Tuesday, Sep 18 2018 | Time 18:45 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अब बिजली कर्मचारी आंदोलन की राह पर, 30 अक्टूबर को करेंगे हड़ताल
  • हरियाणा में खिलाड़ियों के लिये खुलेगा सरकारी नौकरियाें का पिटारा
  • स्नातक शिक्षक पदों पर चुने गये 60 लोगों की बीएड की डिग्री नकली
  • त्रिवेंद्र की पत्नी ने स्कूल छात्रों के साथ सत्र की कार्यवाही देखी
  • अगला लोकसभा चुनाव राजनीतिक क्रांति का साक्षी होगा: ममता
  • ओला चली न्यूजीलैंड
  • जिला परिषद, पंचायत और ब्लॉक समिति चुनावों के लिए पुख्ता बंदोबस्त
  • खेल रत्न-द्रोणाचार्य के लिए नजरअंदाज होने से भड़के बजरंग और सुजीत
  • खेल रत्न-द्रोणाचार्य के लिए नजरअंदाज होने से भड़के बजरंग और सुजीत
  • एस्मा के विरोध में कर्मचारियों का प्रदर्शन और जेल भरो आंदोलन
  • किशोर उपाध्याय को विस भवन में न घुसने देने पर दिया धरना
  • कांग्रेस विदेश विभाग में नए पदाधिकारी नियुक्ति
  • माल्या मामले में जेटली को बर्खास्त करें : कांग्रेस
खेल Share

स्वीडन के खिलाफ इंग्लैंड का हथियार होंगे ट्रिपियर

स्वीडन के खिलाफ इंग्लैंड का हथियार होंगे ट्रिपियर

रेपिनो, 06 जुलाई (वार्ता) इंग्लैंड की फुटबाल टीम ने रूस में चल रहे फीफा विश्वकप में अपने प्रदर्शन से आलोचकों को करारा जवाब दिया है और अब वह अपनी इसी लय और टीम का सबसे बड़ा हथियार माने जा रहे राइट बैक किरान ट्रिपियर की बदौलत शनिवार को स्वीडन को क्वार्टरफाइनल में बाहर करने की तैयारी में है।

गैरेथ साउथगेट की इंग्लिश टीम की जब रूस के लिये घोषणा की गयी थी तब टीम में मिडफील्डरों अौर फारवर्ड खिलाड़ियों को लेकर काफी सवाल थे। लेकिन रूस में राइट बैक ट्रिपियर और सेंटर फारवर्ड हैरी केन जैसे खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से सभी को शांत कर दिया है और टीम को क्वार्टरफाइनल तक पहुंचने में भी मदद की।

मौजूदा टूर्नामेंट में ट्रिपियर गोल के मौके बनाने वाले खिलाड़ियों में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में है। ओप्टा के आंकड़ों के अनुसार अभी तक इस मामले में तीन खिलाड़ियों में ब्राजील के नेमार, बेल्जियम के केविन डी ब्रुएन और ट्रिपियर सबसे आगे हैं। ट्रिपियर ने भी स्वीडन से पूर्व मैच को लेकर कहा“मेरे लिये इंग्लैंड का संयोजन उचित है। मैं जितना आगे जाकर गोल के मौके बना सकूं टीम के लिये उतना अहम होगा। मैं इससे बहुत खुश हूं।”

इंग्लैंड को अहम क्वार्टरफाइनल मुकाबले में ट्रिपियर से काफी उम्मीद हैं जो मैनचेस्टर सिटी की यूथ टीम के लिये

शुरूआत से ही फूल बैक की भूमिका निभाते रहे हैं। कोच साउथगेट के मार्गदर्शन में हालांकि तीन मध्य डिफेंडरों को उतारा गया है जिसमें काइल वाकर किनारे से कवर देते हैं, ट्रिपियर राइट विंगर की तरह पूरा समय बिताते हैं।

ट्रिपियर की ताकत मैदान पर बिना थके देर तक भागने और तेज़ी से पास देने के अलावा बॉल को स्ट्राइक करना है जो इंग्लैंड के लिये टूर्नामेंट में अहम साबित हुई है। कोलंबिया के खिलाफ पेनल्टी शूटआउट में भी टीम को 4-3 से मिली जीत में उनकी अहम भूमिका रही थी। खास बात यह है कि ट्रिपियर ने अपनी इस तकनीक को इंग्लैंड के पूर्व कप्तान डेविड बेकहम से देखकर सीखा है जिनसे वह कभी नहीं मिले हैं।

प्रीति

वार्ता

More News

खेल रत्न-द्रोणाचार्य के लिए नजरअंदाज होने से भड़के बजरंग और सुजीत

18 Sep 2018 | 6:39 PM

नयी दिल्ली, 18 सितम्बर (वार्ता) राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने पहलवान बजरंग पुनिया ने उन्हें देश के सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न के लिए नजरअंदाज किये जाने पर गहरी नाराजगी जताई है जबकि एशियाई खेलों की फ्रीस्टाइल टीम के कोच सुजीत मान द्रोणाचार्य अवार्ड के लिए नजरअंदाज होने पर खासे भड़के हुए हैं।

 Sharesee more..

18 Sep 2018 | 6:34 PM

 Sharesee more..

18 Sep 2018 | 6:30 PM

 Sharesee more..
ट्रैक एशिया कप में उतरेगी 17 सदस्यीय भारतीय टीम

ट्रैक एशिया कप में उतरेगी 17 सदस्यीय भारतीय टीम

18 Sep 2018 | 6:13 PM

नयी दिल्ली, 18 सितम्बर (वार्ता) ट्रैक एशिया कप का यहां आईजी स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स स्थित साइक्लिंग वेलोड्रोम में 21 से 23 सितम्बर तक आयोजन किया जा रहा है जिसमें 12 देशों के 150 से ज्यादा साइक्लिस्ट हिस्सा लेंगे।

 Sharesee more..
सुनील ने भारत को दिलाया स्वर्ण पदक

सुनील ने भारत को दिलाया स्वर्ण पदक

18 Sep 2018 | 5:50 PM

नयी दिल्ली, 18 सितम्बर (वार्ता) भारतीय पहलवान सुनील कुमार (सिल्लू) ने दक्षिण कोरिया के चुंग्जू शहर में 13वें विश्व फायर फाइटर गेम्स में 86 किग्रा में स्वर्ण पदक जीतकर देश का गौरव बढ़ाया है।

 Sharesee more..
image