Wednesday, Sep 26 2018 | Time 08:51 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पुलिस ने मुठभेड़ के बाद तीन बदमाशों को किया गिरफ्तार
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 27 सितंबर)
  • फिनलैंड में परमाणु ऊर्जा संयंत्र बनाने के लिए शीघ्र मिलेगा लाइसेंस
  • चुनाव कराना राष्ट्रीय हित में नहीं: थेरेसा मे
  • तेलंगाना में रिश्वत लेने के मामले अधिकारी समेत दो गिरफ्तार
  • टाई रहा भारत और अफगानिस्तान का रोमांचक मुकाबला
  • टाई रहा भारत और अफगानिस्तान का रोमांचक मुकाबला
  • जम्मू निकाय चुनाव के लिए 815 उम्मीदवारों ने भरे पर्चे
  • पश्चिमी पाकिस्तान का शरणार्थी एक प्रतिनिधि मंडल जितेंद्र सिंह से मिला
खेल Share

ओलंपिक उम्मीदाें को लेकर सीपीएसई की खेल नीति

ओलंपिक उम्मीदाें को लेकर सीपीएसई की खेल नीति

नयी दिल्ली, 27 अगस्त (वार्ता) ओलंपिक में भारत की पदक उम्मीदों को नयी ऊंचाइयों पर ले जाने के लिये इस्पात मंत्रालय के तहत केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों (सीपीएसई) के लिये खेल नीति का गठन किया गया है जिसकी शुरूआत सोमवार को केंद्रीय इस्पात मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह ने यहां एक कार्यक्रम में की।

बीरेंद्र सिंह ने इस खेल नीति को जारी करते हुये कहा,“ हमने अनुभवी खिलाड़ियों के साथ विचार विमर्श कर इस नीति को तैयार किया है। खेल किसी भी देश की प्रगति और अर्थव्यवस्था का आईना होते हैं और हम चाहते हैं कि भारत खेलों में दुनिया के शीर्ष देशों में शुमार हो। इस नीति का लक्ष्य ओलंपिक खेल खासतौर पर 2024 के ओलंपिक हैं।”

इस्पात मंत्री ने कहा,“ आज खेल मनोरंजन नहीं रहे बल्कि उनकी परिभाषा ही बदल गयी है। खेलों में बहुत पैसा आया है जिसका लाभ हजारों खिलाड़ियों को मिल रहा है, उन्हें नौकरियां मिल रही हैं और करियर में नयी संभावनाएं मिल रही हैं।”

उन्होंने सरकार के खेलो इंडिया कार्यक्रम का जिक्र करते हुये कहा,“ खेलो इंडिया कार्यक्रम के अच्छे परिणाम अब सामने आने लगे हैं। हमने भी सीपीएसई के लिये यह खेल नीति तैयार की है और इसपर हम उतना ही काम करेंगे जितना हम अपने प्लांट पर करते हैं। खिलाड़ियों को पूरी सुविधाएं दी जाएंगी जो उनकी पहली जरूरत है।”

बीरेंद्र सिंह ने साथ ही कहा,“ इस नीति को लेकर हम खेल मंत्रालय के सीधे संपर्क में रहेंगे और साथ ही हम इस संस्था को भारतीय ओलंपिक संघ(आईओए) के साथ एक खेल महासंघ के रूप में पंजीकृत भी कराएंगे ताकि यह एक फेडरेशन के तौर पर उसी तरह काम कर सके जिस तरह अन्य फेडरेशन करते हैं।”

इस्पात मंत्रालय के तहत सीपीएसई प्रतिभाओं को तलाशने, स्कॉलरशिप, ट्रेनिंग, कोचिंग, वर्कशॉप, शिविर आदि के लिये जरूरी समर्थन देगा। सीपीएसई विभिन्न राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खेल आयोजनाें को आशिंक या पूर्णरूप से प्रायोजित भी करेगा और साथ ही प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को किट भी प्रदान करेगा।

सीपीएसई अपनी एक सर्वाेच्च संस्था एएसबी का गठन करेगा जिसका आईओए के साथ पंजीकरण कराया जाएगा। एएसबी के सदस्यों में सीपीएसई के शीर्ष अधिकारी और जाने माने खिलाड़ी शामिल होंगे। इसका मुख्यालय नयी दिल्ली स्थित होगा। इसके अलावा सीपीएसई खेल नीति के उद्देश्यों को हासिल करने के लिये एक खेल समिति का भी गठन करेगा। प्रत्येक सीपीएसई को दो से तीन खेल आवंटित किये जाएंगे जिसमें उन्हें खिलाड़ियों को तैयार करना होगा।

More News

26 Sep 2018 | 1:21 AM

 Sharesee more..

26 Sep 2018 | 1:20 AM

 Sharesee more..
शहजाद के विस्फोटक शतक से अफगानिस्तान के 252

शहजाद के विस्फोटक शतक से अफगानिस्तान के 252

25 Sep 2018 | 9:35 PM

दुबई, 25 सितम्बर (वार्ता) ओपनर मोहम्मद शहजाद (124) के विस्फोटक शतक से अफगानिस्तान ने भारत के खिलाफ एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट के सुपर-4 मुकाबले में मंगलवार को 50 ओवर में आठ विकेट पर 252 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बना लिया।

 Sharesee more..
झारखंड ने तमिलनाडु को आठ रन से हराया

झारखंड ने तमिलनाडु को आठ रन से हराया

25 Sep 2018 | 9:18 PM

चेन्नई, 25 सितम्बर (वार्ता) कप्तान ईशान किशन की 85 रन की विस्फोटक पारी से झारखंड ने तमिलनाडु को मंगलवार को विजय हजारे ट्रॉफी एलीट ग्रुप सी मैच में आठ रन से हरा दिया।

 Sharesee more..
धोनी का कप्तानी में 200 वां मैच

धोनी का कप्तानी में 200 वां मैच

25 Sep 2018 | 9:01 PM

दुबई, 25 सितम्बर (वार्ता) भारत की हर प्रारूप में कप्तानी छोड़ चुके विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी को रोहित शर्मा के विश्राम लेने के कारण एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट में मंगलवार को अफगानिस्तान के खिलाफ सुपर-4 के मैच में फिर से कप्तानी संभालने का मौका मिल गया।

 Sharesee more..
image