट्रेलियन ओपन के महिला एकल का खिताब जीता।

see more..
ऑस्ट्रेलिया का 44 साल का इंतजार खत्म कर बार्टी ने जीता ऑस्ट्रेलिया ओपन खिताब

ऑस्ट्रेलिया का 44 साल का इंतजार खत्म कर बार्टी ने जीता ऑस्ट्रेलिया ओपन खिताब

29 Jan 2022 | 5:01 PM

मेलबोर्न, 29 जनवरी (वार्ता) विश्व की नंबर एक महिला टेनिस खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया की एश्ले बार्टी ने शनिवार को यहां ऑस्ट्रेलिया का 44 साल लंबा इंतजार खत्म करते हुए देश के लिए पहला ग्रैंड स्लेम टेनिस टूर्नामेंट ऑस्ट्रेलियन ओपन का खिताब जीता।

see more..
image