Monday, Feb 18 2019 | Time 18:14 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राष्ट्रीय-पीएम वाराणसी दो
  • पीएम मोदी का वाराणसी दौरा कल, सुरक्षा के कड़े इंतजाम
  • व्यवसायी लूटकांड मामले में चार गिरफ्तार
  • इंग्लैंड की महिला टीम ने बोर्ड एकादश टीम को हराया
  • अंतिम वेतन का 50 प्रतिशत पेंशन दे सरकार: बीएमएस
  • आईएस में शामिल ब्रिटिश लड़की चाहती है वापसी
  • कर्नाटक में 'मोदी विजय संकल्प यात्रा' 21 फरवरी से
  • पंजाब-बजट पेश दो अंतिम चंडीगढ़
  • प्रियंका 21 फरवरी से प्रयागराज और वाराणसी दौरे पर
  • --
  • आतंकवादियों के खात्मे में सफल हो रहे हैं सुरक्षा बल : राजनाथ
  • आरसीए ने भी पाकिस्तानी खिलाड़ियों की तस्वीरें हटायीं
  • 14 फरवरी देश के लिए काला दिन : सानिया
  • वर्ष 2031 तक 30 करोड़ टन इस्पात उत्पादन का लक्ष्य : बीरेन्द्र सिंह
  • चेन्नई सर्राफा के भाव
States Share

कांग्रेस सरकार ने आदिवासियों के विकास के लिए कुछ नहीं किया : शाह

कांग्रेस सरकार ने आदिवासियों के विकास के लिए कुछ नहीं किया : शाह

रांची 11 जुलाई (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस की पूर्ववर्ती सरकारों पर आदिवासियों के विकास के लिए कुछ नहीं करने का आरोप लगाते हुये आज कहा कि देश और झारखंड में विकास की लहर है, ऐसे में विपक्ष झूठी अफवाह फैलाकर इस समुदाय के लोगों को गुमराह करने की कोशिश न करे।
श्री शाह ने यहां आदिवासी समाज के बुद्धिजीवियों से बातचीत के दौरान कहा कि देश में कांग्रेस ने 60 साल तक सरकार चलाई है और उन्हें सबसे अधिक वोट आदिवासी समुदाय से मिले लेकिन इसके बदले में कांग्रेस ने उनके लिए कुछ भी नहीं किया। उन्होंने कहा कि वहीं, केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने महज चार साल के कार्यकाल में अनुसूचित जाति एवं जनजाति समुदाय के लोगों के कल्याण के लिए काफी काम किया है।
भाजपा अध्यक्ष ने आरोप लगाते हुये कहा कि आदिवासियों के लिए कांग्रेस की भावना कभी भी ठीक नहीं रही और उसने इस समुदाय के लोगों का इस्तेमाल केवल वोट बैंक की तरह किया है। उन्होंने कहा कि विपक्षी दलों को आदिवासियों को गर्त में धकेलने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पिछले चार साल में सड़क, बिजली, पेयजल और अन्य मूलभूत सुविधाओं के बेहतर होने से राज्य के लोगों के जीवन स्तर में काफी सुधार हुआ है। उन्होंने कहा कि कोई भी गलत निर्णय न तो समुदाय का कल्याण कर सकता है और न ही वह राज्य के हित में हो सकता है।
श्री शाह ने कहा कि विपक्ष झूठ बोल रहा है कि भाजपा सरकार ने अनुसूचित जाति एवं जनजाति कानून को कमजोर किया है। उन्होंने कहा कि सच्चाई यह है कि यह कानून पहले की सरकारों के कार्यकाल में अधिक कमजोर था। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने संशोधन कर इस कानून को और मजबूत करने का प्रयास किया है। उन्होंने कांग्रेस पार्टी के कानून के जानकारों को चुनौती देते हुये कहा कि वह इस मुद्दे पर बहस करा ले। उन्होंने आरोप लगाते हुये कहा कि इस कानून पर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी केवल झूठ ही बोला है।
सूरज उमेश
जारी (वार्ता)

image