Wednesday, Apr 24 2019 | Time 01:43 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • रक्षा बलों के प्रमुखों को बदल सकते हैं श्रीलंका के राष्ट्रपति
  • मोरक्को पुलिस ने आईएस से जुड़े संदिग्ध को हिरासत में लिया
राज्य


कांग्रेस की गोवा में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

कांग्रेस की गोवा में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

पणजी 03 सितम्बर (वार्ता) गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के विदेश में उपचार और दो अन्य मंत्रियों के स्वस्थ नहीं होने और लगातार कार्यालय नही आने के कारण कांग्रेस ने राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है।

गोवा कांग्रेस के प्रवक्ता रमाकांत खलप ने सोमवार को कहा कि राज्य में संवैधानिक संकट उत्पन्न हो गया है। इसे देखते हुए राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए। कांग्रेस ने अपनी इस मांग को लेकर राज्यपाल मृदुला सिन्हा से मुलाकात का समय मांगा है।

श्री खलप ने कहा कि श्री पर्रिकर स्वास्थ्य कारणों से लगातार कार्यालय नहीं आ रहे हैं। वह विदेश में उपचार करा रहे हैं और अपना प्रभार भी किसी को नहीं सौंप कर गए हैं। मुख्यमंत्री के अलावा ऊर्जा मंत्री पांडुरंग मडकाईकर और शहरी विकास मंत्री फ्रांसिस डिसूजा भी अस्वस्थ हैं और मंत्रालय नहीं आ रहे हैं।

श्री पर्रिकर अग्नाशय से जुड़ी बीमारी का इलाज कराने के लिए मार्च से जून के दौरान अमरिका में रहे । वह 10 अगस्त को फिर अमेरिका गए और 22 अगस्त को वापस लौटे। इसके अगले ही दिन फिर अस्पताल में भर्ती हो गए।

श्री खलप ने कहा कि मुख्यमंत्री और अन्य मंत्री कब तक स्वस्थ होकर लौटेंगे, इसकी कोई तय समय सीमा नहीं हैं। राज्य में संवैधानिक संकट है और राज्यपाल को इसे दूर करने के लिए हस्तक्षेप करना चाहिए।

भाजपा सूत्रों के अनुसार श्री पर्रिकर डाक्टरों की सलाह पर 29 अगस्त को फिर अमेरिका गए हैं और उनके आठ सितंबर तक लौट आने की उम्मीद हैं। श्री डिसूजा इलाज के लिए अमेरिका में पिछले महीने से ही हैं। श्री मडकाईकर मस्तिष्काघात के बाद पांच जून से अस्पताल में उपचार करा रहे हैं।

मिश्रा.श्रवण

वार्ता

More News
कारवां-ए-अमन बस सेवा आठवें सप्ताह स्थगित रही

कारवां-ए-अमन बस सेवा आठवें सप्ताह स्थगित रही

23 Apr 2019 | 10:43 PM

श्रीनगर, 23 अप्रैल (वार्ता) जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर की राजधानी मुजफ्फराबाद के बीच चलने वाली बस कारवां-ए-अमन लगातार आठवें सप्ताह नहीं चली। दोनों ओर फंसे हुए यात्रियों को उरी के कामन पोस्ट पर नियंत्रण रेखा के इस ओर अंतिम भारतीय सैन्य चौकी को पार करने की अनुमति देने का निर्णय लिया गया है

see more..
image