Wednesday, Jul 18 2018 | Time 00:20 Hrs(IST)
image
image
BREAKING NEWS:
States Share

कांग्रेस सरकार ने आदिवासियों के विकास के लिए कुछ नहीं किया : शाह

कांग्रेस सरकार ने आदिवासियों के विकास के लिए कुछ नहीं किया : शाह

रांची 11 जुलाई (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस की पूर्ववर्ती सरकारों पर आदिवासियों के विकास के लिए कुछ नहीं करने का आरोप लगाते हुये आज कहा कि देश और झारखंड में विकास की लहर है, ऐसे में विपक्ष झूठी अफवाह फैलाकर इस समुदाय के लोगों को गुमराह करने की कोशिश न करे।
श्री शाह ने यहां आदिवासी समाज के बुद्धिजीवियों से बातचीत के दौरान कहा कि देश में कांग्रेस ने 60 साल तक सरकार चलाई है और उन्हें सबसे अधिक वोट आदिवासी समुदाय से मिले लेकिन इसके बदले में कांग्रेस ने उनके लिए कुछ भी नहीं किया। उन्होंने कहा कि वहीं, केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने महज चार साल के कार्यकाल में अनुसूचित जाति एवं जनजाति समुदाय के लोगों के कल्याण के लिए काफी काम किया है।
भाजपा अध्यक्ष ने आरोप लगाते हुये कहा कि आदिवासियों के लिए कांग्रेस की भावना कभी भी ठीक नहीं रही और उसने इस समुदाय के लोगों का इस्तेमाल केवल वोट बैंक की तरह किया है। उन्होंने कहा कि विपक्षी दलों को आदिवासियों को गर्त में धकेलने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पिछले चार साल में सड़क, बिजली, पेयजल और अन्य मूलभूत सुविधाओं के बेहतर होने से राज्य के लोगों के जीवन स्तर में काफी सुधार हुआ है। उन्होंने कहा कि कोई भी गलत निर्णय न तो समुदाय का कल्याण कर सकता है और न ही वह राज्य के हित में हो सकता है।
श्री शाह ने कहा कि विपक्ष झूठ बोल रहा है कि भाजपा सरकार ने अनुसूचित जाति एवं जनजाति कानून को कमजोर किया है। उन्होंने कहा कि सच्चाई यह है कि यह कानून पहले की सरकारों के कार्यकाल में अधिक कमजोर था। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने संशोधन कर इस कानून को और मजबूत करने का प्रयास किया है। उन्होंने कांग्रेस पार्टी के कानून के जानकारों को चुनौती देते हुये कहा कि वह इस मुद्दे पर बहस करा ले। उन्होंने आरोप लगाते हुये कहा कि इस कानून पर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी केवल झूठ ही बोला है।
सूरज उमेश
जारी (वार्ता)

More News
सीबीआई दाभोलकर-पनसारे हत्याकांड की निष्पक्ष जांच करे : हाईकोर्ट

सीबीआई दाभोलकर-पनसारे हत्याकांड की निष्पक्ष जांच करे : हाईकोर्ट

17 Jul 2018 | 11:27 PM

मुंबई 17 जुलाई (वार्ता) बाम्बे उच्च न्यायालय ने मंगलवार को केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और महाराष्ट्र अपराध जांच विभाग को यह सुनिश्चित करने को कहा कि तार्किक सोच रखने वाले नरेन्द्र दाभोलकर और गोविंद पनसारे की हत्याओं की निष्पक्ष जांच की जाए।

 Sharesee more..
image