Friday, Aug 7 2020 | Time 15:41 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बिजली अभियंता 18 अगस्त को विरोध दिवस मनाएंगे
  • मोदी सरकार बुनकर समुदाय के समग्र विकास के प्रति कटिबद्ध: शाह
  • चंपावत में कार खाई गिरी, एक की मौत, दूसरा घायल
  • जम्मू कश्मीर की जनता के हित में संवैधानिक अधिकारों का उपयोग करेंगे: सिन्हा
  • केरल में भूस्खलन की घटना पर हर्षवर्धन ने जताया दुख
  • उत्तराखंड आशा हेल्थ वर्कर्स यूनियन की तीन दिवसीय हड़ताल शुरु
  • करुणानिधि को हर्षवर्धन ने दी श्रद्धांजलि
  • खाद्यान्न, पोषण सुरक्षा के लिए कृषि को अधिक कुशल, लाभदायक, उत्पादक बनाने की जरूरत- वेंकैया
  • साेना 56 हजार के करीब, चाँदी 76 हजार के पार
  • स्वदेशी शिल्प को संरक्षित करने के प्रयास सराहनीय: मोदी
  • प्रेरक है टैगोर का लेखन, कवितायें और विचार:हर्षवर्धन
  • नागार्जुन सागर आयकट किसानों को पानी देने के निर्देश
  • कर्नाटक वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष डॉ युसूफ का निधन
  • नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान ने किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, तीन नागरिक घायल
  • सामाजिक अंतर को पाटने का सेतु बनें लोकसेवक:नायडू
India


दुष्कर्म की घटनाओं के खिलाफ जंतर-मंतर पर प्रदर्शन

दुष्कर्म की घटनाओं के खिलाफ जंतर-मंतर पर प्रदर्शन

नयी दिल्ली 02 दिसंबर (वार्ता) तेलंगाना में हैदराबाद में एक महिला पशु चिकित्सक से सामूहिक दुष्कर्म के बाद उनकी हत्या तथा रांची और वडोदरा में हुई दुष्कर्म की घटनाओं के खिलाफ अपना विरोध दर्शाने और न्याय की मांग के लिए समाज के विभिन्न वर्गों के लोग सोमवार को यहां जंतर-मंतर पर एकत्रित हुए।
ऑल इंडिया डेमोक्रेटिक स्टूडेंट ऑर्गेनाइजेशन, ऑल इंडिया स्टूडेंट एसोसिएशन, ऑल इंडिया डेमोक्रेटिक विमेंस एसोसिएशन और ऑल इंडिया प्रोग्रेसिव विमेंस एसोसिएशन जैसे कई संगठनों के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित विरोध-प्रदर्शन की आयोजक एवं कांग्रेस नेता अमृता धवन ने कहा, “मैं एक नेता के तौर पर नहीं बल्कि समाज के एक ऐसे सदस्य के तौर पर इस प्रदर्शन का आह्वान कर रही हूं, जो समाज में हो रही घटनाओं को लेकर चिंतित है। महिलाएं कितनी असुरक्षित हैं, इस पर चर्चा करने के लिए हमें दूसरी निर्भया क्यों चाहिए? न्यायिक प्रणाली को त्वरित न्याय सुनिश्चित करना होगा ताकि पीड़ितों के परिवारों को कुछ राहत मिले।”
उन्होंने कहा, “निर्भया के बलात्कारी अब भी जेल में है और उन्हें अब तक फांसी नहीं दी गयी है। वे जेल में अपनी जिंदगी जी रहे हैं, उन्हें खाना मिल रहा है और वे चैन से सो रहे हैं लेकिन पीड़ितों के परिवारों को क्या मिला, जिनकी जिंदगी हमेशा के लिए तबाह हो गई है।”
प्रदर्शन के दौरान काली पट्टियां बांधे प्रदर्शनकारियों ने ‘हमें न्याय चाहिए’, ‘हमें शर्म आती है कि हत्यारे अब तब जिंदा हैं’ के नारे लगाये।
गौरतलब है कि सरकारी अस्पताल में काम करने वाली पशु चिकित्सक का गुरुवार रात हैदराबाद के बाहरी इलाके में चार लोगों ने दुष्कर्म किया और उसके बाद उन्हें जिंदा जला दिया जिससे उनकी मौत हो गई। उनका झुलसा हुआ शव शुक्रवार को बरामद हुआ था। इस मामले के चार आरोपियों को उसी दिन गिरफ्तार कर लिया गया था।
यामिनी, संतोष
वार्ता

More News
स्वदेशी शिल्प को संरक्षित करने के प्रयास सराहनीय: मोदी

स्वदेशी शिल्प को संरक्षित करने के प्रयास सराहनीय: मोदी

07 Aug 2020 | 3:28 PM

नयी दिल्ली 07 अगस्त (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ‘राष्ट्रीय हथकरघा दिवस’ पर इस क्षेत्र से जुड़े लोगों की सराहना करते हुए कहा है कि स्वदेशी शिल्प को संरक्षित करने के उनके प्रयास सराहनीय हैं।

see more..
सामाजिक अंतर को पाटने का सेतु बनें लोकसेवक:नायडू

सामाजिक अंतर को पाटने का सेतु बनें लोकसेवक:नायडू

07 Aug 2020 | 3:02 PM

नयी दिल्ली ,07 अगस्त (वार्ता) उप राष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने लोकसेवकों से धनी -निर्धन, महिला - पुरुष और शहरी - ग्रामीण अंतर को पाटने का सेतु बनने का आह्वान करते हुए शुक्रवार को कहा कि उन्हें नये भारत के निर्माण कार्य में सक्रियता से जुटना चाहिए।

see more..
image