Friday, Apr 19 2024 | Time 23:42 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


किसानों ने पूंजीपतियों को खेती बेचने के मोदी के सपने को तोड़ा : खड़गे

किसानों ने पूंजीपतियों को खेती बेचने के मोदी के सपने को तोड़ा : खड़गे

लुधियाना, पंजाब 11फरवरी (वार्ता) कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने पंजाब के किसानों को बधाई देते हुए कहा है कि उन्होंने खेती बाड़ी को चंद पूंजीपतियों के हवाले करने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योजना पर पानी फेरा है और मोदी सरकार को कृषि विरोधी तीनों कानून वापस करने के लिए बाध्य किया है।

श्री खड़गे ने यहां समराला में किसानों को संबोधित करते हुए कहा,"मैं पंजाब के किसानों को बधाई देता हूं जिन्होंने तीन काले कृषि कानूनों के खिलाफ लड़ाई शुरू की। एक तय तरीक़े से किसानों को ख़त्म करने की साज़िश रची जा रही है। देश के किसानों की खेती को चंद कारपोरेट्स के हवाले करने का प्लान तैयार था। लेकिन आप लोगों के आंदोलन ने किसानी को बचा लिया।"

उन्होंने कहा कि आज़ादी के बाद किसी सरकार ने पहली बार हर किसान पर 25,000 रुपये प्रति हेक्टेयर टैक्स लगाया। प्रधानमंत्री 'फसल बीमा योजना' को निजी बीमा कम्पनी की मुनाफा योजना' बनाया। वर्ष 2016 से 2022 के बीच बीमा कंपनियों ने 40,000 करोड़ रुपए कमाए।

कांग्रेस नेता ने कहा कि मोदी सरकार ने किसानों को लूटा है जबकि कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार ने 2004 से 2014 के बीच धान पर 135 प्रतिशत, मक्का पर 155 प्रतिशत, गेहूं पर 120 प्रतिशत और गन्ना पर 180 प्रतिशत एमएसपी बढ़ाया। इसके ठीक उलट मोदी सरकार ने 2014 से 2023 के बीच धान पर 50 प्रतिशत, मक्का पर 50 प्रतिशत, गेहूं पर 50 प्रतिशत और गन्ना पर 40 प्रतिशत एमएसपी बढ़ाया।

श्री खड़गे ने मोदी सरकार पर अमीरों को लाभ पहुंचाने का आरोप लगाया और कहा कि श्री मोदी सिर्फ़ अमीरों के लिए काम करते हैं। मालदरों के लिए काम करते हैं इसलिए ग़रीब और ग़रीब अमीर और अमीर बन रहा है। मोदी सरकार एक एक कर रोड, एयरपोर्ट बड़े बड़े अमीर लोगों को दे रहे हैं। मोदी यही चाहते हैं कि अमीर और अमीर तथा ग़रीब और ग़रीब बने इसलिए इस सरकार को उखाड़ फेंकना है और मनमोहन सिंह के समय की जैसी सरकार लानी है। उनका कहना था "संत रविदासजी ने कहा था कि ‘ऐसा चाहू राज मैं, जहां मिले सभी को अन्न,छोट-बड़े सब समान बसे, रविदास रहे प्रसन्न।’हम ऐसा राज चाहते हैं, जहां संविधान का शासन हो, लोकतंत्र हो।"

उन्होंने भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक दल (आरएसएस)पर भी हमला किया और कहा, "अंग्रेजों के जमाने में आरएसएस भाजपा के लोगों ने उनकी मदद की थी। गांधीजी के भारत छोड़ो आंदोलन में भी अंग्रेजों की मदद की। वो रोज़ उठाकर कांग्रेस और राहुल गांधी को गालियाँ देते हैं। जो व्यक्ति पद यात्रा निकालता है उसको भला बुरा कहते हैं। क्यों गाली देते हैं।"

कांग्रेस अध्यक्ष ने बेरोजगारी के चरम पर होने का आरोप लगाते हुए कहा कि मोदी सरकार खाली पड़े पदों को तक नहीं भर रही है। उन्होंने कहा, "30 लाख सरकारी पद ख़ाली पड़े हैं। इसमें से 15 लाख पद दलित, आदिवासी, अन्य पिछड़े वर्ग के लोगों को मिल जाते इसलिए वो ये भर्ती नहीं कर रहे।"

अभिनव,आशा

वार्ता

image