Wednesday, Nov 14 2018 | Time 22:48 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • फोटो कैप्शन दूसरा सेट
  • सूखा पीड़ित किसानों को 50 हजार रुपये प्रति हेक्टेयर दिया जाय: विखे पाटिल
  • वेबसीरीज ‘मिर्जापुर’ 16 नवंबर को एक साथ 200 देशों में रिलीज
  • रोजगार मेले के पहले दिन 720 युवाओं की मिला रोजगार
  • पंजाब रेडियो लंदन ने रेल हादसा पीड़ित 21 परिवारों को दी आर्थिक सहायता
  • बाजीराव कोंकणी रीति-रिवाज से हुए मस्तानी के
  • बाजीराव कोंकणी रीति-रिवाज से हुए मस्तानी के
  • बाजीराव कोंकणी रीति-रिवाज से हुए मस्तानी के
  • झारखंड के सर्वांगीण विकास में पुलिस की भूमिका महत्वपूर्ण : रघुवर
  • अर्बन हाट अमृतसर को पीपीपी के अंतर्गत विकसित किया जायेगा: तृप्त बाजवा
  • मथुरा एवं आगरा के प्राचीन कुण्डों को गंगा नदी के जल से भरने के निर्देश
  • मोदी की जिद से देश की अर्थव्यवस्था में संघर्ष: चव्हाण
  • दुल्हे बिन बारात लेकर चल रही कांग्रेस : राजनाथ
  • मथुरा को स्वच्छता के मामले में प्रथम स्थान दिलाने के लिए लोगों ने कमर कसी
  • सिलेंडर विस्फोट में छह छात्रा समेत आठ घायल
भारत Share

तेलंगाना में चुनाव का फैसला जमीनी हकीकत जानने के बाद लिया जायेगा: रावत

तेलंगाना में चुनाव का फैसला जमीनी हकीकत जानने के बाद लिया जायेगा: रावत

नयी दिल्ली 07 सितम्बर (वार्ता) चुनाव आयाेग ने शुक्रवार को कहा कि चार राज्यों के साथ तेलंगाना में चुनाव कराने के बारे में फैसला जमीनी हकीकत का अध्ययन किये जाने के बाद ही लिया जायेगा।

मुख्य चुनाव आयुक्त ओ पी रावत ने एक टेलीविजन चैनल को दिए गए साक्षात्कार में कहा कि संवैधानिक व्यवस्थाओं को ध्यान में रखकर ही तेलंगाना का चुनाव अन्य राज्यों के साथ करने का निर्णय लिया जायेगा। वह पहले देखेंगे कि चुनाव कराने के लिए क्या तैयारियां हुई हैं।

एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि अगर चुनाव पहले कराये जाते हैं तो लोग कहेंगे कि मैच फिक्स किया हुआ है और अगर देर से चुनाव कराये जाते हैं तो राजनीतिक दल उसका विरोध करेंगे और कहा जायेगा कि कार्यवाहक मुख्यमंत्री को लोक लुभावन फैसले लेने के लिए अधिक समय दिया गया है।

उन्होंने कहा कि चुनाव कराने के बारे में समय निर्धारित करने का अधिकार किसी नेता को नहीं है बल्कि यह काम चुनाव आयोग का है।

गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय अपने एक फैसले में कह चुका है कि किसी भी विधानसभा के भंग होने के बाद वहां जल्द से जल्द चुनाव कराए जाने चाहिए।

अरविन्द.श्रवण

वार्ता

More News
अंग्रेजों को देश से बाहर करने वाली कांग्रेस अब देगी मोदी सरकार को भी शिकस्त: शर्मा

अंग्रेजों को देश से बाहर करने वाली कांग्रेस अब देगी मोदी सरकार को भी शिकस्त: शर्मा

14 Nov 2018 | 9:12 PM

नयी दिल्ली, 14 नवंबर (वार्ता) राज्यसभा में कांग्रेस के उपनेता आनंद शर्मा ने केन्द्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली सरकार को बुधवार को चेतावनी दी कि देश ने उसके निजाम को स्वीकार नहीं किया है और ‘सात समन्दर पार राज करने वाली सत्ता’ को देश से बाहर करने वाली कांग्रेस जल्द ही उसे भी शिकस्त देगी।

 Sharesee more..
अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला शुरू

अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला शुरू

14 Nov 2018 | 8:41 PM

नयी दिल्ली 14 नवंबर (वार्ता) अड़तीसवां भारत अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला (आईआईटीएफ) बुधवार को यहां शुरु हो गया जिसमें देश विदेश की कई कंपनियां हिस्सा ले रही हैं।

 Sharesee more..
संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसम्बर से 8 जनवरी तक

संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसम्बर से 8 जनवरी तक

14 Nov 2018 | 8:41 PM

नयी दिल्ली 14 नवम्बर (वार्ता) सरकार ने संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसम्बर से 8 जनवरी तक बुलाने का निर्णय लिया है, संसदीय कार्य राज्य मंत्री विजय गोयल ने बताया कि संसदीय मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसम्बर से 8 जनवरी तक बुलाने और इस संबंध में राष्ट्रपति को सिफारिश भेजने का निर्णय लिया है।

 Sharesee more..
image