Thursday, Sep 20 2018 | Time 18:00 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राफेल पर एचएएल के पूर्व प्रमुख का बयान सही नहीं
  • कुमारस्वामी को मेरे बारे में बात करने का नैतिक अधिकार नहीं: येद्दियुरप्पा
  • जेट के विमान में बीमार पड़े सभी यात्रियों को अस्पताल से छुट्टी
  • प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी रिश्वत लेते गिरफ्तार
  • झूठ बोलने वाले ‘मसखरा राजकुमार’ हैं राहुल : जेटली
  • हरियाणा में गांवों को साफ-स्वच्छ बनाने के लिये चलेगा अभियान
  • फिलीपींस में भूस्खलन:12 की मौत, कई मलबे में फंसे
  • फोटाे कैप्शन-पहला सेट
  • खेल मंत्री से न्याय नहीं मिला तो अदालत जाऊंगा: बजरंग
  • खेल मंत्री से न्याय नहीं मिला तो अदालत जाऊंगा: बजरंग
  • गुजरात सरकार ने किसान दुर्घटना बीमा योजना के तहत राशि को दोगुना किया
  • चुनिंदा दालों में नरमी;सोया तेलों में तेजी
  • कठिन फैसले लेती रहेगी सरकार : मोदी
खेल Share

काउंटी क्रिकेट का अनुभव काम आया: पुजारा

काउंटी क्रिकेट का अनुभव काम आया: पुजारा

लंदन, 21 अगस्त (वार्ता) भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने नॉटिंघम में इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच की दूसरी पारी में 72 रनों की अपनी शानदार पारी का श्रेय काउंटी क्रिकेट को दिया है।

पुजारा ने सोमवार को कप्तान विराट कोहली के साथ तीसरे विकेट के लिए 113 रनों की साझेदारी कर 72 रनों की पारी खेली और टीम इंडिया को मजबूत स्कोर की ओर ले गए।

इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज शुरू होने से पहले पुजारा का टेस्ट क्रिकेट की पिछली छह पारियों में स्कोर क्रमश: 4, 0, 19, 50, 1 और 35 रहा था। खराब फार्म में चल रहे पुजारा को पहले एजबेस्टन टेस्ट के लिए अंतिम एकादश में शामिल नहीं किया गया था। काउंटी क्रिकेट में याॅर्कशायर टीम के लिए खेलते हुए पुजारा ने अपनी चार पारियों में 23, 17, 0 और 32 का स्कोर बनाया था।

लाॅर्ड्स टेस्ट की पहली पारी में दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से एक रन पर रन आउट होने तथा दूसरी पारी में 17 रन पर एक इनस्विंग गेंद का शिकार होने और नॉटिंघम टेस्ट की पहली पारी में केवल 14 रन बनाने के बाद पुजारा ने वह पारी खेली जिसकी भारतीय टीम को सख्त जरुरत थी।

नॉटिंघम टेस्ट के तीसरे दिन का खेल समाप्त होने पर पुजारा ने कहा, “मुझे लगता है कि मैं हमेशा आत्मविश्वास में रहा। मैं काउंटी क्रिकेट में चुनौतीपूर्ण पिचों पर खेल रहा था। मुझे हमेशा लगा कि मैं अच्छी बल्लेबाजी कर रहा हूं, विशेष रूप से अभ्यास के दौरान। मुझे भरोसा था कि मैं बड़ी पारी खेल सकता हूं।”

भारतीय बल्लेबाज ने कहा,“जिस प्रकार से मैंने इस पारी में बल्लेबाजी की, मुझे लगता है कि जैसे मैंने नेट पर अभ्यास किया। उसका मुझे लाभ मिला और मैं टीम के लिए 72 रनों का योगदान देकर खुश हूं।”

पुजारा ने कहा,“मुझे लगता है कि आपको बस अपनी तकनीक और अपने स्वभाव पर विश्वास करने की आवश्यकता है। काउंटी क्रिकेट खेलने से मुझे काफी मदद मिली। मैंने बहुत कुछ सीखा है। यद्यपि मैंने ज्यादा रन नहीं बनाए लेकिन मैंने पिछले कुछ वर्षों के दौरान जो समय वहां बिताया उसका मुझे फायदा मिला। इसके अलावा इस तरह की परिस्थितियों में आप कैसे खेलना चाहते हैं इसको लेकर भी आश्वस्त रहना जरूरी है।”

 

More News
खेल मंत्री से न्याय नहीं मिला तो अदालत जाऊंगा: बजरंग

खेल मंत्री से न्याय नहीं मिला तो अदालत जाऊंगा: बजरंग

20 Sep 2018 | 5:37 PM

नयी दिल्ली, 20 सितम्बर (वार्ता) राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों के स्वर्ण विजेता पहलवान बजरंग पुनिया ने गुरूवार को कहा कि देश के सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न के लिए उन्हें यदि केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ से न्याय नहीं मिला तो वह अदालत का दरवाजा खटखटाएंगे।

 Sharesee more..

20 Sep 2018 | 5:32 PM

 Sharesee more..
अगले ओलम्पिक में खेलने की कोशिश है: योगेश्वर

अगले ओलम्पिक में खेलने की कोशिश है: योगेश्वर

20 Sep 2018 | 4:23 PM

झुंझुनूं, 20 सितम्बर (वार्ता) ओलम्पिक पदक विजेता और पद्मश्री पुरस्कार प्राप्त पहलवान योगेश्वर दत्त ने कहा है कि वह 2020 में टोक्यो में होने वाले ओलम्पिक खेलों में हिस्सा लेने की पूरी कोशिश करेंगे।

 Sharesee more..

20 Sep 2018 | 3:14 PM

 Sharesee more..
अब मेरा एकमात्र लक्ष्य ओलम्पिक पदक: मणिका

अब मेरा एकमात्र लक्ष्य ओलम्पिक पदक: मणिका

20 Sep 2018 | 4:23 PM

नयी दिल्ली, 20 सितम्बर (वार्ता) राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में कुल पांच पदक जीतकर इतिहास बनाने वाली टेबल टेनिस स्टार मणिका बत्रा ने गुरूवार को कहा कि अब उनका एकमात्र लक्ष्य विश्व रैंकिंग में टॉप-30 में जगह बनाना और अगले ओलम्पिक में देश के लिए पदक जीतना है।

 Sharesee more..
image