Saturday, Sep 22 2018 | Time 18:12 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कांग्रेस ने किसानों के साथ वादे क्यों नहीं निभाए : मोदी
  • शहीद विकास गुरुंग की स्मृति में द्वार का शिलान्यास
  • सवर्णों पर लाठीचार्ज करने वालों पर हो कार्रवाई : प्रेमचंद्र
  • ओलांद के बयान पर बेवजह विवाद पैदा किया जा रहा है: रक्षा मंत्रालय
  • जेमिमा का अर्धशतक, भारत को 2-0 की बढ़त
  • खाद्य तेल, दालें स्थिर, चीनी में नरमी
  • मोदी को काले झंडे दिखाने जा रहे कांग्रेस अध्यक्ष एवं अन्य नेता गिरफ्तार
  • शहीदों के कार्यक्रम को पैसों की बर्बादी बताने पर गहलोत मांगे माफी-वसुंधरा
  • बसपा से गठबंधन पर बातचीत जारी - कमलनाथ
  • बारिश से किसानों के माथे पर खिंची चिंता की लकीरें
  • खेलों के जरिये मानवीय मूल्य का विकास जरूरी : लालजी
  • उच्च शिक्षा सामग्री भारतीय भाषाओं में हो उपलब्ध: कोविंद
  • मोदी ने किया बिलासपुर-अनूपपुर तीसरी रेल लाइन, बिलासपुर-पथरापाली फोरलेन सड़क का शिलान्यास
  • मोदी ने किया बिलासपुर-अनूपपुर तीसरी रेल लाइन, बिलासपुर-पथरापाली 4-लेन सड़क का शिलान्यास
  • राहुल ने मोदी काे बताया ‘चोर’ और ‘भ्रष्ट’
स्टार्टअप वर्ल्ड » स्टार्ट अप अपडेट Share

रोजगार सृजन की दिशा में बढ़ रही है सरकार: गंगवार

रोजगार सृजन की दिशा में बढ़ रही है सरकार: गंगवार

नयी दिल्ली 08 नवंबर (वार्ता) कर्मचारियों और नियोक्ताओं के लिए उपयुक्‍त वातावरण की सुविधा उपलब्‍ध कराने पर जोर देते हुए केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने आज कहा कि सरकार कौशल विकास और रोजगार सृजन के लिए सही दिशा में आगे बढ़ रही हैं।

श्री गंगवार ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र नोएडा में आयाेजित ‘भारत में रोजगार सृजन की रणनीतियों’ पर बैठक में कहा कि देश में युवा जनसंख्‍या पूरी दुनिया में सबसे अधिक है और प्रत्‍येक युवा रोजगार चाहता है।
उन्होेंने कहा, “आने वाली पीढि़यां हमें माफ नहीं करेंगी यदि रोजगार सृजन के लिए हम अविलंब कदम नहीं उठाते हैं।
’’
उन्‍होंने कहा कि सरकार रोजगार प्रदान करने वालों और रोजगार के इच्‍छुक लोगों के लिए उपयुक्‍त वातावरण की सुविधा उपलब्‍ध कराता है इसलिए इस पर खास ध्यान दिया जाना चाहिए।
उन्‍होंने कहा कि सरकार कौशल विकास और रोजगार सृजन के लिए सही दिशा में आगे बढ़ रही हैं।
इस अवसर पर श्री गंगवार ने चार पुस्तिकाएं जारी की गयी।

इस अवसर पर श्रम और रोजगार सचिव एम. सत्यावती ने कहा कि रोजगार ढूंढने वाले युवाओं में प्रतिवर्ष एक करोड़ युवा जुड जाते हैं लेकिन अनेक युवाओं में कौशल की कमी है।
उन्‍होंने कहा कि सरकार इस अंतर को समाप्‍त करने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है।
हाल के वर्षों में 1.17 करोड़ युवाओं को विभिन्‍न कौशल विकास का प्रशिक्षण दिया गया है और उद्योग जगत और संस्‍थानों में नौकरी प्राप्‍त करने के लिए 920 नौकरी मेले आयोजित किये गये हैं।

सत्या,अभिनव
वार्ता

एयरबस

एयरबस का तीन भारतीय स्टार्टअप के साथ समझौता

बेंगलुरु 13 जुलाई (वार्ता) विमान निर्माता फ्रांसीसी कंपनी एयरबस ने अपनी इकाइयों नैवब्लू और एरिअल के जरिये डाटा सेवा, फ्लाइट ऑपरेशन और इमेजरी सेवाओं के क्षेत्र में काम करने वाली तीन भारतीय स्टार्टअप कंपनियों के साथ समझौता किया है।

जून

जून तक एक लाख कामगारों को किया जाएगा प्रशिक्षित : गडकरी

नयी दिल्ली, 22 दिसम्बर (वार्ता) सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने आज कहा कि अगले वर्ष जून तक देशभर में एक लाख से अधिक कामगारों का काैशल विकास किया जाएगा।

टेक्सटाइल

टेक्सटाइल क्षेत्र के लिए कौशल विकास स्कीम

नयी दिल्ली 20 दिसंबर (वार्ता) सरकार ने टेक्सटाइल क्षेत्र में रोजगार के नये अवसर सुनिश्चित करने के लिए 1300 करोड़ रुपये की लागत से नयी कौशल विकास योजना को मंजूरी प्रदान की है।

कौशल

कौशल विकास के नये कोर्स शुरू किये जायेंगे :चन्नी

चंडीगढ़, 08 दिसंबर (वार्ता)पंजाब के नौजवानों को भविष्य की आवश्यकताओं के अनुसार कुशल बनाकर रोजगार मुहैया करवाने के लिए कौशल विकास के कम अवधि के नवीन कोर्स आरंभ किये जायेंगे।

एक

एक करोड़ 24 लाख युवाओं का कौशल विकास किया सरकार ने:अनंत हेगड़े

नयी दिल्ली 07 दिसंबर (वार्ता) केंद्रीय कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने आज कहा कि कश्मीर से कन्याकुमारी और कच्छ से कोहिमा तक कौशल ही भविष्य के भारत का निर्माण करेगा और सरकार पिछले साढ़े तीन साल में एक करोड़ 24 लाख युवाओं का कौशल विकास कर चुकी है।

‘स्टार्ट

‘स्टार्ट अप’ की नयी मंजिल है पूर्वोत्तर क्षेत्र

नयी दिल्ली 12 नवंबर (वार्ता) पूर्वोत्तर क्षेत्र पूरे देश के युवाओं के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम ‘स्टार्ट अप’ की नयी मंजिल के रूप में तेजी से उभर कर सामने आ रहा है।

रोजगार

रोजगार सृजन की दिशा में बढ़ रही है सरकार: गंगवार

नयी दिल्ली 08 नवंबर (वार्ता) कर्मचारियों और नियोक्ताओं के लिए उपयुक्‍त वातावरण की सुविधा उपलब्‍ध कराने पर जोर देते हुए केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने आज कहा कि सरकार कौशल विकास और रोजगार सृजन के लिए सही दिशा में आगे बढ़ रही हैं।

काल्पनिक टेक्नोलॉजीज ने जुटाये पांच लाख डॉलर

नयी दिल्ली 09 नवंबर (वार्ता) धार्मिक पर्यटन क्षेत्र की स्टार्टअप कंपनी काल्पनिक टेक्नोलॉजीज ने इंटेल तथा जेननेक्स्ट वेंचर्स के पूर्व निदेशकों से पांच लाख डॉलर की पूंजी जुटायी है।

क्लियरटैक्स

क्लियरटैक्स ने शुरू किया ई केवाईसी

नयी दिल्ली 03 नवंबर (वार्ता) टैक्स ई फाइलिंग प्लेटफार्म क्लियरटैक्स ने म्युचुअल फंड में निवेश करने की चाहत रखने वालों के लिए ई केवाईसी पंजीकरण फीचर शुरू किया है।

मार्च

मार्च तक 100 शहरों में विस्तार करेगी रुबिक

नयी दिल्ली 16 अक्टूबर (वार्ता) प्रमुख फिनटैक कंपनी रुबिक ने चालू वित्त वर्ष के अंत तक देश में 100 शहरों तक कारोबार विस्तार करने की योजना बनायी है।

रोजगार सृजन की दिशा में बढ़ रही है सरकार: गंगवार

रोजगार सृजन की दिशा में बढ़ रही है सरकार: गंगवार

नयी दिल्ली 08 नवंबर (वार्ता) कर्मचारियों और नियोक्ताओं के लिए उपयुक्‍त वातावरण की सुविधा उपलब्‍ध कराने पर जोर देते हुए केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने आज कहा कि सरकार कौशल विकास और रोजगार सृजन के लिए सही दिशा में आगे बढ़ रही हैं।

इसरो ने इस तरह रचा इतिहास

इसरो ने इस तरह रचा इतिहास

बेंगलुरु 21 फरवरी (वार्ता) भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने एक साथ 104 उपग्रह छोड़ने वाले पीएसएलवी-सी37 मिशन को अनूठे और नवाचारी तरीके अपनाकर सफल बनाया।

काल्पनिक टेक्नोलॉजीज ने जुटाये पांच लाख डॉलर

नयी दिल्ली 09 नवंबर (वार्ता) धार्मिक पर्यटन क्षेत्र की स्टार्टअप कंपनी काल्पनिक टेक्नोलॉजीज ने इंटेल तथा जेननेक्स्ट वेंचर्स के पूर्व निदेशकों से पांच लाख डॉलर की पूंजी जुटायी है।

‘स्टार्ट अप’ की नयी मंजिल है पूर्वोत्तर क्षेत्र

‘स्टार्ट अप’ की नयी मंजिल है पूर्वोत्तर क्षेत्र

नयी दिल्ली 12 नवंबर (वार्ता) पूर्वोत्तर क्षेत्र पूरे देश के युवाओं के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम ‘स्टार्ट अप’ की नयी मंजिल के रूप में तेजी से उभर कर सामने आ रहा है।

एयरबस का तीन भारतीय स्टार्टअप के साथ समझौता

एयरबस का तीन भारतीय स्टार्टअप के साथ समझौता

बेंगलुरु 13 जुलाई (वार्ता) विमान निर्माता फ्रांसीसी कंपनी एयरबस ने अपनी इकाइयों नैवब्लू और एरिअल के जरिये डाटा सेवा, फ्लाइट ऑपरेशन और इमेजरी सेवाओं के क्षेत्र में काम करने वाली तीन भारतीय स्टार्टअप कंपनियों के साथ समझौता किया है।

image