Monday, Jun 1 2020 | Time 18:27 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • लॉकडाउन में भी इक्विटी आकर्षित कर रहा है माइक्रोफाइनेंस क्षेत्र
  • छोटे उद्याेगों की परिभाषा बदलने को मंजूरी
  • ‘चेन्नई में अगले दो सप्ताह में आ सकते हैं सकारात्मक बदलाव’
  • सिरसा में मिले 28 कोरोना संक्रमित
  • अनलॉक-वन में जनता, कारोबारियों और कामगारों को अनेक राहत: विज
  • तेलंगाना में कोरोना संक्रमितों में वृद्धि पर राज्यपाल ने जतायी चिंता
  • मौसम गुजरात तूफान चेतावनी दो अंतिम गांधीनगर
  • तूफान निसर्ग के असर से गुजरात में भारी से अत्यधिक भारी वर्षा की चेतावनी
  • प्लानीस्वामी ने एफईएफएसआई सदस्यों के लिए मकानों की रखी आधारशिला
  • चतरा में श्रम मंत्री ने कोरोना योद्धाओं को सम्मानित किया
  • संतकबीरनगर में एक ही दिन में 23 कोरोना संक्रमित मिले,संख्या हुई 105
  • ओडिशा के 11 जिलों में सप्ताह में दो दिन रहेगी पूर्णबंदी
  • जम्मू सीमांत क्षेत्र में बीएसएफ महानिदेशक ने सुरक्षा स्थिति का लिया जायजा
  • केंद्र की भाजपा सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला वर्ष उपलब्धियों भरा रहा: बराला
  • भागलपुर से विशेष अभियान में कुख्यात समेत चार गिरफ्तार
भारत


एचआईवी-एड्स मुक्त भारत के लक्ष्य में भेदभावपूर्ण रवैया बाधक : डॉ़ हषवर्धन

एचआईवी-एड्स मुक्त भारत के लक्ष्य में भेदभावपूर्ण रवैया बाधक   : डॉ़ हषवर्धन

नयी दिल्ली 01 दिसंबर(वार्ता) केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री हर्षवर्धन ने कहा है कि एचआईवी-एड्स प्रभावित लोगों के प्रति भेदभावपूर्ण रवैया को बदलना होगा और यह वर्ष 2030 तक देश को इस बीमारी से मुक्त करने के लक्ष्य में बड़ा बाधक है।

डॉ़ हर्षवर्धन ने रविवार को विश्व एचआईवी-एड्स दिवस पर राष्ट्रीय एड्स नियंत्रण संगठन(एनएसीओ) द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम के उद्घाटन भाषण यह बात कही। उन्होंने इस बीमारी से पीड़ित लोगों के प्रति समाज की मानसिकता पर चोट करते हुए कहा,“हमें अपने विचार और व्यवहार में एचआईवी-एड्स प्रभावितों के प्रति भेदभावपूर्ण रवैये को त्याग देना चाहिए और हमें एचआईवी-एड्स समुदाय जैसी शब्दावली से भी बचना चाहिए। कई प्रकार की गंभीर बीमारियों से ग्रस्त और इससे ठीक हुए लोगों के प्रति अलग-थलग की भावना नहीं रखनी चाहिए।”

डॉ़ हर्षवर्धन ने कहा,“ एचआईवी-एड्स की लड़ाई में हमने बहुत लंबी यात्रा की है। वर्ष 2030 तक देश को एचआईवी-एड्स मुक्त बनाने के लक्ष्य की दिशा में इस बीमारी को कलंक मानने और इससे ग्रस्त और ठीक हुए लोगों के प्रति भेदभाव के व्यवहार में बदलाव लाना महत्वपूर्ण मिल का पत्थर है।”

उन्होंने एचआईवी-एड्स के प्रति जागरूकता फैलाने और लाेगों में इसको लेकर व्याप्त संकोच को दूर करने में महत्पूर्ण भूमिका निभाने वाली सहयोगी संस्थाओं की प्रशंसा की।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि वर्ष 2018-19 में करीब 79 प्रतिशत एचवीआई संक्रमण लोगों को अपनी स्थिति की जानकारी है, इससे संक्रमित होने वाले 82 प्रतिशत मरीजों एंटीरेट्रोवायरल थेरेपी दी जा रही है और 79 प्रतिशत वायरली सप्रेस्ड हैं। उन्होंने कहा, “इसका मतलब है कि हम सही रास्ते पर चले रहे हैं और सतत प्रयास से हम अपना लक्ष्य हासिल कर सकते है।”

आशा राम

वार्ता

More News
मजदूरों को रोजीरोटी की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा : अग्रवाल

मजदूरों को रोजीरोटी की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा : अग्रवाल

01 Jun 2020 | 5:23 PM

नयी दिल्ली 01 जून (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आज कहा कि लॉकडाउन के कारण देशभर से प्रवासी मजदूरों के पलायन और उनकी दिक्कतों कारण कुछ राज्य सरकारों का अनुचित रवैया रहा है।

see more..
सरकार ने खरीफ फसलों का एमएसपी बढाया, धान का 1868 रुपए तय

सरकार ने खरीफ फसलों का एमएसपी बढाया, धान का 1868 रुपए तय

01 Jun 2020 | 5:05 PM

नयी दिल्ली 01 जून (वार्ता) सरकार ने वर्ष 2020- 21 के लिए खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की घोषणा करते हुए सामान्य धान का एमएसपी 1868 रुपए, मक्का का 1850 रुपए , ज्वार का 2620 रुपए, अरहर का 7196 रुपए और बाजरा का 2150 रुपए प्रति क्विंटल निर्धारित कर दिया है।

see more..
image