Saturday, May 27 2017 | Time 17:35 Hrs(IST)
image
  • फ्लेगशिप योजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन के निर्देश
  • मिस्र ने आतंकवादियों के प्रशिक्षण शिविरों पर किए हवाई हमले
  • तमिलनाडु में सड़क दुर्घटना, पांच की मौत,25 घायल
  • ....
  • इटावा के फिशर वन मे लगी आग, हजारों पेड जलकर खाक
  • दिव्यांगों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने के लिए सरकार कृतसंकल्पित-गहलोत
  • माओवादियों को फांसी की सजा देने वाले न्यायाधीश को जान से मारने की धमकी
  • महेश क्वार्टरफाइनल में हारकर बाहर
  • वाराणसी में छात्र-छात्रों ने किया योगी का विरोध
  • अमेठी में सड़क दुर्घटना में दो लोगों की मृत्यु
  • खुले में शौच मुक्त जिलों में गुजरात आगे ,बिहार का कोई जिला नहीं
  • जम्मू कश्मीर को मिली पहली फुटबॉल अकादमी
  • बाजार भाव दो अंतिम जबलपुर
  • जबलपुर बाजार भााव
  • ....
लोकरुचि Share

देवशिल्पी विश्वकर्मा निर्मित है देव का सूर्य मंदिर

देवशिल्पी विश्वकर्मा निर्मित है देव का सूर्य मंदिर

औरंगाबाद 01 अप्रैल (वार्ता) बिहार के औरंगाबाद जिले में स्थित ऐतिहासिक और पौराणिक स्थल देव के त्रेतायुगीन पश्चिमाभिमुख सूर्य मंदिर अपनी कलात्मक भव्यता के लिए सर्वविदित और प्रख्यात होने के साथ ही सदियों से देशी- विदेशी पर्यटकों, श्रद्धालुओं और छठव्रतियों की अटूट आस्था का केंद्र बना हुआ है। मंदिर की अभूतपूर्व स्थापत्य कला, शिल्प, कलात्मक भव्यता और धार्मिक महत्ता के कारण ही जनमानस में यह किंवदति प्रसिद्ध है कि इसका निर्माण देवशिल्पी भगवान विश्वकर्मा ने स्वयं अपने हाथों से किया है। देव स्थित भगवान भास्कर का विशाल मंदिर अपने अप्रतिम सौंदर्य और शिल्प के कारण सदियों श्रद्धालुओं, वैज्ञानिकों, मूर्तिचोरों , तस्करों एवं आमजनों के लिए आकर्षण का केंद्र है। काले और भूरे पत्थरों की अति सुंदर कृति, जिस तरह ओडिशा प्रदेश के पुरी स्थित जगन्नाथ मंदिर का शिल्प है, ठीक उसी से मिलता-जुलता शिल्प देव के प्राचीन सूर्य मंदिर का भी है। मंदिर के निर्माणकाल के संबंध में उसके बाहर ब्रह्म लिपि में लिखित और संस्कृत में अनुवादित एक श्लोक जड़ा है, जिसके अनुसार 12 लाख 16 हजार वर्ष त्रेता युग के बीत जाने के बाद इलापुत्र पुरूरवा ऐल ने देव सूर्य मंदिर का निर्माण आरंभ करवाया। शिलालेख से पता चलता है कि सन् 2017 ई. में इस पौराणिक मंदिर के निर्माण काल का एक लाख पचास हजार सतरह वर्ष पूरा हो गया है। देव मंदिर में सात रथों से सूर्य की उत्कीर्ण प्रस्तर मूर्तियां अपने तीनों रूपों- उदयाचल-प्रात: सूर्य, मध्याचल- मध्य सूर्य और अस्ताचल -अस्त सूर्य के रूप में विद्यमान है। पूरे देश में देव का मंदिर ही एकमात्र ऐसा सूर्य मंदिर है जो पूर्वाभिमुख न होकर पश्चिमाभिमुख है। करीब एक सौ फुट ऊंचा यह सूर्य मंदिर स्थापत्य और वास्तुकला का अद्भुत उदाहरण है। बिना सीमेंट अथवा चूना-गारा का प्रयोग किये आयताकार, वर्गाकार, अर्द्धवृत्ताकार, गोलाकार, त्रिभुजाकार आदि कई रूपों और आकारों में काटे गये पत्थरों को जोड़कर बनाया गया यह मंदिर अत्यंत आकर्षक एवं विस्मयकारी है।


जनश्रुतियों के आधार पर इस मंदिर के निर्माण के संबंध में कई किंवदतियां प्रसिद्ध हैं जिससे मंदिर के अति प्राचीन होने का स्पष्ट पता तो चलता है लेकिन इसके निर्माण के संबंध में अभी भी भ्रामक स्थिति बनी हुई है। निर्माण के मुद्दे को लेकर इतिहासकारों और पुरातत्व विशेषज्ञों के बीच चली बहस से भी इस संबंध में ठोस परिणाम प्राप्त नहीं हो सका है। जनश्रुति के अनुसार, ऐल एक राजा थे, जो किसी ऋषि के शापवश श्वेत कुष्ठ से पीड़ित थे। वे एक बार शिकार करने देव के वन प्रांत में पहुंचने के बाद राह भटक गये। राह भटकते भूखे-प्यासे राजा को एक छोटा सा सरोवर दिखायी पड़ा जिसके किनारे वे पानी पीने गये और अंजुरी में भरकर पानी पिया। पानी पीने के क्रम में वे यह देखकर घोर आश्चर्य में पड़ गये कि उनके शरीर के जिन जगहों पर पानी का स्पर्श हुआ, उन जगहों के श्वेत कुष्ठ के दाग जाते रहे। इससे अति प्रसन्न और आश्चर्यचकित राजा अपने वस्त्रों की परवाह नहीं करते हुए सरोवर के गंदे पानी में लेट गये और इससे उनका श्वेत कुष्ठ पूरी तरह समाप्त हो गया। राजा ने अपने शरीर में आश्चर्यजनक परिवर्तन देख प्रसन्नचित हो इसी वन प्रांतर में रात्रि विश्राम करने का निर्णय लिया और रात्रि में राजा को सपना आया कि उसी सरोवर में भगवान भास्कर की प्रतिमा दबी पड़ी है। प्रतिमा को निकालकर वहीं मंदिर बनवाने और उसमें प्रतिष्ठित करने का निर्देश उन्हें सपने में प्राप्त हुआ। कहा जाता है कि राजा ऐल ने इसी निर्देश के मुताबिक सरोवर से दबी मूर्ति को निकालकर मंदिर में स्थापित कराने का काम किया और सूर्य कुण्ड का निर्माण कराया लेकिन मंदिर यथावत रहने के बावजूद उस मूर्ति का आज तक पता नहीं है। जो अभी वर्तमान मूर्ति है वह प्राचीन अवश्य है, लेकिन ऐसा लगता है मानो बाद में स्थापित किया गया हो। मंदिर परिसर में जो मूर्तियां हैं, वे खंडित तथा जीर्ण-शीर्ण अवस्था में हैं।

'विस्तृत समाचार के लिए हमारी सेवाएं लें।'
मुख्य समाचार
माॅरीशस के प्रधानमंत्री का राष्ट्रपति भवन में रस्मी स्वागत

माॅरीशस के प्रधानमंत्री का राष्ट्रपति भवन में रस्मी स्वागत

नयी दिल्ली, 27 मई (वार्ता) मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद कुमार जगन्नाथ का आज राष्ट्रपति भवन में रस्मी स्वागत किया गया।

   
आगे देखे..27 May 2017 | 11:10 AM
नीतीश शरीक हुए मोदी के भोज में

नीतीश शरीक हुए मोदी के भोज में

नयी दिल्ली, 27 मई (वार्ता) बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल (यूनाइटेड):जदयू: के प्रमुख नीतीश कुमार आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्रवीन्द्र कुमार जगन्नाथ के सम्मान में दिये गये भोज में शरीक हुये, पटना से आज यहां पंहुचे श्री कुमार ने संवाददाताओं से कहा कि श्री मोदी ने इस भोज में शामिल होने के लिए उन्हें आमंत्रित किया है।

   
आगे देखे..27 May 2017 | 4:06 PM
सेना किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार: जेटली

सेना किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार: जेटली

यी दिल्ली 27 मई (वार्ता) रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी देते हुए आज कहा कि सेना किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है और पाकिस्तान ने जो किया है, उसका परिणाम उसे भुगतना पड़ेगा।

   
आगे देखे..27 May 2017 | 4:34 PM
देश ने पंडित नेहरू को दी श्रद्धांजलि

देश ने पंडित नेहरू को दी श्रद्धांजलि

नयी दिल्ली, 27 मई (वार्ता) राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी, उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह तथा कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू को उनकी 53वीं पुण्यतिथि पर आज श्रद्धांजलि अर्पित की।

   
आगे देखे..27 May 2017 | 4:06 PM
कश्मीर में घुसपैठ का प्रयास विफल, छह आतंकवादी मारे गये

कश्मीर में घुसपैठ का प्रयास विफल, छह आतंकवादी मारे गये

श्रीनगर, 27 मई (वार्ता) जम्मू-कश्मीर में बारामूला जिले के उरी क्षेत्र में सुरक्षा बलों ने नियंत्रण रेखा पर घुसपैठ के एक और प्रयास को विफल करते हुए छह सशस्त्र आतंकवादियों को मार गिराया है।

   
आगे देखे..27 May 2017 | 1:49 PM
शब्बीरपुर में राहुल की ‘नो एंट्री’

शब्बीरपुर में राहुल की ‘नो एंट्री’

सहारनपुर 27 मई (वार्ता) जातीय हिंसा का दंश झेल रहे उत्तर प्रदेश में सहारनपुर के शब्बीरपुर गांव में व्याप्त तनाव के मद्देनजर सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुये जिला प्रशासन ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को आज गांव जाने से रोक दिया, श्री गांधी ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार से पूछा, “मुझे किस कानून के तहत रोका गया।

   
आगे देखे..27 May 2017 | 4:14 PM
कपिल का दवा खरीद में 300 करोड़ रुपये घोटाले का आरोप

कपिल का दवा खरीद में 300 करोड़ रुपये घोटाले का आरोप

नयी दिल्ली, 27 मई (वार्ता) मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर लगातार आरोप लगा रहे दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने राज्य सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय में दवाइयों की खरीद में 300 करोड़ रुपये का घोटाला होने का आरोप लगाया है।

   
आगे देखे..27 May 2017 | 1:16 PM
मुठभेड़ में हिजबुल कमांडर समेत तीन आतंकवादी ढेर

मुठभेड़ में हिजबुल कमांडर समेत तीन आतंकवादी ढेर

श्रीनगर, 27 मई (वार्ता) जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के एक गांव में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर सब्जार भट समेत तीन आतंकवादी मारे गये हैं, सब्जार को पिछले वर्ष जुलाई में अनंतनाग में मारे गये हिजबुल कमांडर बुरहान वानी की जगह कमांडर बनाया गया था।

   
आगे देखे..27 May 2017 | 4:06 PM

अफगानिस्तान में बम विस्फोट और मुठभेड में 50 लोगों की मौत

काबुल, 27 मई (रायटर) अफगानिस्तान में आज रमजान के पहले दिन एक आत्मघाती हमले में 14 लोग और सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में 22 आतंकवादियों समेत कम से कम 36 लोग मारे गये।

   
आगे देखे..27 May 2017 | 1:56 PM
हत्या के लिए मवेशियों के खरीद-फरोख्त पर रोक

हत्या के लिए मवेशियों के खरीद-फरोख्त पर रोक

नयी दिल्ली 27 मई (वार्ता) केन्द्र सरकार ने मांस कारोबार के लिये गाय और भैंस की हत्या और बिक्री पर रोक लगा दी है।

   
आगे देखे..27 May 2017 | 10:26 AM
उत्तरप्रदेश में औद्योगिक क्षेत्रों के लिए तैयार होगा कुशल कार्यबल

उत्तरप्रदेश में औद्योगिक क्षेत्रों के लिए तैयार होगा कुशल कार्यबल

13 May 2017 | 4:28 PM

नयी दिल्ली 13 मई (वार्ता) कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री राजीव प्रताप रूडी से उत्तरप्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने आज यहां मुलाकात की और राज्य में कौशल विकास से संबंधित गतिविधियों पर चर्चा की। दोनों मंत्रियों ने

भारतीय एवं विश्व इतिहास में 27 मई की प्रमुख घटनाएं

भारतीय एवं विश्व इतिहास में 27 मई की प्रमुख घटनाएं

27 May 2017 | 8:35 AM

नयी दिल्ली, 26 मई (वार्ता) भारतीय एवं विश्व इतिहास में 27 मई की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार हैं: 1538 - जेनेवा में धर्मसुधार आंदोलन के प्रणेता जाॅन केल्विन और उनके शिष्यों को शहर से निकाला गया। 1805 - नेपोलियन बोनापार्ट इटली के सम्राट बने। 1896 -

घर बैठे जानिए कैंसर के बारे में

घर बैठे जानिए कैंसर के बारे में

14 May 2017 | 12:34 PM

नयी दिल्ली,14 मई (वार्ता) अगर आप घर बैठे यह जानना चाहते हैं कि कैंसर से पीड़ित हैं या नहीं और अगर कैंसर है तो किस अवस्था में हैं तो उसका पता आप 24 घंटे के भीतर लगा सकते हैं। मुम्बई के मशहूर टाटा कैंसर हॉस्पिटल ने नव्या विशेषज्ञ सलाह

image