Wednesday, Sep 26 2018 | Time 05:13 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • चुनाव कराना राष्ट्रीय हित में नहीं: थेरेसा मे
  • तेलंगाना में रिश्वत लेने के मामले अधिकारी समेत दो गिरफ्तार
  • टाई रहा भारत और अफगानिस्तान का रोमांचक मुकाबला
  • जम्मू निकाय चुनाव के लिए 815 उम्मीदवारों ने भरे पर्चे
  • पश्चिमी पाकिस्तान का शरणार्थी एक प्रतिनिधि मंडल जितेंद्र सिंह से मिला
राज्य Share

उर्दू के मशहूर शायर कैसर सिद्दीकी समस्तीपुरी का निधन

उर्दू के मशहूर शायर कैसर सिद्दीकी समस्तीपुरी का निधन

समस्तीपुर 05 सितम्बर (वार्ता) राष्ट्रीय स्तर के उर्दू के मशहूर शायर कैसर सिद्दीकी समस्तीपुरी का यहां निधन हो गया। वह करीब 82 वर्ष के थे।

श्री सिद्दीकी पिछले कई दिनों से बीमार थे और कल रात इलाज के दौरान यहां के एक निजी अस्पताल में उनका निधन हो गया। श्री सिद्वीकी द्वारा लिखित कव्वाली ‘अपने मां-बाप का तू दिल न दुखा ’ देश मे काफी चर्चित रही। इसके अलावे शायर कैसर सिद्वीकी ने सामाजिक सौहार्द को बढ़ावा देनी वाली 12 से अधिक पुस्तकें लिखी जो काफी चर्चित है।

श्री सिद्दीकी को आज उनके पैतृक गांव समस्तीपुर जिले के हकिमाबाद नवादा मे सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया। इनके निधन पर समस्तीपुर के लोजपा सांसद रामचन्द्र पासवान, राजद विधायक सह प्रदेश प्रवक्ता अख्तरुल इस्लाम शाहीन, जदयू राज्यसभा सांसद रामनाथ ठाकुर,समस्तीपुर नगर परिषद् के पूर्व उपाध्यक्ष विश्वनाथ साह और कांग्रेस पार्टी के जिलाध्यक्ष मो.अबू तमीम ने गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि स्व.कैसर सिद्वीकी ने अपनी शायरी और लेखनी के माध्यम से सामाजिक सौहार्द को हमेशा बढ़ावा दिया जिसे सदैव याद रखा जायेगा।

सं.उमेश.सूरज

वार्ता

More News
निजी स्कूल वाहनों में लगे जीपीएस व सीसीटीवी कैमरे: उच्च न्यायालय

निजी स्कूल वाहनों में लगे जीपीएस व सीसीटीवी कैमरे: उच्च न्यायालय

25 Sep 2018 | 11:52 PM

नैनीताल 25 सितम्बर (वार्ता) उत्तराखंड उच्च न्यायालय ने हल्द्वानी के काठगोदाम में स्कूल वैन में एक मासूम के साथ हुए यौन उत्पीड़न के मामले को गंभीरता से लेते हुए मासूमों की सुरक्षा के लिये कुछ महत्वपूर्ण निर्देश जारी किये हैं।

 Sharesee more..
कृषि हमारी मूल संस्‍कृति है : उप राष्‍ट्रपति

कृषि हमारी मूल संस्‍कृति है : उप राष्‍ट्रपति

25 Sep 2018 | 11:33 PM

तिरूपति, 25 सितंबर (वार्ता) उप राष्‍ट्रपति एम.वेंकैया नायडू ने कहा है कि कृषि हमारी मूल संस्‍कृति है अौर हमें इसे समर्थन कर किसानों के लिए उपयोगी बनाना है।

 Sharesee more..
image