Wednesday, Sep 19 2018 | Time 11:29 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सिद्धार्थनगर: लेखपाल निलंबित
  • सड़क दुर्घटना में गर्भवती महिला सहित एक की मौत
  • रचनात्मक सोच विकसित कर राजनीतिक दल ढूंढे देश की समस्याओं का हल: हरिवंश सिंह
  • भाजपा शासन में तानाशाही बन गया पेशा : राहुल
  • इमरान सऊदी नेतृत्व के साथ द्विपक्षीय संबंधों पर करेंगे चर्चा
  • अगस्ता वेस्टलैंड: आरोपी मिशेल का भारत को किया जाएगा प्रत्यर्पण
  • ग्रामीण की पीट-पीटकर हत्या
  • बेगूसराय में 650 कार्टन शराब बरामद, चार गिरफ्तार
  • कटरीना की बहन इसाबेल करेगी बॉलीवुड में डेब्यू
  • कटरीना की बहन इसाबेल करेगी बॉलीवुड में डेब्यू
  • परिणीति हैं अर्जुन के लिये परफेक्ट दुल्हन !
  • परिणीति हैं अर्जुन के लिये परफेक्ट दुल्हन !
  • हाउसफुल 4 में डबल धमाल मचायेंगे अक्षय !
  • हाउसफुल 4 में डबल धमाल मचायेंगे अक्षय !
  • जौनपुर :आग में झुलसकर महिला की मौत
खेल Share

गैर वरीय मिलीमैन का शिकार हो गये फेडरर

गैर वरीय मिलीमैन का शिकार हो गये फेडरर

न्यूयार्क, 04 सितंबर (वार्ता) गर्मी, गैर वरीय जॉन मिलीमैन के अथक प्रयास और ढलती उम्र ने आखिर 20 बार के ग्रैंड स्लेम चैंपियन रोजर फेडरर को वर्ष के आखिरी ग्रैंड स्लेम यूएस ओपन के चौथे दौर में ही बाहर का रास्ता दिखा दिया।

37 साल के फेडरर को पुरूष एकल के चौथे दौर में मिलीमैन ने 3-6 7-5 7-6 7-6 से पराजित करते हुये क्वार्टरफाइनल में जगह बना ली। हालांकि स्विस मास्टर की हार से अधिक उनके हारने के तरीके को लेकर चर्चा हो रही है। फेडरर ने अपने शुरूआती तीन मैचों में एक भी सेट नहीं गंवाया है लेकिन आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी के सामने उन्होंने 77 बेजा भूलें और 10 डबल फाल्ट किये। वहीं पहले सर्व पर केवल 49 फीसदी अंक जीते।

पांच बार के यूएस ओपन चैंपियन फेडरर ने पहला सेट आसानी से जीता लेकिन विश्व में 55वें नंबर के मिलीमैन ने दूसरे सेट में पासा पलट दिया और तीसरे और चौथे सेट को टाईब्रेक में जीतते हुये तीन घंटे 34 मिनट में मुकाबला अपने नाम कर लिया। न्यूयार्क में भारी गर्मी और उच्च आद्रता को भी फेडरर ने उनके मैच में असहज होने की वजह बताया।

फेडरर ने कहा,“ न्यूयार्क में रात को बहुत गर्मी थी। यहां ऐसा मौसम था कि हवा ही नहीं थी और सांस लेना मुश्किल हो रहा था। मेरे साथ पहली बार ऐसा हुआ है। मिलीमैन ने मुझसे बेहतर तरीके से इन परिस्थितियों को संभाला। वह ब्रिसबेन से हैं जहां गर्मी बहुत होती है।”

ग्रास कोर्ट सत्र से पूर्व स्विटजरलैंड में फेडरर के साथ ट्रेनिंग कर चुके मिलीमैन ने भी दूसरी रैंक खिलाड़ी को हराने पर हैरानी जताई। उन्होंने कहा,“ मुझे विश्वास नहीं हो पा रहा है। मैं रोजर का बहुत सम्मान करता हूं और वह खेल में जो भी करते हैं। मेरे लिये वह हीरो हैं। उन्होंने निश्चित ही इस मैच में अपना सर्वश्रेष्ठ नहीं किया होगा लेकिन मैं अपनी जीत को स्वीकार करता हूं।”

 

More News

19 Sep 2018 | 9:33 AM

 Sharesee more..

हांगकांग को हराने में भारत के पसीने छूटे

19 Sep 2018 | 9:32 AM

 Sharesee more..

19 Sep 2018 | 1:14 AM

 Sharesee more..

19 Sep 2018 | 1:12 AM

 Sharesee more..

हांगकांग को हराने में भारत के पसीने छूटे

19 Sep 2018 | 1:06 AM

 Sharesee more..
image