Tuesday, Oct 27 2020 | Time 20:41 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • नोएडा मुठभेड़ में एक इनामी समेत आठ वांछित बदमाश गिरफ्तार
  • गुजराती सुपर स्टार नरेश कनोडिया का निधन, दो दिन पहले ही संगीतकार भाई थे गुज़रे
  • रोहतक रोड टर्फ यूथ कप के फाइनल में
  • पाकिस्तान मदरसा विस्फोट: 8 की मौत, 110 घायल
  • एक नवम्बर से धान खरीद को लेकर हुए हंगामे के कारण कार्यवाही हुई स्थगित
  • गुजरात की अदालत ने राहुल को दी राहत, मानहानि प्रकरण में व्यक्तिगत पेशी से छूट
  • रोहित की चोट पर स्थिति स्पष्ट करे बीसीसीआई: गावस्कर
  • रोहित की चोट पर स्थिति स्पष्ट करे बीसीसीआई: गावस्कर
  • सांगली में कोरोना के 154 मरीज संक्रमित पाये गये
  • बेंगलुरु में कोरोना की झूठी रिपोर्ट देने वाला लैब टेक्निशियन तथा आशा वर्कर निलंबित
  • कृषि बिलों के खिलाफ संसद के सामने विरोध प्रदर्शन
  • शांति, समृद्धि के लिए प्रतिबद्ध है सरकार : सिन्हा
  • महाराष्ट्र में कोरोना सक्रिय मामले घटकर 1 31 लाख
  • बलिया गोलीकांड में फरार चल रहे 50-50 हजार के दो इनामी आरोपी गिरफ्तार
  • कोविड-19 के लिए व्यापार असंतुलन को दूर करें डब्ल्यूटीओ: पीयूष
राज्य » बिहार / झारखण्ड


चुनाव प्रचार : जनसंपर्क में नहीं होंगे पांच से अधिक नेता-कार्यकर्ता

चुनाव प्रचार : जनसंपर्क में नहीं होंगे पांच से अधिक नेता-कार्यकर्ता

पटना 26 सितंबर (वार्ता) बिहार में कोविड-19 संक्रमण से बचाव के उपायों के तहत इस बार के विधानसभा चुनाव में प्रचार के लिए डोर-टू-डोर कैम्पेन में किसी भी राजनीतिक दल के उम्मीदवार समेत पांच से अधिक नेता-कार्यकर्ता शामिल नहीं होंगे।

निर्वाचन आयोग के कोविड-19 से बचाव के साथ चुनाव कराए जाने के संबंध में जारी दिशा-निर्देश में कहा गया है कि चुनाव प्रचार के लिए उम्मीदवार समेत पांच लोगों का समूह ही घर-घर जाकर जनसंपर्क कर सकेंगे। यदि समूह में शामिल किसी उम्मीदवार या नेता के लिए सुरक्षाकर्मी की नियुक्ति की गई है तो उन्हें इस समूह में नहीं गिना जाएगा।

चुनाव प्रचार के लिए यदि कोई दल या उम्मीदवार रोड शो करते हैं तो एक बार में 10 वाहन के स्थान पर केवल पांच वाहन का काफिला निकालने की अनुमति दी जाएगी। इनमें सुरक्षाकर्मियों के वाहनों को नहीं जोड़ा जाएगा। काफिला में शामिल वाहनों के दो सेट के बीच का अंतराल 100 मीटर के स्थान पर आधे घंटे का होगा।

राजनीतिक दलों के चुनावी सभा के संबंध में कोविड-19 दिशा-निर्देश के तहत संबंधित जिला निर्वाची पदाधिकारी (डीईओ) को आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए गए हैं। इसमें कहा गया है कि चुनावी सभा के लिए जिला निर्वाची पदाधिकारी को पहले ही स्थल की पहचान कर एवं वहां प्रवेश एवं निकासी बिंदु को स्पष्ट कर लेना होगा। पहले ही संबंधित मैदान में आने वाले लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए निर्धारित दूरी पर गोल चिन्ह अंकित कराना होगा।

सूरज शिवा

जारी (वार्ता)

More News
राजग के झूठे वादे ने बिहार के लोगों को पलायन के लिए मजबूर किया : प्रिंयका

राजग के झूठे वादे ने बिहार के लोगों को पलायन के लिए मजबूर किया : प्रिंयका

27 Oct 2020 | 6:41 PM

पटना 27 अक्टूबर (वार्ता) शिवसेना की राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने आज कहा कि बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार के झूठे वादे के कारण प्रदेश के लोग परिवार छोड़कर दूसरे राज्यों में जाने के लिए मजबूर हुए हैं इसलिए ऐसी बड़बोली सरकार को जनता वैक्सीन देकर ठीक करेगी।

see more..
image