Monday, Sep 24 2018 | Time 13:25 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दीपक को भी रजत, पूरा नहीं हो सका 17 साल का स्वर्ण सपना
  • लखनऊ के रणजीत बने उत्तर प्रदेश वेटलिफ्टिंग संघ के उपाध्यक्ष
  • लखनऊ के रणजीत बने उत्तर प्रदेश वेटलिफ्टिंग संघ के उपाध्यक्ष
  • ओलांद की टिप्पणी से भारत-फ्रांस के संबंधों में आ सकती है खटास: फ्रांसीसी मंत्री
  • कठुआ में बाढ़ में फंसे हुए करीब 10 लोगों को बचाया गया
  • मालदीव के चुनाव परिणामों का भारत ने किया स्वागत
  • फिल्म निर्माण की विशिष्ट शैली बनायी थी फिरोज़ खान ने
  • रणवीर के साथ काम करना बेहतरीन अनुभव: कृति खरबंदा
  • अंतरिक्ष यात्री का किरदार निभायेंगे अक्षय कुमार
  • लोकरूचि जीवित हुनमान दो इटावा
  • इटावा के जीवित हनुमान के हैं सब मुरीद
  • फिल्म निर्माण की विशिष्ट शैली बनायी थी फिरोज़ खान ने
  • फिल्म निर्माण की विशिष्ट शैली बनायी थी फिरोज़ खान ने
  • कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त भाजपा नेत्री ने छोड़ी पार्टी, कांग्रेस में होंगी शामिल
  • अस्पताल में साथी महिला डाक्टर से दुष्कर्म करने वाला रेजिडेंट डाक्टर निलंबित, गिरफ्तार
राज्य Share

पाटीदारों के आरक्षण के लिए आयोग गठित हो: देवेगौड़ा

पाटीदारों के आरक्षण के लिए आयोग गठित हो: देवेगौड़ा

बेंगलुरु 02 सितंबर (वार्ता) पूर्व प्रधानमंत्री एवं जनता दल (सेक्युलर) सुप्रीमो एच डी देवेगौड़ा ने अन्य पिछड़ा वर्ग के तहत पाटीदारों के लिए आरक्षण की मांग पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से आयोग गठित करने का आग्रह किया है।

श्री देवेगौडा ने पाटीदार नेता हार्दिक पटेल की भूख हड़ताल खत्म कराने के लिए हस्तक्षेप करने का आग्रह किया। वह पिछले 11 दिनों से अनशन पर बैठे हैं। उन्होंने कहा, “ यह एक गंभीर मामला है। मैं आपसे अनुरोध करता हूँ कि आप इस मामले में तुरंत हस्तक्षेप करें और पिछड़े वर्ग और समुदाय के हित में युवा पाटीदार नेता के जीवन को बचाया जाये।”

श्री देवेगौड़ा ने याद दिलाया कि उनके प्रधानमंत्री रहने के दौरान राजस्थान में जाट समुदाय की मांग के मद्देनजर एक आयोग का गठन किया गया था, जो आर्थिक पिछड़ापन और पिछड़ा श्रेणी के तहत आरक्षण की मांग कर रहे थे और रिपोर्ट के आधार पर राजस्थान के जाट अन्य पिछड़े वर्ग की केन्द्रीय सूची में शामिल हुए थे।

श्री देवेगौड़ा ने श्री पटेल को एक अलग पत्र लिखा जिसमें उन्होंने श्री पटेल को अनशन समाप्त करने की सलाह दी, अनशन के कारण उनका स्वास्थ्य दिन-प्रतिदिन खराब हो रहा है। उन्होंने लिखा, “आप एक युवा हो और अच्छे कामाें की आगे की लड़ाई के लिए आपकी सेवाओं की आवश्यकता है। अाप अपना अनशन समाप्त करें और उसके बाद आप सरकार से अपनी मांगों के पूरा कराने के लिए लगातार अपना प्रदर्शन जारी रखें।”

image