Sunday, Jul 21 2019 | Time 13:59 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • डी राजा बने भाकपा के महासचिव
  • तिमाही परिणामों और वैश्विक संकेतों से तय होगी बाजार की चाल
  • डी राजा भाकपा के महासचिव बने
  • जब्त ब्रिटीश तेल टैंकर चालक दल के सभी सदस्य सुरक्षित
  • पंजाब से नशे की समस्या को खत्म करने को हम प्रतिबद्ध हैं : हरप्रीत सिद्धू
  • सोना 300 रुपये चमका, चांदी 2500 रुपये उछली
  • ‘यूनाइटेड इंडिया’ के रूप में उभर रहा है भारत: संजय डालमिया
  • ईरान ने ओमानी जल क्षेत्र में स्टेना इम्पेरो टैंकर काे जब्त किया : ब्रिटेन
  • रिकार्ड से फिसला विदेशी मुद्रा भंडार
  • ममता ने वाम शासन के दौरान मारे गये लोगों को श्रद्धांजलि दी
  • शून्यकाल में उठने वाले मामलों की जानकारी संबंधित विभागों तक पहुंचायी जाए - अध्यक्ष
  • चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण सोमवार को
  • सोपोर में 15 वांछित लकड़ी तस्कर गिरफ्तार
  • कोविंद,मोदी,राजनाथ ने गर्ग के निधन पर जताया शोक
राज्य » राजस्थान


चिकित्सा संस्थानों में साफ-सफाई में कमी होने पर होगी अनुशासनात्मक कार्रवाई

चिकित्सा संस्थानों में साफ-सफाई में कमी होने पर होगी अनुशासनात्मक कार्रवाई

जयपुर, 12 अप्रैल (वार्ता) राजस्थान में चिकित्सा संस्थानों में नि:शुल्क दवा एवं जांच और साफ-सफाई में कमी मिलने पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के विशिष्ट शासन सचिव एवं मिशन निदेशक एनएचएम डॉ. समित शर्मा  ने प्रदेश के कुछ अस्पतालों में निरीक्षण के दौरान निःशुल्क दवाएं उपलब्ध होते हुए भी बाजार से मंगवाए  जाने, जांच उपकरणों की उपलब्धता के बावजूद जांचें नहीं किए जाने को गंभीरता से लेते हुए इसकी जिम्मेदारी तय करने के निर्देश जारी किए हैं। अब प्रदेश में अभियान चलाकर चिकित्सा संस्थानों में इन

सुविधाओं और साफ-सफाई की स्थिति का आकलन किया जाएगा और कमी मिलने पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

        उन्होंने सभी संयुक्त निदेशक, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एवं प्रमुख चिकित्सा अधिकारियों को अगले पांच दिन में उपस्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, जिला, उपजिला एवं सेटेलाइट अस्पताल में आवश्यक दवाओं एवं जांच की सुविधा सुनिश्चित कराने के साथ साफ-सफाई एवं पुराने कबाड़, नाकारा सामान के निस्तारण के निर्देश दिए हैं।

         डॉ. शर्मा ने बताया कि तीन दिन पूर्व राज्य स्तरीय टीम द्वारा निरीक्षण किए जाने पर कुछ अस्पतालों में गंभीर गंदगी, दवाइयां उपलब्ध होने पर भी दवा बाजार से मंगाने एवं जांच उपकरण उपलब्ध होने पर भी जांचें नहीं किए जाने की स्थिति सामने आई थी। उन्होंने बताया कि सभी जिला स्तरीय अधिकारियों को उनके क्षेत्राधीन संस्थानों का निरीक्षण कर 16 से 20 अप्रैल के मध्य इन निर्देशों की पालना करने के लिए कहा गया है। इसके बाद 22 से 26 अप्रैल के मध्य राज्य स्तरीय टीमें इन संस्थानों में साफ सफाई, निःशुल्क दवा एवं निःशुल्क जांचों की उपलब्धता का निरीक्षण एवं पर्यवेक्षण करेंगी। उन्होंने बताया कि इन कार्यों में लापरवाही पायी गई तो संबंधित चिकित्सा अधिकारी, प्रभारी मैट्रन मेल नर्स लैबोरेट्री, टेक्नीशियन, फार्मासिस्ट आदि के खिलाफ कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

More News
पुष्कर सरोवर में कावड़ियों का आना शुरु

पुष्कर सरोवर में कावड़ियों का आना शुरु

21 Jul 2019 | 10:59 AM

अजमेर 21 जुलाई (वार्ता) राजस्थान के अजमेर जिले में स्थित तीर्थराज पुष्कर में सावन महीने के आते ही कावड़ियों का पवित्र पुष्कर सरोवर पर आना शुरु हो गया है।

see more..
हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर थाने पर प्रदर्शन

हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर थाने पर प्रदर्शन

20 Jul 2019 | 11:20 PM

अलवर 20 जुलाई (वार्ता) राजस्थान में अलवर जिले के शाहजहाँपुर थाना क्षेत्र के सकतपुरा गांव में एक महिला की हत्या के आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग के लेकर आज बडी संख्या में ग्रामीणों से थाने पर प्रदर्शन किया।

see more..
दिल्ली के विकास के लिये दीक्षित को याद रखा जायेगा-तिवाड़ी

दिल्ली के विकास के लिये दीक्षित को याद रखा जायेगा-तिवाड़ी

20 Jul 2019 | 11:03 PM

जयपुर 20 जुलाई (वार्ता) राजस्थान के पूर्व मंत्री घनश्याम तिवाड़ी ने दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के निधन पर शोक व्यक्त करते हुये कहा कि दिल्ली के विकास के लिये उन्हें हमेशा याद रखा जाएगा।

see more..
image